कोरोनाः अलर्ट मोड पर यूपी सरकार, कक्षा 8 तक के स्कूल 24 से 31 मार्च तक रहेंगे बंद

कोरोना वायरस से बचाव को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उच्च स्तरीय बैठक बुलाकर दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं.

कोरोना वायरस से बचाव को लेकर मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने उच्च स्तरीय बैठक बुलाकर दिशा निर्देश जारी कर दिए हैं.

उत्तर प्रदेश में कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने सोमवार को उच्च स्तरीय बैठक में कई बड़े फैसले लिए. कक्षा एक से लेकर कक्षा 8 तक के स्कूलों को 24 से 31 मार्च तक बंद करने का निर्णय लिया गया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 23, 2021, 8:00 AM IST
  • Share this:
लखनऊ. उत्तर प्रदेश ( Uttar Pradesh) में लगातार कोरोना संक्रमण के मामलों के बढऩे से उत्तर प्रदेश सरकार अलर्ड मोड पर आ गई है. मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ (Yogi Adityanath) ने सोमवार को उच्च स्तरीय बैठक बुलाई और कई बड़े फैसले लिए. बैठक में कहा गया कि कक्षा एक से 8 तक के सभी परिषदीय एवं निजी विद्यालयों में 24 से 31 मार्च, 2021 को बंद करने का फैसला लिया गया. पूर्व निर्धारित परीक्षाओं को कोविड प्रोटोकॉल का पूर्णत: पालन करते हुए सम्पन्न कराया जाएगा. पब्लिक एड्रेस सिस्टम का भरपूर उपयोग करते हुए लोगों को जागरूक किया जाए. इसके साथ ही जागरूकता के लिए प्रचार-प्रसार किया जाए ताकि लोग कोरोना गाइडलाइन का पालन करने में कोई लापरवाही न बरतें. मुख्यमंत्री ने होली पर कोरोना को लेकर विशेष तौर पर सतर्क रहने को कहा है.

मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने होली के दौरान पर अवैध शराब को लेकर भी कड़े निर्देश जारी किए. उन्होंने कहा कि कहीं भी अवैध शराब का धंधा करने वाले लोगों को बचना नहीं चाहिए. अवैध शराब के धंधे में जो भी लिप्त पाया जाए उस पर सख्त कार्रवाई की जाए. उन्होंने पुलिस के अधिकारियों को इस पर अभियान चलाकर कार्रवाई करने को कहा है. मुख्यमंत्री ने कहा कि होली और आने वाले पर्वों पर कोरोना संक्रमण का खतरा अधिक है. पंचायत चुनाव भी आ रहे हैं ऐसे में विशेष सतर्कता बरती जानी चाहिए. विभिन्न राज्यों में कोविड संक्रमण के बढऩे की स्थिति के दृष्टिगत पूरे प्रदेश में विशेष सतर्कता और सावधानी बरतने के निर्देश दे दिए गए हैं.

ये भी पढ़ें - 

SSC GD Constable 2021: एसएससी जीडी कॉन्स्टेबल भर्ती आवेदन से पहले जान लें ये 12 जरूरी बातें
Teacher Jobs 2021: प्रशिक्षित स्नातक शिक्षकों के 12 हजार पदों पर भर्तियां, करें आवेदन

बैठक में कहा गया कि कोरोना से बचाव व उपचार की व्यवस्थाओं को सुदृढ़ करते हुए संक्रमण की स्थिति को रोकने के सभी उपाय सुनिश्चित किए जाएं. ग्रामीण क्षेत्रों में प्रत्येक ग्राम पंचायत स्तर पर तथा शहरों में वॉर्ड स्तर पर नोडल अधिकारी या कर्मचारी की तैनाती किए जाने के निर्देश दिए गए हैं. बैठक में प्रत्येक जनपद में एक-एक डेडीकेटेड कोविड हॉस्पिटल की उपलब्धता सुनिश्चित करने के भी निर्देश दिए गए हैं.

बैठक में बिना स्थानीय प्रशासन की पूर्वानुमति के कोई भी जुलूस तथा कार्यक्रम या सार्वजनिक समारोह आयोजित न किए जाएंगे. ऐसे आयोजनों से पूर्व प्रशासनिक मंजूरी लेना जरूरी कर दी गई है. कोविड वैक्सीनेशन का कार्य पूरी प्रतिबद्धता के साथ किया जाए. बैठक में इण्टीग्रेटेड कमाण्ड एण्ड कण्ट्रोल सेण्टर में प्रतिदिन कोविड-19 सम्बन्धी समीक्षाएं अधिकारियों द्वारा सुनिश्चित किए जाने के निर्देश दिए गए.

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज