होम /न्यूज /education /

ग्रामीण क्षेत्र में भी है करियर की बेहतरीन संभावना, जानिए किस कोर्स से मिलेगी शानदार जॉब

ग्रामीण क्षेत्र में भी है करियर की बेहतरीन संभावना, जानिए किस कोर्स से मिलेगी शानदार जॉब

ग्रामीण क्षेत्र यानी रूरल मैनेजमेंट में भी अपना करियर बना सकते हैं.

ग्रामीण क्षेत्र यानी रूरल मैनेजमेंट में भी अपना करियर बना सकते हैं.

Education News: जिन लोगों को एग्रीकचर में दिलचस्पी है वो ग्रामीण क्षेत्र यानी रूरल मैनेजमेंट में भी अपना करियर बना सकते हैं. इस फील्ड में छात्रों को एक बेहतर करियर ऑप्शन आसानी से मिल सकता है.

    हाइलाइट्स

    देश की कुल जीडीपी में एग्रीकचर लगभग 55 फीसदी का हिस्सेदार है.
    जिसकी करीब 70 प्रतिशत आबादी गांवों में रहती है.
    ग्रामीण क्षेत्रों की तरक्की के लिए केंद्र सरकार ने अब रूलर मैनेजमेंट कोर्स की शुरुआत की है.

    नई दिल्ली. Education News: कुछ सालों पहले तक ग्रामीण भारत में विकास की रफ्तार काफी कम थी. जिसकी वजह से इन जगहों पर आर्थिक विकास भी बहुत प्रभावित हुआ. लेकिन अब ग्रामीण क्षेत्रों में आर्थिक और सामाजिक विकास को रफ्तार मिल चुकी है. जिसमे सबसे बड़ा रोल रूरल मैनेजमेंट प्रोफेशनल्स निभा रहे हैं.

    ग्रामीण क्षेत्रों की तरक्की के लिए केंद्र सरकार ने अब रूलर मैनेजमेंट कोर्स की शुरुआत की है. इसमें छात्रों को ख़ास तौर पर ग्रामीण विकास, निर्देशन, आयोजन, सहकारी कृषि व्यवसाय, वित्तीय संस्थाओं और संबद्ध क्षेत्रों के नियंत्रण की जानकारी दी जाती है. अगर कोई छात्र इस क्षेत्र में करियर बनाने में इच्छा रखता हो तो इससे जुड़े कोर्स की पूरी तरह जानकारी पढ़ लें.

    जॉब ऑप्‍शन
    इस फील्ड में छात्रों को बेहतर करियर ऑप्शन आसानी से मिल सकता है. इसमें सरकारी और प्राइवेट दोनों ही नौकरियां पा सकते हैं. जिसमे विश्लेषक, नीति निर्माता, मैनेजर, सलाहकार , शोधकर्ता, आदि के रूप में काम करने का मौका मिलता है. इस क्षेत्र में ख़ास तौर पर विकास की योजनाओं, गरीबी उन्मूलन, स्वास्थ्य सेवा और शिक्षा, मार्केटिंग, मानव संसाधन, प्रोजेक्ट इ्प्लिलमेंटेशन, सामान्य प्रबंधन, जैसे काम शामिल होते हैं.

    ये भी पढ़ें-
    हेल्थ विभाग में इन पदों पर निकली बंपर वैकेंसी, आज से आवेदन शुरू
    CBSE में इन पदों पर आवेदन करने की कल है आखिरी डेट, जल्द करें आवेदन

    ग्रामीण क्षेत्रों में काम करने वाले बैंक भी इसके लिए विशेषज्ञों को बतौर प्रबंधक के तौर पर नियुक्त करते हैं. इसके अलावा अंतरराष्ट्रीय और राष्‍ट्रीय एनजीओ के साथ मिलकर भी गांव में विकास के लिए काम करने का मौका मिलता है.

    सैलरी पैकेज
    कोर्स को पूरा करने के बाद कैंडिडेट्स ग्रामीण परिवेश में ही रहते हैं. इस दौरान वो किसी निजी कंपनी या संस्‍था के साथ जुड़कर काम करते हैं. इसमें शुरुआती सालाना पैकेज 4 से 5 लाख रुपये तक मिलता है. वहीं अगर आपने टॉप संस्थानों से कोर्स किया है तो यह सैलरी पैकेज बढ़ कर 8 से 10 लाख रुपये तक भी जा सकता है. वहीं सरकारी संस्‍थानों में पे स्‍केल के अनुसार सैलरी दी जाती है.

    Tags: Career, Career Guidance, Rural Development

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर