होम /न्यूज /education /CLAT Exam: दिसंबर में होने वाले CLAT परीक्षा की कैसे करें तैयारी, जानें टिप्स

CLAT Exam: दिसंबर में होने वाले CLAT परीक्षा की कैसे करें तैयारी, जानें टिप्स

CLAT परीक्षा का ध्यान रखते हुए जरूरी सब्जेक्ट पर फोकस करें.

CLAT परीक्षा का ध्यान रखते हुए जरूरी सब्जेक्ट पर फोकस करें.

CLAT Exam: लॉ में इंट्रेस्ट रखने वाले स्टूडेंट के लिए यह महत्वपूर्ण परीक्षा है. ऐसे में परीक्षा के पहले हम कुछ ऐसी टिप् ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

(CLAT) “consortium of national law university” द्वारा आयोजित की जाने वाली राष्ट्रीय प्रवेश परीक्षा है.
इस टेस्ट को पास करने के बाद देश के प्रतिष्ठित संस्थान में एडमिशन ले सकते हैं.
यह परीक्षा बैचलर और मास्टर लॉ कोर्स में दाखिले के लिए होती है.

नई दिल्ली. CLAT Exam: दिसंबर में लॉ की रष्ट्रीय स्तर की परीक्षा क्लैट (CLAT) का आयोजन होना है. जो स्टूडेंट इस क्षेत्र में करियर बनाना चाहते हैं उनके लिए यह परीक्षा काफी मायने रखती है. इस एग्जाम को क्रैक करके अच्छे संस्थान से पढ़ाई का सपना देखने वाले कैंडिडेट रात दिन इसके लिए मेहनत करते हैं. इस टेस्ट में किसी भी तरह की कोई चूक न हो इसके लिए अभ्यर्थी न जाने कितनी तरह के प्रयास भी करते हैं. इस प्रयास को अगर और भी मजबूत बनाना चाहते हैं तो एक्सपर्ट द्वारा बताये गए कुछ एग्जामिनेशन टिप्स को याद रखना बेहद जरूरी है.

इस तरह प्रश्नों को करें तैयार
लॉ विषय के एक्सपर्ट का मानना है टाइम मैनेजमेंट करना बहुत जरूरी है. ताकि एग्जाम के समय में हड़बड़ाहट न हो. इस परीक्षा में 160 सवाल पूछे जाते हैं यदि अभ्यर्थी ने 120-130 प्रश्नों का एकदम सही जवाब दे दिया तो भी सफलता के अच्छे चांस बन सकते हैं. परीक्षा के आखिरी समय में अत्यधिक पढ़ाई करने से बचना चाहिए क्योंकि इससे कैंडिडेट पर एग्जाम का अतिरिक्त प्रेशर बन सकता है.

तैयारी के लिए इस समय करें ध्यान केंद्रित
परीक्षा के 1-2 महीने पहले अभ्यर्थी को पूरा ध्यान पढ़ाई पर केंद्रित करना चाहिए. इसके लिए ज्यादातर कैंडिडेट को रात की अपेक्षा दिन के समय पढ़ाई करनी चाहिए. दिन के समय मस्तिष्क त्वरित रूप से कार्य करता है. इस समय याद किया गया कोई भी विषय आसानी से याद रख सकते हैं. इस समय एक बार में लगातार 6 से 8 घंटे पढ़ने के बजाए 1-1 घंटे के छोटे- छोटे बैच में पढ़ाई करें. इससे सभी विषय का रिवीजन किया जा सकता है.

इस स्टडी मटेरियल पर करें फोकस
अभ्यर्थी क्लैट से संबंधित ऐसी किताबों को प्रीफरेंस दें जिनसे कम समय में अधिक तथ्यपरक व आसान तरीके से टॉपिक क्लियर हो सकें. इसके लिए कैंडिडेट कोचिंग एक्सपर्ट से मदद ले सकते हैं. अच्छी किताबों के लिए ऑनलाइन सर्च भी कर सकते हैं. मॉडल पेपर की भी कई सीरीज मार्केट में उपलब्ध हैं. सबको तो नहीं चुन सकते इसलिए ध्यान दें कौन सी सीरीज लास्ट टाइम में एग्जाम प्रिपरेशन के लिए बेस्ट साबित हो सकती हैं.

ये भी पढ़ें: 
PM Rojgar Mela 2022 : पीएम रोजगार मेले के लिए ऐसे करें रजिस्ट्रेशन, मिलेगी 10 लाख युवाओं को नौकरियां

RRB Group D Result 2022: आरआरबी ग्रुप डी परीक्षा के रिजल्ट पर बड़ा अपडेट, जानें कब तक हो सकता है जारी

अंतिम समय में नए विषय न चुनें
अंतिम समय में नए विषयों को चुनने की गलती बिल्कुल नहीं करें. क्योंकि आखिरी समय में नए विषय की तैयारी नहीं कर पाएंगे. इसलिए जिस भी विषय की तैयारी कर रहे हैं उसके विस्तृत तरह से कवर करें. परीक्षा के पहले तनाव लेना ठीक नहीं है. ऐसे में खुद पर भरोसा करें और सिर्फ पढ़ाई और एग्जाम पर फोकस करें.

पेपर लिखते समय ये जरूरी बातें
जो प्रश्न कन्फर्म तरह से आते हैं या जो प्रश्न आसान हों उन्हें पहले हल करें. उसके बाद उससे थोड़े टफ सवाल को हल करें. सबसे ज्यादा मुश्किल सवालों को सबसे आखिरी में सॉल्व करें ताकि समय और एनर्जी दोनों बच सकें. इससे एक फायदा यह होगा जो टाइम बचेगा इसमें जो सवाल नहीं आ रहा उसे लॉजिक के साथ हल कर सकते हैं.

इस समय रिवीजन है एकमात्र विकल्प
विषय के रिवीजन के लिए कुछ खास बातों का ध्यान रखें. बचे हुए समय में ज्यादा से ज्यादा मॉक टेस्ट दें. पिछले कुछ सालों के मॉडल पेपर और प्रश्न पत्रों को हल कर सकते हैं. इससे सवाल का अंदाज बेहतर तरह से हो जाएगा. इससे नए तरीके से पूछे गए सवालों का अंदाजा भी लग जाएगा.

Tags: Education, Exam news, Job and career

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें