Home /News /education /

दिल्ली: 9वीं से 12वीं के लिए स्कूल और JNU कैंपस में कक्षाएं शुरू

दिल्ली: 9वीं से 12वीं के लिए स्कूल और JNU कैंपस में कक्षाएं शुरू

कोविड-19 की तीसरी लहर के चलते 28 दिसंबर से स्कूल फिर से बंद कर दिए गए थे.

कोविड-19 की तीसरी लहर के चलते 28 दिसंबर से स्कूल फिर से बंद कर दिए गए थे.

Delhi schools classes: दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्विटर पर विभिन्न स्कूलों में बच्चों के स्वागत की कुछ तस्वीरें भी साझा कीं. केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘‘बच्चों को वापस स्कूल में देखकर बहुत ख़ुशी हो रही है. बच्चे भी बेचारे परेशान हो गए. भगवान ना करे अब दोबारा स्कूल बंद करने की ज़रूरत पड़े. ’’

अधिक पढ़ें ...

    School Reopen: राष्ट्रीय राजधानी में कोविड-19 की तीसरी लहर के प्रकोप के बाद से बंद अधिकतर स्कूल सोमवार को नौंवी से 12वीं कक्षा के छात्रों के लिए फिर से खुल गए. कोविड-19 के मामले कम होने के मद्देनजर दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) ने सात फरवरी से नौंवी से 12वीं कक्षा के छात्रों के लिए स्कूलों के साथ-साथ उच्च शैक्षणिक संस्थानों और ‘कोचिंग सेंटर’ को फिर से खोलने का शुक्रवार को फैसला किया था. इसके साथ ही 14 फरवरी से नर्सरी से आठवीं तक की कक्षाएं फिर से शुरू करने का भी फैसला किया गया है.

    राष्ट्रीय राजधानी में सुबह-सुबह बच्चे मास्क पहने स्कूल जाते नजर आए. एक निजी स्कूल में एहतियाती तौर पर बच्चों के बस्तों को रोगाणुमुक्त भी किया गया. दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने ट्विटर पर विभिन्न स्कूलों में बच्चों के स्वागत की कुछ तस्वीरें भी साझा कीं. केजरीवाल ने ट्वीट किया, ‘‘बच्चों को वापस स्कूल में देखकर बहुत ख़ुशी हो रही है. बच्चे भी बेचारे परेशान हो गए. भगवान ना करे अब दोबारा स्कूल बंद करने की ज़रूरत पड़े. ’’

    दिल्ली के उपमुख्यमंत्री मनीष सिसोदिया ने कुछ स्कूलों का दौरा किया और वहां छात्रों से बातचीत की. उन्होंने ट्वीट किया, ‘‘ दिल्ली के स्कूल आखिरकार खुल गए हैं. बच्चों की वापसी के साथ स्कूलों में रौनक लौट आई है. ’’ इस बीच, कुछ निजी स्कूल सोमवार को नहीं खुलें.

    एक निजी स्कूल की उप प्रधानाचार्य ने कहा, ‘‘हमने स्कूल नहीं खोले, क्योंकि अभी कुछ काम बाकी हैं. बोर्ड की कक्षाओं की परीक्षाएं नजदीक हैं और इसलिए छात्रों की उपस्थिति कम ही रहेगी. छात्रों को परिवहन सुविधा मुहैया कराना भी एक समस्या है, इसलिए हम अब भी इस पर काम कर रहे हैं. हम दो दिन में इसका हल निकाल लेंगे. ’’

    कोविड-19 के प्रकोप के कारण लंबे समय तक बंद रहने के बाद स्कूलों को पिछले साल कुछ दिनों के लिए ही खोला जा सका था. कोरोना वायरस के ‘ओमीक्रोन’ स्वरूप के कारण आई कोविड-19 की तीसरी लहर के चलते 28 दिसंबर से स्कूल फिर से बंद कर दिए गए थे.

    केन्द्र ने अपने दिशानिर्देशों से छात्रों के स्कूल परिसर में कक्षाएं लेने के लिए माता-पिता की सहमति की अनिवार्यता को हटा दिया है और इसे राज्यों पर छोड़ दिया है. दिल्ली सरकार ने अब भी इस नियम को जारी रखा है. स्कूलों में 50 प्रतिशत छात्र संख्या की कोई सीमा नहीं है और स्कूल अपने बुनियादी ढांचे के आधार पर छात्रों की संख्या तय करने के लिए स्वतंत्र हैं, ताकि कोविड-19 संबंधी दिशानिर्देशों का पालन किया जा सके.

    शहर में सोमवार से कॉलेज भी खुलें, क्योंकि डीडीएमए ने ऑनलाइन कक्षाएं बंद करने का फैसला किया है. दिल्ली सरकार द्वारा संचालित गुरु गोबिंद सिंह इंद्रप्रस्थ विश्वविद्यालय और जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय (जेएनयू) की कक्षाएं सोमवार से परिसर में शुरू हो गईं, जबकि दिल्ली विश्वविद्यालय की अब भी ‘ऑनलाइन’ कक्षाएं जारी हैं.

    ये भी पढ़ें-
    CISCE Term 1 Result: रिजल्ट से असंतुष्ट होने पर दोबारा करवा सकते हैं चेक, देने होंगे इतने रुपये
    Study Tips: जोर-जोर से पढ़ें हर विषय के चैप्टर, लंबे समय तक याद रहेंगी चीजें

    Tags: Delhi School, Delhi School Reopen

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर