• Home
  • »
  • News
  • »
  • education
  • »
  • CTET 2021: जुलाई सत्र की डेट्स का इंतजार, जानें सिलेबस, शैक्षणिक योग्यता और एग्जाम पैटर्न

CTET 2021: जुलाई सत्र की डेट्स का इंतजार, जानें सिलेबस, शैक्षणिक योग्यता और एग्जाम पैटर्न

सीटीईटी की परीक्षा साल में दो बार- नवंबर और जुलाई में आयोजित होती है.

सीटीईटी की परीक्षा साल में दो बार- नवंबर और जुलाई में आयोजित होती है.

सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (Central Board of Secondary Education, CBSE) ने सीटेट (Central Teacher Eligibility Test, CTET) परीक्षा की वैलिडिटी सात साल के बजाय आजीवन कर दी है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. सेंट्रल बोर्ड ऑफ स्कूल एजुकेशन (सीबीएसई) जल्द ही सेंट्रल टीचर्स एलिजिबिलिटी टेस्ट (सीटीईटी) के जुलाई सत्र की तारीखें जारी कर सकता है. सीटीईटी 2021 परीक्षा पास करने वाले उम्मीदवारों को eligibility certificate पत्र दिया जाएगा जिसके माध्यम से वे प्राथमिक, नवोदय, केंद्रीय विद्यालय, डीएवी स्कूलों, सीबीएसई से संबद्ध निजी स्कूलों में शिक्षक पदों के लिए आवेदन कर सकेंगे. यहां समझें एग्जाम पैटर्न (exam pattern), मार्किंग स्कीम (marking scheme), और सिलेबस (syllabus).

    उम्मीदवारों को सलाह दी जाती है कि वे सीटीईटी परीक्षा 2021 (CTET exam 2021) के नवीनतम अपडेट के लिए बोर्ड की आधिकारिक वेबसाइट ctet.nic.in पर नज़र रखें. इस परीक्षा का आयोजन साल में दो बार किया जाता है. पहला जुलाई और दूसरा नवंबर में.

    शैक्षणिक योग्यता
    जिन उम्मीदवारों ने किसी भी मान्यता प्राप्त विश्वविद्यालय से स्नातकोत्तर की पढ़ाई पूरी कर ली है, वे सीटीईटी के लिए आवेदन कर सकते हैं. पीजी डिग्री कोर्स के अंतिम वर्ष की परीक्षा में बैठने वाले उम्मीदवार भी सीटीईटी के लिए आवेदन करने के पात्र होंगे.

    पेपर 1- सीटीईटी के पेपर- 1 की परीक्षा के लिए अभ्यर्थी का न्यूनतम 50% अंकों के साथ 12वीं पास होना चाहिए. साथ ही दो साल का डिप्लोमा भी जरूरी है.
    पेपर 2- किसी भी विषय में ग्रेजुएट होने के साथ प्रारंभिक शिक्षा में 2 साल का डिप्लोमा होना चाहिए.

    पहले, दूसरे पेपर में सफल होने वाले
    सीटेट पहले पेपर में सफल होने वाले कैंडीडेट्स को पहली से पांचवी कक्षा के लिए टीचर्स के रिक्रूटमेंट के लिए योग्य माने जाते हैं. जबकि दूसरे पेपर में सफल होने वाले कैंडीडेट्स को 6ठीं से 8वीं कक्षा के लिए योग्य माना जाता है.

    सीटीईटी पास करने के बाद कहां बन सकते हैं शिक्षक
    सीटीईटी 2021 पास करने के बाद अभ्यर्थी नवोदय स्कूल, केंद्रीय विद्यालय, सीबीएसई से संबद्ध निजी स्कूलों आदि में शिक्षकों के पदों के लिए आवेदन कर सकते हैं. पेपर 1 में पास होने वाले अभ्यर्थी कक्षा 1 से 5वीं तक शिक्षकों के पदों के लिए आवेदन कर सकते हैं. पेपर 2 में पास होने वाले कक्षा 6 से 8वीं तक के शिक्षकों के पदों के लिए आवेदन करने के लिए योग्य होंगे.

    सीटीईटी का पेपर पैटर्न और सिलेबस (पेपर-1)
    बाल विकास एवं शिक्षा शास्त्र- 30 प्रश्न
    भाषा-1 (अनिवार्य)- 30 प्रश्न
    भाषा-2 (अनिवार्य)- 30 प्रश्न
    गणित- 30 प्रश्न
    पर्यावरण अध्ययन- 30 प्रश्न

    सीटीईटी का पेपर पैटर्न और सिलेबस (पेपर-2)
    बाल विकास एवं शिक्षा शास्त्र- 30 प्रश्न
    भाषा- 1 अनिवार्य- 30 प्रश्न
    भाषा-2 अनिवार्य- 30 प्रश्न
    गणित और विज्ञान या सामाजिक विज्ञान- 60 अंक
    कुल 150 प्रश्न
    कुल अंक- 150

    परीक्षा का समय- 150 मिनट
    कुल अंक- 150
    कुल प्रश्न- 150

    परीक्षा की वैलिडिटी
    सेंट्रल बोर्ड ऑफ सेकेंडरी एजुकेशन (Central Board of Secondary Education, CBSE) ने सीटेट (Central Teacher Eligibility Test, CTET) परीक्षा की वैलिडिटी सात साल के बजाय आजीवन कर दी है.

    ये भी पढ़ें-
    UPSC EPFO Exam date 2021: 5 सितंबर को होगी EPFO की परीक्षा, पढ़ें क्या है नया नोटि‍फिकेशन
    SSC GD Constable Recruitment update: नोटिफिकेशन से लेकर आवेदन प्रक्रिया तक, पूरी जानकारी एक क्लिक में

    CTET 2021: महत्‍वपूर्ण हैं ये टॉप‍िक्‍स
    1-बाल विकास और उसके सीखने के संबंध
    2- शिक्षा अधिनियम से संबंधित प्रश्न
    3- आनुवंशिकता और पर्यावरण का प्रभाव
    4- समाजीकरण की प्रक्रिया
    5- व्यक्तिगत मतभेद
    6- आकलन और मूल्यांकन
    7- समावेशी शिक्षा की अवधारणा
    8- विशेष रूप से अभिभूत शिक्षार्थियों
    9- सिद्धांतों से संबंधित प्रश्न
    10- अनुभूति और भावनाएं
    11- प्रेरणा और सीख
    12- शिक्षण और सीखने की प्रक्रियाएं
    13- शिक्षाशास्त्र के मुद्दे
    14- व्यावहारिक प्रश्न

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज