सरकारी स्कूल के बच्चों को घर पहुंचाई जाएंगी किताबें, आपदा प्रबंधन विभाग ने दी स्वीकृति

इसमें कोविड से संबंधित दिशा-निर्देशों का अनुपालन किया जाएगा. (सांकेतिक तस्वीर)

इसमें कोविड से संबंधित दिशा-निर्देशों का अनुपालन किया जाएगा. (सांकेतिक तस्वीर)

आपदा प्रबंधन विभाग की ओर से अनुमति मिलने के बाद स्कूली शिक्षा और साक्षरता विभाग फिर से पाठ्य पुस्तक वितरण का गाइडलाइन तैयार करने में जुट गया है. झारखंड शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद की ओर से इसकी तैयारी शुरू कर दी गई है.

  • Last Updated: June 2, 2021, 8:30 PM IST
  • Share this:

रांची. झारखंड कॉउंसिल फॉर एजुकेशन रिसर्च एंड ट्रेनिंग.ने अप्रैल में ही पाठ्य-पुस्तक वितरण का निर्देश जारी किया था, लेकिन 22 अप्रैल से स्वास्थ्य सुरक्षा सप्ताह के शुरू होने और इसके बढ़ने की वजह से किताबें बच्चों के बीच नहीं बांटी जा सकी थी. कुछ जगहों पर प्रखंड से स्कूलों तक किताबें पहुंची लेकिन अधिकांश जगहों में प्रखंडों में ही पाठ्य पुस्तकें हैं. अब ब्लॉक से सबसे पहले स्कूलों में किताबें आएंगी और उसके बाद सेट तैयार कर घर घर जाकर बच्चों के बीच इसे बांटा जाएगा. पाठ्य-पुस्तक बांटने में स्कूल के प्रधानाध्यापक या प्रभारी, शिक्षक, विद्यालय प्रबंध समिति, माता समिति के सदस्यों की अहम भूमिका होगी और उन्हें जिम्मेदारी दी जाएगी.

झारखंड सरकार के आपदा प्रबंधन विभाग ने स्कूली शिक्षा एवं साक्षरता विभाग को सरकारी स्कूलों में पढ़ने वाले कक्षा एक से दस के विद्यार्थियों को डोर टू डोर किताबें पहुंचाने की अनुमति दे दी है. इसके बाद विभाग ने सभी जिला शिक्षा पदाधिकारियों को इसकी जानकारी देते हुए बच्चों के घरों में पहुंचाने की व्यवस्था करने के निर्देश जारी कर दिए हैं. इसमें कोविड से संबंधित दिशा-निर्देशों का अनुपालन किया जाएगा.

आपदा प्रबंधन विभाग की ओर से अनुमति मिलने के बाद स्कूली शिक्षा और साक्षरता विभाग फिर से पाठ्य पुस्तक वितरण का गाइडलाइन तैयार करने में जुट गया है. झारखंड शैक्षिक अनुसंधान और प्रशिक्षण परिषद की ओर से इसकी तैयारी शुरू कर दी गई है. पहली से 8वीं तक के सभी नामांकित छात्र-छात्राओं और 9वी-10वीं की छात्राओं को निशुल्क पाठ्य पुस्तक का वितरण किया जाना है. पूर्व में जेसीईआरटी ने निर्देश दिया था कि बच्चे या उनके अभिभावक स्कूल से आकर ही किताबें ले जा सकते थे.

ये भी पढ़ें-
CBSE 12th Result: 12वीं की परीक्षा रद्द होने के बाद क्या? जानें पांच बड़े सवालों के जवाब

DU admission 2021: डीयू में साल 2021 के लिए दाखिले मेरिट के आधार पर

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज