कर्नाटक एसएसएलसी परीक्षा 2021 को रद्द कर सकती है राज्य सरकार

खबर लिखे जाने तक के अपडेट के मुताबिक,  कर्नाटक एसएसएलसी परीक्षा 2021 रद्द नहीं की गई है.

खबर लिखे जाने तक के अपडेट के मुताबिक, कर्नाटक एसएसएलसी परीक्षा 2021 रद्द नहीं की गई है.

यदि परीक्षा हुई तो परीक्षा के लिए 6000 से अधिक केंद्र आवंटित किए जाएंगे. एक डेस्क पर केवल 1 छात्र बैठेगा. इसके अलावा, सभी पर्यवेक्षकों या ड्यूटी पर मौजूद शिक्षकों को परीक्षा से पहले टीका लगाया जाएगा.

  • Share this:

नई दिल्ली. कर्नाटक बोर्ड एग्जाम 2021 के SSLC एग्जाम्स जुलाई के तीसरे हफ्ते से आयोजित किए जाने का ऐलान कर्नाटक के प्राइमरी और सेकंडरी एजुकेशन मंत्री के जरिए किया गया था. लेकिन इस ऐलान के तुरंत बाद मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा ने सफाई देते हुए कहा, कर्नाटक एसएसएलसी परीक्षा 2021 तभी आयोजित की जाएगी जब जुलाई तक स्थिति नियंत्रण में होगी.

कर्नाटक के सीएम ने आश्वासन दिया कि छात्रों और उनके अभिभावकों को परीक्षा की घोषणा से घबराने की जरूरत है. उन्होंने आश्वासन दिया कि कर्नाटक एसएसएलसी परीक्षा 2021 में बैठने वाला कोई भी छात्र फेल नहीं होगा. उन्होंने आगे कहा कि अगर यही स्थिति जुलाई 2021 तक बनी रहती है तो राज्य सरकार कक्षा 10 की परीक्षा रद्द कर सकती है.

मुख्यमंत्री ने कहा कि जब तक सकारात्मकता दर 5 प्रतिशत तक नहीं आती, तब तक राज्य सरकार चल रहे लॉकडाउन में ढील नहीं देगी. इसलिए, मौजूदा स्थिति को ध्यान में रखते हुए, यह संभावना है कि राज्य सरकार कर्नाटक एसएसएलसी परीक्षा 2021 को रद्द कर सकती है.

खबर लिखे जाने तक के अपडेट के मुताबिक,  कर्नाटक एसएसएलसी परीक्षा 2021 रद्द नहीं की गई है. कर्नाटक राज्य के शिक्षा मंत्री एस. सुरेश कुमार ने कहा कि एसएसएलसी 10वीं की परीक्षाएं जुलाई के तीसरे सप्ताह में आयोजित की जाएंगी. एसएसएलसी परीक्षाओं के लिए छात्रों को केवल दो पेपरों के लिए उपस्थित होना होगा.
ये भी पढ़ें -

Sarkari Naukri 2021: पंजाब में आंगनवाड़ी वर्कर के 4481 पदों पर भर्तियां, जानें डिटेल

UP Board Result 2021: ऐसे बनेगी 10वीं, 12वीं के छात्रों की मार्कशीट, देखें रिजल्‍ट की संभावित डेट



पहली भाषा की परीक्षा होगी जबकि दूसरा पेपर विज्ञान, गणित और सामाजिक विज्ञान पर बहुविकल्पीय परीक्षा होगी. वस्तुनिष्ठ पेपर 120 अंकों का होगा और प्रत्येक में 40 प्रश्न होंगे. परीक्षा के लिए 6000 से अधिक केंद्र आवंटित किए जाएंगे. एक डेस्क पर केवल 1 छात्र बैठेगा. इसके अलावा, सभी पर्यवेक्षकों या ड्यूटी पर मौजूद शिक्षकों को परीक्षा से पहले टीका लगाया जाएगा.

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज