Home /News /education /

JNU Circular : जेएनयू की इंटर्नल कमेटी ने छात्राओं को दी ऐसी सलाह, हो रहा विरोध

JNU Circular : जेएनयू की इंटर्नल कमेटी ने छात्राओं को दी ऐसी सलाह, हो रहा विरोध

JNU Circular : हैरेसमेंट के प्रति जागरूकता के लिए हर महीने काउंसलिंग सेशन होंगे.

JNU Circular : हैरेसमेंट के प्रति जागरूकता के लिए हर महीने काउंसलिंग सेशन होंगे.

JNU Circular : जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय इस बार छात्राओं को सेक्सुअल हैरेसमेंट से बचने के लिए दी गई सलाह के कारण चर्चा में है. यह सर्कुलर जेएनयू की इंटर्नल कंप्लेंट्स कमेटी की ओर से जारी किया है. इसमें छात्राओं को दी गई सलाह पर अधिकतर स्टूडेंट्स को आपत्ति है. कमेटी की इस सलाह पर यूनिर्वसिटी के आम स्टूडेंट्स से लेकर स्टूडेंट एसोसिएसन की अध्यक्ष तक हर किसी को एतराज है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. जवाहरलाल नेहरू विश्वविद्यालय अक्सर किसी न किसी वजह से सुर्खियों में रहता है. इस विश्वविद्यालय इंटर्नल कंप्लेंट्स कमेटी की ओर से छात्राओं को दी गई सलाह की वजह से चर्चा में है. इंटर्नल कमेटी ने एक नोटिस जारी करके छात्राओं से कहा है कि वे सेक्सुअल हैरेसमेंट से बचने के लिए पुरुष मित्रों के साथ दोस्ती में एक सीमा तय करें. वे पुरुष मित्रों से उचित दूरी बनाकर रखें और एक रेखा खींचें. इस नोटिस के जारी होते ही बवाल हो गया है. इसकी चौरफा जमकर निंदा हो रही है.

    कई स्टूडेंट्स का कहना है कि जिन पर अत्याचार होता है उन्हें ही अत्याचार से बचने की सलाह दी जा रही है बजाए इसके कि अत्याचार करने वाले पर लगाम लगाई जाती. कमेटी की इस सलाह पर यूनिर्वसिटी के आम स्टूडेंट्स से लेकर स्टूडेंट एसोसिएसन की अध्यक्ष तक हर किसी को एतराज है.

    जेएनयू की छात्राओं को हैरेसमेंट से बचने के लिए इंटर्नल कमेटी ने काउंसलिंग सेशन ऑफर किया है. कमेटी ने नोटिस में लिखा है- इंटर्नल कंप्लेंट्स कमेटी को ऐसी बहुत सी शिकायतें मिली हैं जिसमें शोषण नजदीकी मित्र द्वारा किया जाता है. लड़के कई बार (कभी जानबूझकर या कभी गलती से) दोस्ती में किए जाने वाले मजाक और सेक्सुअल हैरेसमेंट के बीच की बारीक रेखा पार कर जाते हैं. लड़कियों को भी हैरेसमेंट से बचने के लिए पुरुष मित्रों के बीच एक रेखा खींचनी चाहिए.

    हर महीने होगा काउंसलिंग सेशन

    जेएनयू की वेबसाइट पर अपलोड इंटर्नल कंप्लेंट्स कमेटी के सर्कुलर में कहा गया है कि सेक्सुअल हैरेसमेंट पर 17 जनवरी 2022 को काउंसलिंग सेशन का आयोजन होगा. इसमें कहा गया है कि इस तरह के सेशन हर महीने आयोजित किए जाएंगे. इसमें कहा गया है कि छात्रों को ओरिएंटेशन प्रोग्राम के दौरान सेक्सुअल हैरेसमेंट जैसी चीजों से बचने के लिए जरूरी सलाह प्रत्येक शैक्षणिक वर्ष की शुरुआत में दी जाती है. लेकिन सतर्क करने के लिए समय समय पर इस तरह के आयोजन होते रहने जरूरी हैं.

    ये भी पढ़ें

    BEL Recruitment 2022: केंद्र सरकार की इस कंपनी में निकली हैं नौकरियां, जानें डिटेल और जल्द करें आवेदन

    UPSC ESE Main 2021: इंजीनियरिंग सेवा परीक्षा मेन्स 2021 के लिए DAF जारी

    Tags: Education news, Jnu, Sexual Harassment

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर