• Home
  • »
  • News
  • »
  • education
  • »
  • DU Admission 2021: दिल्ली विश्वविद्यालय में एडमिशन के लिए आवेदन आज से

DU Admission 2021: दिल्ली विश्वविद्यालय में एडमिशन के लिए आवेदन आज से

छात्र छात्राओं के दस्तावेजों का सत्यापन ऑनलाइन ही होगा. (सांकेतिक फोटो)

छात्र छात्राओं के दस्तावेजों का सत्यापन ऑनलाइन ही होगा. (सांकेतिक फोटो)

DU Admission 2021: दिल्ली विश्वविद्यालय (DU) ने शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए एडमिशन प्रक्रिया से सम्बंधित दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं. विश्वविद्यालय ने सभी पाठ्यक्रमों के एडमिशन फॉर्म अपने आधिकारिक वेबसाइट में उपलब्ध करा दिए हैं. 26 जुलाई से पीजी, एमफिल और पीएचडी में एडमिशन के आवेदन ऑनलाइन जमा किए जा सकेंगें.

  • Share this:
    DU Admission 2021: दिल्ली विश्वविद्यालय (DU) ने शैक्षणिक सत्र 2021-22 के लिए एडमिशन प्रक्रिया से सम्बंधित दिशा-निर्देश जारी कर दिए हैं. विश्वविद्यालय ने अंडरग्रेजुएट, पोस्टग्रेजुएट, एमफिल और पीएचडी समेत सभी पाठ्यक्रमों के एडमिशन फॉर्म अपने आधिकारिक वेबसाइट में उपलब्ध करा दिए हैं. 26 जुलाई से पीजी, एमफिल और पीएचडी में एडमिशन के आवेदन ऑनलाइन जमा किए जा सकेंगें. नामांकन कराने की आखिरी तारीख 21 अगस्त 2021 होगी. वहीं यूजी की नामांकन प्रक्रिया 02 अगस्त से 31 अगस्त तक चलेगी. इस वर्ष एडमिशन की पूरी प्रक्रिया ऑनलाइन रहेगी. एडमिशन से सम्बंधित अन्य किसी भी जानकारी के लिए du.ac.in पर विजिट करें.

    DU Admission 2021: नामांकन प्रक्रिया

    पिछले वर्ष की तरह इस वर्ष भी अंडरग्रेजुएट एडमिशन के लिए केन्द्रीकरण सिस्टम रहेगा. एक ही आवेदन से सभी कालेजों और विभागों के फॉर्म भरे जा सकेंगें. वहीँ पोस्ट-ग्रेजुएट एडमिशन में एक से ज्यादा पाठ्यक्रमों के लिए अप्लाई करने पर फॉर्म एक ही रहेगा, लेकिन नामांकन शुल्क अलग-अलग लगेगा. विश्वविद्यालय का कहना है की इस वर्ष वह एडमिशन प्रक्रिया को सरल बनाना चाहता है. जिससे छात्र नामांकन से लेकर फीस भरने तक सभी प्रक्रिया घर बैठे आसानी से पूरी कर सकें.

    DU Admission 2021: सीटों की कुल संख्या

    विश्वविद्यालय में अंडरग्रेजुएट की 65,000 और पोस्टग्रेजुएट की 20,000 सीट हैं. यूजी कोर्सेस में मेरिट के आधार पर एडमिशन होगा. उम्मीदवारों के एलिजिबिलिटी क्राइटेरिया में कोई बदलाव नहीं होगा. पहली कट ऑफ लिस्ट 7 से 10 सितम्बर के बीच जारी की जाएगी. इस वर्ष 9 की जगह 13 पाठ्यक्रमों के लिए प्रवेश परीक्षा होगी. इस वर्ष से जिन चार नए पाठ्यक्रमों में प्रवेश शुरू होगा, उनमें बैचलर इन फिजियोथेरेपी, बैचलर इन ऑक्यूपेशनल थेरेपी, बैचलर ऑफ प्रोस्थेटिक्स एंड ऑर्थोटिक्स और मास्टर्स ऑफ फिजियोथेरेपी शामिल हैं. पीजी पाठ्यक्रमों में एडमिशन के लिए DEUT टेस्ट देना होगा. वहीँ यूजी, एमफिल और पीएचडी की प्रवेश परीक्षा नेशनल टेस्टिंग एजेंसी (NTA) द्वारा आयोजित की जाएगी.

    DU Admission 2021: नामांकन शुल्क में नहीं होगा बदलाव

    हर कॉलेज कुल सीटों की 5 प्रतिशत सीट, स्पोर्ट्स कोटा और एक्स्ट्रा करीकुलर एक्टिविटीज के आधार पर भर सकते हैं. ऐसे उम्मीदवार जिन्होंने NET क्वालीफाई नहीं किया है, उन्हें भी पीजी पाठ्यक्रमों में प्रवेश के लिए DUET परीक्षा देनी होगी. मेरिट और प्रवेश परीक्षा आधारित एडमिशन के नामांकन शुल्क में कोई बदलाव नहीं होगा.

    यह भी पढ़ें-

    Sarkari Naukri: आरबीआई में कंसल्टेंट की वैकेंसी, जानें योग्यता व अन्य डिटेल

    Sarkari Naukri: भारतीय आयुर्विज्ञान अनुसंधान परिषद् में कई पदों पर भर्तियां

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज