प्राइमरी टीचर भर्ती परीक्षा: जातिगत सवाल पूछने पर FIR के आदेश

प्राइमरी टीचर भर्ती परीक्षा मामले में DSSSB के खिलाफ FIR दर्ज करने के आदेश

प्राइमरी टीचर भर्ती परीक्षा में जातिगत सवाल पूछने पर कोर्ट ने दिल्ली अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड (DSSSB) के खिलाफ FIR दर्ज करने के आदेश दिए हैं.

  • Share this:
दिल्ली की कड़कड़डूमा कोर्ट ने प्राइमरी टीचर परीक्षा में जातिगत सवाल पूछने के मामले में दिल्ली अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड (DSSSB) के खिलाफ FIR दर्ज करने के आदेश दिए हैं. प्राइमरी टीचर भर्ती के लिए आयोजित परीक्षा में जातिगत प्रश्न पूछे गए थे.

ये है पूरा मामला
वर्ष 2018 और 2019 में प्राइमरी टीचरों की भर्ती के लिए डीएसएसएसबी ने परीक्षाएं आयोजित की थी. आरोप है कि इस दौरान प्रश्न पत्र में अनुसूचित जाति और जनजाति से जुड़े कुछ ऐसे सवाल पूछे गए थे, जो अपमानजनक थे. 'दिल्ली अधीनस्थ सेवा चयन बोर्ड' (DSSSB) ने शिक्षकों की भर्ती के लिए 13 अक्टूबर 2018 को लिखित परीक्षा का आयोजन किया था. इस परीक्षा में जातिगत सवाल पूछे जाने पर सवाल उठा
इस परीक्षा में "हिंदी भाषा और बोध" सेक्शन में सवाल पूछा गया था कि अगर पंडित की पत्नी को पंडिताइन कहते हैं तो अनुसूचित जाति (SC) के लिए इस्तेमाल होने वाले शब्द के अपोजिट पत्नी को क्या कहा जाएगा? जिसके बाद डीएसएसएसबी के चेयरमैन के खिलाफ एफआईआर दर्ज कराने की मांग को लेकर कोर्ट में एक याचिका लगाई गई थी. जिसकी सुनवाई करते हुए कोर्ट ने DSSSB के खिलाफ FIR दर्ज करने के आ​देश दिए हैं.

ये भी पढ़ें
Sarkari naukri: स्नातक पास के लिए सरकारी नौकरियां, एक लाख से अधिक सैलेरी
Nursery Admission 2021: इन दस्तावेजों के बिना नहीं मिलेगा दाखिला

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.