इस राज्य ने तय की 10वीं-12वीं में एडमिशन के लिए अधिकतम उम्र की सीमा, जानें पूरा मामला

10वीं और 12वीं कक्षा के लिए अधिकतम उम्र को निर्धारित किया गया है
10वीं और 12वीं कक्षा के लिए अधिकतम उम्र को निर्धारित किया गया है

हरियाणा के राज्य शिक्षा बोर्ड ने 10वीं और 12वीं में रजिस्ट्रेशन के लिए अधिकतम उम्र सीमा को लेकर निर्देश जारी किया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: November 7, 2020, 1:31 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. हरियाणा बोर्ड (Haryana Board) ने 10वीं और 12वीं में एडमिशन के लिए अधिकतम आयु निर्धारित की है. इसके तहत 10वीं में प्रवेश के लिए 20 साल और 12वीं में प्रवेश के लिए 22 साल निर्धारित की गई है. इस आयु से बड़े आयु के लोग दाखिला की प्रक्रिया में रजिस्ट्रेशन नहीं कराया जा सकेगा. इसके लिए हरियाणा विद्यालय बोर्ड ने सरकारी और मान्यता प्राप्त निजी स्कूलों को नोटिफिकेशन जारी किया है. साथ ही नोटिफिकेशन में ये भी कहा गया है कि ऑनलाइन फॉर्म भरने के बाद परीक्षार्थियों के मूल रिकॉर्ड से मिलान कर लें ताकि किसी तरह की परेशानी का सामना न करना पड़े.

इसके अलावा स्कूलों को अन्य निर्देश भी जारी किए गए हैं जो कि नीचे दिए गए हैं-

- हरियाणा बोर्ड से मान्यता प्राप्त प्राइवेट स्कूलों के प्रधानाचार्य को दाखिल खारिज रजिस्टर पर शिक्षा अधिकारियों के साइन कराना जरूरी है.



- अनुसूचित जाति के परीक्षार्थियों से शुल्क नहीं लिया जाएगा लेकिन माइग्रेशन सर्टिफिकेट और प्रैक्टिकल फीस ली जाएगी.
- जिन स्टूडेंट्स का नाम अप्लीकेशन फॉर्म भरने से पहले ही स्कूल से कट चुका है उनके आवेदन फॉर्म नहीं भरे जाएंगे.

- स्टूडेंट्स की ओर से फॉर्म भरवाने के समय जाति श्रेणी के संबंध में चीजें स्पष्ट करनी होगी बाद में उसमें संशोधन नहीं किया जाएगा.

-स्कूल को आधार कार्ड में छात्र की नवीनतम फोटो अपडेट करनी होगी. इसकी जिम्मेदारी भी स्कूल की होगी.

- आवेदन प्रक्रिया समाप्त होने के बाद किसी भी सब्जेक्ट में संशोधन नहीं किया जाएगा.

- विद्यार्थियों से अतिरिक्त विषय का शुल्क लिया जाएगा.

विस्तार से निर्देशों को पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज