CDS results 2019: बचपन से भारतीय सेना में जाना चाहती थी ओडिशा की अदिति, परीक्षा में किया टॉप

Rअदिति सीडीएस परीक्षा में अव्वल आने वाली ओडिशा की पहली महिला हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)
Rअदिति सीडीएस परीक्षा में अव्वल आने वाली ओडिशा की पहली महिला हैं. (प्रतीकात्मक तस्वीर)

अदिति सीडीएस परीक्षा में टॉप करने वाली ओडिशा की पहली महिला हैं और सैन्य अधिकारी के प्रशिक्षण के लिए चुनी गई हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 8, 2020, 3:03 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. ओडिशा में जन्मी अदिति परिडा ने संयुक्त रक्षा सेवा (सीडीएस) द्वितीय, 2019 की परीक्षा (महिला) में शीर्ष स्थान हासिल किया है. आधिकारिक सूत्रों ने यह जानकारी दी. कुल 241 उम्मीदवारों की मेधा सूची जारी की गई है. अदिति सीडीएस परीक्षा में टॉप करने वाली ओडिशा की पहली महिला हैं और सैन्य अधिकारी के प्रशिक्षण के लिए चुनी गई हैं. अदिति ने इस साल की गर्मियों में सिम्बायोसिस कॉलेज, पुणे से जन संचार में स्नातक की पढ़ाई पूरी की और वह अपने बैच 2017-2020 की टॉपर भी हैं.

अदिति परिदा भरतनाट्यम की अच्छी शास्त्रीय नृत्यांगना हैं
ज्ञान और कला का संयोजन रखने वाली अदिति परिदा ओडिसी और भरतनाट्यम की एक अच्छी शास्त्रीय नृत्यांगना भी हैं. भारतीय सेना के एक ब्रिगेडियर की बेटी, अदिति को भी 2016 में सेना स्कूलों के बीच राष्ट्रीय वाद-विवाद प्रतियोगिता की चैंपियन होने का श्रेय दिया जाता है. सूत्रों ने बताया कि वह एक बहुत अच्छी वॉलीबॉल खिलाड़ी है, और अपने विश्वविद्यालय का प्रतिनिधित्व किया है.

174 उम्मीदवार पुरूष वर्ग में, 67 महिला वर्ग में पास
प्रावीण्य सूची में 241 उम्मीदवार हैं . उनमें 174 ऐसे उम्मीदवार है जिन्होंने पुरूष वर्ग में लघु सेवा आयोग पाठ्यक्रम (गैर तकनीकी) के लिए चेन्नई की अधिकारी प्रशिक्षण अकादमी के लिए परीक्षा उत्तीर्ण की है . इसके अलावा 67 ऐसे उम्मीदवार हैं जिन्होंने महिला वर्ग में लघु सेवा आयोग पाठ्यक्रम (गैर तकनीकी) के लिए चेन्नई की अधिकारी प्रशिक्षण अकादमी के लिए परीक्षा उत्तीर्ण की है.



सीडीएस परीक्षा में अव्वल आने वाली ओडिशा की पहली महिला
अदिति सीडीएस परीक्षा में अव्वल आने वाली ओडिशा की पहली महिला हैं और उन्हें सैन्य अधिकारी के लिए चुना गया है. उन्होंने इसी वर्ष पुणे के सिम्बायोसिस कॉलेज से जनसंचार में स्नातक किया था और वह 2017-20 के अपने बैच में टॉपर भी हैं.

ये भी पढ़ें-
NEET स्टेट काउंसलिंग 2020: MBBS, BDS काउंसलिंग के लिए स्टेट-वाइज शेड्यूल चेक करें
CBSE CTET 2020: आज से बदल सकेंगे परीक्षा केंद्र, जनवरी में होगी परीक्षा, जानें डिटेल


बचपन से ही भारतीय सेना में जाना चाहती थी
अदिति ने कहा, मैं बचपन से ही भारतीय सेना में जाना चाहती थी. मेरी पैदाइश और पालन-पोषण एक सैन्य माहौल में हुआ क्योंकि मेरे पिता ब्रगेडियर के पद पर अपनी सेवा दे रहे हैं. भारत माता की सेवा करना मेरे जीवन का सपना था.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज