होम /न्यूज /education /English Speaking Tips: फर्राटेदार अंग्रेजी बोलने के काम आएंगे ये टिप्स, आज से ही शुरू करें प्रैक्टिस

English Speaking Tips: फर्राटेदार अंग्रेजी बोलने के काम आएंगे ये टिप्स, आज से ही शुरू करें प्रैक्टिस

इन तरीकों से हो जाएंगे इंग्लिश में फ्लुएंट

इन तरीकों से हो जाएंगे इंग्लिश में फ्लुएंट

English Speaking Tips, Learn English: अंग्रेजी भाषा को ग्लोबल भाषा (Global Language) माना जाता है. ज्यादातर देशों में इ ...अधिक पढ़ें

    नई दिल्ली (English Speaking Tips). अपनी नेटिव या राष्ट्रीय भाषा के साथ ही अन्य भाषा का ज्ञान होने से पढ़ाई और करियर में ग्रोथ के खास मौके हासिल किए जा सकते हैं (Career Growth). इंग्लिश लैंग्वेज (English Language) को ग्लोबल यानी वैश्विक भाषा माना जाता है (Global Language). अधिकतर देशों के लोग इसी भाषा में बातचीत करते हैं. भारत में भी इंग्लिश लैंग्वेज को लेकर काफी जागरूकता देखी जाती है (Learn English Speaking Tips). लोग इस भाषा में एक्सपर्ट बनने के लिए अलग से कोचिंग तक लेते हैं.

    अगर आपके पास अपनी आम बोलचाल वाली भाषा के साथ ही अंग्रेजी भाषा का भी ज्ञान है तो आप करियर में एक खास मुकाम हासिल कर सकते हैं (Career Growth). कुछ लोग इंग्लिश भाषा बोल और समझ तो बहुत अच्छी तरह से लेते हैं लेकिन वे उसमें और ज्यादा फ्लुएंट होने की चाह रखते हैं. जानिए कुछ आसान टिप्स, जिनकी मदद से आप नेटिव अंग्रेजी बोलना सीख सकते हैं (Native English Speaking Tips).

    भाषा के एक्सेंट पर दें ध्यान
    इंग्लिश लैंग्‍वेज में मोटिवेशन, रिपीट करना और एक्सपोजर जैसी चीजें बहुत अहम भूमिका निभाती हैं. नेटिव स्पीकर्स के वाक्य और भावों को दोहराएं. उन्हें अपने रोजाना की बातचीत में इस्तेमाल करें. साथ ही ऐसे लोगों के साथ संपर्क बनाकर रखें, जिसकी नेटिव इंग्लिश पर अच्‍छी पकड़ हो. आप सोशल मीडिया की मदद से किसी विदेशी के संपर्क में रहकर उससे भी बातचीत कर सकते हैं. इससे आपकी झिझक खत्म हो जाएगी और आप फर्राटेदार अंग्रेजी बोलना भी सीख जाएंगे.

    ये भी पढ़ें:
    UP Board Exam 2022: इस दिन जारी हो सकती है यूपी बोर्ड परीक्षा की डेटशीट, तैयार रहें छात्र
    UPSC Exam: घर में रहकर भी बन सकते हैं IAS, आज से ही बना लें ऐसा शेड्यूल

    टेक्नोलॉजी से मिलेगी मदद
    इंग्लिश स्पीकिंग में सुधार के लिए टेक्‍नोलॉजी का इस्तेमाल भी किया जा सकता है (English Speaking Skills). इंग्लिश एक्सेंट, वाक्यांश और एक्सप्रेशन को रिकॉर्ड करने के लिए स्मार्टफोन की मदद लें. फिर दूसरी रिकॉर्डिंग के साथ उसकी तुलना करें, अपनी कमियों में सुधार करके फिर से रिकॉर्डिंग करें. साथ ही सोशल मीडिया पर नेटिव ट्यूटर्स के वीडियो देखें. इंग्लिश फिल्में और गाने देखें (English Songs), जिससे वहां का कल्चर समझ में आ सकें. नेटिव स्पीकर्स (Native Speakers) के एक्सप्रेशन और बातचीत की स्किल्स को याद करने के लिए म्यूजिक से काफी मदद मिलती है.

    नए शब्द जरूर सीखें
    इंग्लिश में अपनी पकड़ बनाने के लिए किसी भी नए इंग्लिश कंटेंट को सुनने के बाद उसे याद जरूर करें यानी समय-समय पर दोहराते रहें. जब भी इंग्लिश का टेस्ट, मॉक टेस्ट या एग्जाम दें तो ज्‍यादा से ज्‍यादा नई शब्दावली का इस्तेमाल करें. आप नए सीखे गए शब्दों को लिखकर, बोलकर और प्रैक्टिस करके अपनी रोजाना की बातचीत में यूज करते रहें.

    Tags: Career, English Learning, Job and growth, Language

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें