• Home
  • »
  • News
  • »
  • education
  • »
  • Jamia University की वाइस चांसलर राष्‍ट्रीय संचालन सम‍ित‍ि की मैंबर न‍ियुक्‍त, तीन साल का होगा कार्यकाल

Jamia University की वाइस चांसलर राष्‍ट्रीय संचालन सम‍ित‍ि की मैंबर न‍ियुक्‍त, तीन साल का होगा कार्यकाल

जामिया मिल्लिया इस्लामिया की वीसी प्रो.नजमा अख्तर को राष्ट्रीय संचालन समिति का सदस्य नियुक्त किया गया है.  (File Photo)

जामिया मिल्लिया इस्लामिया की वीसी प्रो.नजमा अख्तर को राष्ट्रीय संचालन समिति का सदस्य नियुक्त किया गया है. (File Photo)

National Steering Committee: श‍िक्षा मंत्रालय की ओर से नेशनल करिकुलम फ्रेमवर्क्‍स के लिए राष्ट्रीय संचालन समिति का गठन क‍िया गया है. अंतरिक्ष वैज्ञानिक और इसरो के पूर्व अध्यक्ष के. कस्तूरीरंगन की अध्यक्षता में 12 सदस्यीय समिति में जामिया मिल्लिया इस्लामिया (JMI) की कुलपति प्रो.नजमा अख्तर को भी कमेटी का सदस्य नियुक्त किया गया है. राष्ट्रीय संचालन समिति का कार्यकाल इसकी अधिसूचना की तारीख से तीन साल का होगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई द‍िल्‍ली. केंद्रीय श‍िक्षा मंत्रालय (Ministry of Education) की ओर से नेशनल करिकुलम फ्रेमवर्क्‍स के लिए राष्ट्रीय संचालन समिति (National Steering Committee) का गठन क‍िया गया है. अंतरिक्ष वैज्ञानिक और इसरो (ISRO) के पूर्व अध्यक्ष के. कस्तूरीरंगन की अध्यक्षता में 12 सदस्यीय समिति में जामिया मिल्लिया इस्लामिया (JMI) की कुलपति प्रो.नजमा अख्तर (Prof. Najma Akhtar) को भी कमेटी का सदस्य नियुक्त किया गया है. राष्ट्रीय संचालन समिति का कार्यकाल इसकी अधिसूचना की तारीख से तीन साल का होगा.

    बताया जाता है क‍ि इसरो के पूर्व अध्यक्ष के. कस्तूरीरंगन की अध्यक्षता में 12 सदस्यीय समिति चार राष्ट्रीय पाठ्यचर्या की रूपरेखा यानी स्कूली शिक्षा के लिए राष्ट्रीय पाठ्यचर्या की रूपरेखा, बाल्यावस्था देखभाल एवं शिक्षा के लिए राष्ट्रीय पाठ्यचर्या, शिक्षक शिक्षा के लिए राष्ट्रीय पाठ्यचर्या की रूपरेखा तथा राष्ट्रीय प्रौढ़ शिक्षा के लिए पाठ्यचर्या की रूपरेखा विकसित करेगी.

    ये भी पढ़ें: Delhi University : प्रो. योगेश सिंह बने दिल्ली विवि के नए वाइस चांसलर

    समिति पाठ्यक्रम सुधारों के प्रस्ताव के लिए इन चार क्षेत्रों से संबंधित एनईपी 2020 की सभी सिफारिशों को ध्यान में रखते हुए स्कूली शिक्षा, प्रारंभिक बाल्यावस्था देखभाल एवं शिक्षा (ईसीसीई), शिक्षक शिक्षा और प्रौढ़ शिक्षा के विभिन्न पहलुओं पर चर्चा करेगी. यह समिति उपरोक्त सभी चार क्षेत्रों के विभिन्न पहलुओं पर राष्ट्रीय फोकस समूहों द्वारा अंतिम रूप दिए गए पोजीशन पेपर्स पर चर्चा करेगी.

    इसके अलावा यह समिति नेशनल करिकुलम फ्रेमवर्क के लिए टेक प्लेटफॉर्म पर प्राप्त स्टेट करिकुलम फ्रेमवर्क से इनपुट प्राप्त करेगी. सभी राष्ट्रीय पाठ्यचर्या की रूपरेखा भविष्य से संबंधित क्षेत्रों पर कोविड-19 महामारी जैसी स्थितियों के निहितार्थ पर भी विचार करेगी. समिति विभिन्न हितधारकों, अर्थात राज्यों/संघ राज्य क्षेत्रों से प्राप्त सुझावों को शामिल करने और एनसीईआरटी की कार्यकारी समिति (EC) और शासी निकाय (GB) और शिक्षा पर केंद्रीय सलाहकार बोर्ड (CABE) की बैठकों में शामिल होने के बाद राष्ट्रीय पाठ्यचर्या की रूपरेखा को अंतिम रूप देगी.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज