• Home
  • »
  • News
  • »
  • education
  • »
  • Part Time PhD : गोरखपुर विवि से अब कर सकेंगे पार्ट टाइम पीएचडी !

Part Time PhD : गोरखपुर विवि से अब कर सकेंगे पार्ट टाइम पीएचडी !

Part Time PhD : पार्ट टाइम पीएचडी कम से कम चार साल और अधिकतम आठ साल की होगी.

Part Time PhD : पार्ट टाइम पीएचडी कम से कम चार साल और अधिकतम आठ साल की होगी.

Part Time PhD : दीन दयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय ने पीएचडी कोर्स को लेकर दो अहम फैसले लिए हैं. पहला फैसला पार्ट टाइम पीएचडी और दूसरा डिग्री कॉलेज के ग्रेजुएट शिक्षक भी रिसर्च करा सकेंगे.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. Part Time PhD : दीन दयाल उपाध्याय गोरखपुर विश्वविद्यालय से अब पार्ट टाइम पीएचडी भी की जा सकेगी. पार्ट टाइम पीएचडी गोरखपुर विवि से संबद्ध महाविद्यलयों से भी होगी. शनिवार को इस फैसले पर विवि की विद्या परिषद ने मुहर लगा दी. अब इस प्रस्ताव को विवि के कार्य परिषद के सामने रखा जाएगा. इससे भी मंजूरी मिलने की उम्मीद है. इसके अलावा डिग्री कॉलेज के ग्रेजुएट शिक्षक भी सुपरवाइजर बनकर रिसर्च करा सकेंगे.

    रिपोर्ट के अनुसार रिसर्च डिग्री कमेटी ने शोध अध्यादेश में संधोशन का प्रस्ताव विद्या परिषद के समक्ष रखा था. इस पर भी मुहर लग गई है. रिपोर्ट के अनुसार पार्ट टाइम पीएचडी के लिए आठ साल की समय सीमा तय की गई है. जबकि न्यूनतम समय सीमा चार साल है. पीएचडी के कोर्स वर्क के लिए अभ्यर्थी को अवकाश मिलेगा लेकिन पार्ट टाइम पीएचडी के लिए स्कॉलरशिप नहीं मिलेगी. पार्ट टाइम पीएचडी में एनरोलमेंट के समय अपनी संस्था के एचओडी से एनओसी लेना होगा. रिपोर्ट के अनुसार, पार्ट टाइम पीएचडी कोर्स के लिए विश्वविद्यालय के शिक्षक, अधिकारी और कर्मचारियों के लिए चार सीटें आरक्षित रहेंगी. इसमें समें से दो सीट सामान्य, एक ओबीसी और एक एससी के लिए आरक्षित रहेगी.

    विवि से पीजी किए होने पर मिलेगा वेटेज

    गोरखपुर विश्वविद्यालय से ही पीजी किए होने पर पीएचडी में प्रवेश के लिए दो फीसदी का वेटेज मिलेगा. ऐसा पहली बार होगा. इसी तरह नेशनल एलिजिबिलिटी टेस्ट (नेट), ग्रेजुएट एप्टीट्यूड टेस्ट इन इंजीनियरिंग (गेट),  स्टेट लेवल एंट्रेंस टेस्ट (स्लेट) में सफल अभ्यर्थियों को पांच फीसदी का वेटेज मिलेगा.

    ये भी पढ़ें

    Rajasthan BSTC Pre D.El.Ed Result 2021: राजस्थान प्री डीएलएड का रिजल्ट जारी, अब आगे क्या? जानें पूरी प्रक्रिया
    DU Admissions 2021: 90% से कम अंक लाने वाले छात्र इन कोर्सेज में ले सकते हैं एडमिशन, चेक करें

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज