कोरोना से पेरेंट्स को खोने वाले छात्रों की फीस माफ कर सकती है दिल्ली यूनिवर्सिटी: सूत्र

इससे पहले ये मांग की गई थी कि मृतक शिक्षकों के परिवार को 3-3 करोड़ रुपए की आर्थिक सहायता राशि मुहैया कराई जाए.

इससे पहले ये मांग की गई थी कि मृतक शिक्षकों के परिवार को 3-3 करोड़ रुपए की आर्थिक सहायता राशि मुहैया कराई जाए.

दिल्ली यूनिवर्सिटी के मुताबिक तमाम कालेजों से कोरोना के चलते अपने माँ बाप को खो चुके छात्रों का डेटा माँगा गया है, इसके लिए तमाम कॉलेजों को एक हफ़्ते का समय दिया गया है.

  • Share this:

नई दिल्ली. वो छात्र जो कोरोना के चलते अपने माँ बाप को खो चुके हैं उन्हें दिल्ली यूनिवर्सिटी फ़ीस में छूट दे सकती है. इस पर विचार चल रहा है. दिल्ली यूनिवर्सिटी के मुताबिक तमाम कालेजों से ऐसा डेटा माँगा गया है, इसके लिए तमाम कॉलेजों को एक हफ़्ते का समय दिया गया है. ये जानकारी न्यूज18 को  सूत्रों के हवाले से मिली है. इस बारे में खबर लिखे जाने तक दिल्ली यूनिवर्सिटी की ओर से कोई सूचना जारी नहीं की गई है.

इसके अलावा दिल्ली विश्वविद्यालय इस साल छात्रों को मेरिट के आधार पर प्रवेश देने जा रहा है. यह निर्णय सीबीएसई 12वीं की बोर्ड 2021 रद्द करने के बाद लिया गया. DU के दाखिला की प्रक्रिया 15 जुलाई के आस पास शुरू होगी, रजिस्ट्रेशन शुरू होने के 15 दिन या एक महीने के बाद दाख़िला की प्रक्रिया शुरू करेंगे. एडमिशन की प्रक्रिया पिछले सालक की तरह online होगी.

ये भी पढ़ें-

यूपी मदरसा बोर्ड परीक्षा 2021: 8वीं तक की परीक्षाएं रद्द, देखें इवैल्यूएशन क्राइटेरिया
JMI Recruitment 2021: जामिया में प्रोफेसर के पदों पर नौकरियां, 30 जून तक करें आवेदन

DUCC के संयुक्त निदेशक प्रोफेसर संजीव सिंह ने कहा कि शिक्षा मंत्रालय द्वारा दिशा-निर्देश जारी करने के बाद विश्वविद्यालय CUCET के आधार पर छात्रों को प्रवेश दे सकता है. बता दें कि डीयू सामान्य परिस्थितियों में नौ स्नातक पाठ्यक्रमों में प्रवेश देने के लिए प्रवेश परीक्षा आयोजित करता है. परीक्षण राष्ट्रीय परीक्षण एजेंसी (NTA) द्वारा आयोजित किए जाते हैं.

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज