• Home
  • »
  • News
  • »
  • education
  • »
  • हरियाणा: सबसे ऊंची पर्वत चोटियों पर चढ़ने वाले छात्र को मिलेगा 5 लाख का इनाम, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान

हरियाणा: सबसे ऊंची पर्वत चोटियों पर चढ़ने वाले छात्र को मिलेगा 5 लाख का इनाम, मुख्यमंत्री ने किया ऐलान

स्‍कूली छात्रों के लिये शुरू की यह नई योजना.

स्‍कूली छात्रों के लिये शुरू की यह नई योजना.

हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने गुरुवार को कहा कि राज्‍य के स्कूली छात्र, जो दुनिया की 10 सबसे ऊंची पर्वत चोटियों में से किसी भी एक पर चढ़ेंगे, उन्हें 5 लाख रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    चंडीगढ़. हरियाणा के मुख्यमंत्री मनोहर लाल खट्टर ने गुरुवार को कहा कि दुनिया की 10 सबसे ऊंची पर्वत चोटियों में से किसी एक पर चढ़ने वाले हरियाणा के स्कूली छात्रों को 5 लाख रुपये का नकद पुरस्कार दिया जाएगा. उन्होंने कहा कि प्रदेश के स्कूली बच्चों के लिए माउंटेनीरिंग की यूनिक योजना तैयार की जाएगी.

    इसके तहत 10 सबसे ऊंची पर्वत चोटियों में से किसी एक पर चढ़ने वाले छात्र को पांच लाख रुपये का नकद इनाम दिया जाएगा. एक आधिकारिक बयान में कहा गया कि मुख्यमंत्री ने यहां स्कूली बच्चों के माउंटेनीरिंग टीम को झंडी दिखाकर रवाना किया. उन्होंने कहा कि 75वें ‘आजादी का अमृत महोत्सव’ के हिस्से के रूप में राज्य के विभिन्न सरकारी स्कूलों के 75 छात्रों और शिक्षकों की एक टीम स्कूल शिक्षा विभाग और नेशनल एडवेंचर क्लब, चंडीगढ़ के सहयोग से माउंटेनीरिंग अभियान चलाएगी. यह टीम युनाम पर्वत तक जाएगी, जिसकी ऊंचाई 6,000 मीटर से अधिक है और हिमाचल प्रदेश के लाहौल क्षेत्र में पड़ता है.

    हरियाणा को स्पोर्ट्स हब के रूप में जाना जाता है. उन्होंने कहा कि हाल ही में हुए टोक्यो ओलंपिक और पैरालंपिक में राज्य के खिलाड़ियों ने सबसे ज्यादा पदक जीते हैं.

    अन्य खेलों की तर्ज पर माउंटेनीयरिंग के लिए भी योजना बनाई जाएगी. मुख्यमंत्री ने कहा कि वास्तव में जीवन केवल एकेडमिक नॉलेज तक ही सीमित नहीं है, क्योंकि एक्‍स्‍ट्रा करिकूलर एक्‍ट‍िविटी छात्रों को नए विचार जनरेट करने में मदद करती हैं और उनके ओवरऑल नॉलेज को भी बढ़ाती हैं.

    खट्टर ने कहा कि वह स्‍पेशल नीड वाले बच्चों के साहस की सराहना करते हैं, जो माउंटे‍नीयरिंग अभियान का हिस्सा हैं. उन्होंने कहा कि शिक्षकों के साथ ऐसे 25 छात्र भी इस टीम का हिस्सा हैं. मुख्यमंत्री ने कहा कि करनाल के सैनिक स्कूल कुंजपुरा के सहयोग से सबसे पहले साल 2016 में स्कूली स्तर पर छात्रों के लिए माउंटेनीयरिंग कार्यक्रम शुरू किया गया था.

    ये भी पढ़ें-
    Mid-Day Meal Scheme : मिड डे मील का नाम बदला, अब स्कूलों में होंगे कुकिंग कम्पीटीशन
    MPPEB DAHET Exam 2021: एमपी पशु पालन प्रवेश परीक्षा का शेड्यूल जारी, इस तारीख से कर सकेंगे आवेदन

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज