केरल की छात्रा को इस उपलब्धि के लिए मिला UAE का गोल्डन वीजा, देखें डिटेल

अल कासिमिया यूनिवर्सिटी में इस्लामी शरिया की पढ़ाई कर रहीं तसनीम अब यूएई में 2031 तक रह सकती हैं.

प्रतिभा का सम्मान : यूएई के शारजाह स्थित अल कासिमिया यूनिवर्सिटी में इस्लामिक शरीया की पढ़ाई कर रहीं भारत की तसनीम आलम को 10 वर्षीय गोल्डन वीजा मिला है. यह वीजा उन्हें असाधारण विद्यार्थी वर्ग में मिला है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. केरल की निवासी तसनीम आलम की प्रतिभा का सम्मान करते हुए संयुक्त अरब अमीरात ने गोल्ड वीजा दिया है. उन्हें यह वीजा असाधारण विद्यार्थी वर्ग में मिला है. खलीज टाइम्स के अनुसार, शारजाह स्थित अल कासिमिया यूनिवर्सिटी में इस्लामी शरिया की पढ़ाई कर रहीं तसनीम अब यूएई में 2031 तक रह सकती हैं. दरअसल, यूएई ने साल 2019 में दीर्घकालीन निवासी वीजा के लिए एक नई प्रणाली लागू की थी. जिसके बाद विदेशी लोग यूएई में बिना किसी राष्ट्रीय प्रायोजक की आवश्यकता के रहने, काम करने और पढ़ाई कर सकते हैं.

    ये गोल्डन वीजा पांच या 10 साल के लिए जारी किए जाते हैं और ऑटोमेटिकली रिन्यू हो जाते हैं. तसनीम आलम ने गोल्डन वीजा मिलने को अपनी जिंदगी के सबसे बेहतरीन पल में से एक बताया. वह अपनी कक्षा में प्रथम आई हैं. इस कक्षा में 72 देशों के छात्र पढ़ाई करते हैं.

    विशेष प्रतिभाओं को मिलता है गोल्डन वीजा 

    हाल ही में यह वीजा बॉलीवुड अभिनेता संजय दत्त को भी मिला है. संजय दत्त ने यह जानकारी ट्वीट करके दी थी. उन्होंने बताया था कि संयुक्त अरब अमीरात (UAE) ने गोल्डन वीज़ा दिया है. ऐसा वीज़ा हासिल करने वाले वह पहले भारतीय हैं. यही नहीं, उन्होंने इस ट्वीट में लिखा कि वह इस वीजा को पाकर सम्मानित महसूस कर रहे हैं. बता दें कि संजय दत्त को 10 साल वाला गोल्डन वीजा मिला है. इस वीजा के लिए एंटरप्रेन्योर के साथ विशेष प्रतिभा वाले व्यक्ति जैसे डॉक्टर, रिसर्चर, वैज्ञानिक और आर्टिस्ट भी अप्लाई कर सकते हैं. बता दें कि यूएई में एक्सपेक्टेशनल हाईस्कूल और विश्वविद्यालयों के छात्र यूएई का पांच वर्षीय रेजिडेंसी वीजा हासिल कर सकते हैं.

    ये भी पढ़ें- 

    CICSE ISC 12th Exam 2021: सीआईएससीई स्कूलों को बोर्ड को भेजने होगें 11वीं कक्षा के नंबर, जानें डिटेल

    RRB Group D Exam : ग्रुप डी भर्ती परीक्षा कब होगी, आरआरबी ने दी ये जानकारी