Maharashtra Board : महाराष्ट्र बोर्ड ने बॉम्बे हाईकोर्ट को बताया, कैसे पास होंगे 10वीं के छात्र

10वीं की परीक्षाएं रद्द किए जाने के फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दी गई है.

10वीं की परीक्षाएं रद्द किए जाने के फैसले को हाईकोर्ट में चुनौती दी गई है.

Maharashtra Board : महाराष्ट्र बोर्ड अभी तक 10वीं के छात्रों को पास करने का फार्मूला तय नहीं कर पाया है. बोर्ड ने यह जानकारी बॉम्बे हाईकोर्ट में एक याचिका पर चल रही सुनवाई के दौरान दी.

  • Share this:

नई दिल्ली. महाराष्ट्र में कोरोना महामारी के कारण रद्द की जा चुकी 10वीं के परीक्षा के बाद छात्र किस तरह पास किए जाएंगे, अभी यह तय नहीं हो पाया है. यह जानकारी महाराष्ट्र बोर्ड ने सोमवार को बॉम्बे हाईकोर्ट को दी है. बोर्ड ने अदालत से कहा कि 10वीं के छात्रों का मूल्यांकन करने की नीति अभी तक तय नहीं हुई है. न्यायाधीश एसजे काठवाला और न्यायाधीश एसपी तावडे की पीठ एक जनहित याचिका की सुनवाई कर रही थी. यह याचिका प्रोफेसर धनंजय कुलकर्णी की ओर से दायर की गई है. याचिका में महाराष्ट्र सरकार द्वारा 10वीं की परीक्षा रद्द किए जाने के फैसले को चुनौती दी गई है. कुलकर्णी ने महाराष्ट्र बोर्ड के साथ सीबीएसई और सीआईएससीई की 10वीं की परीक्षाएं रद्द किए जाने के खिलाफ भी याचिका दायर की है.

अदालत में कुलकर्णी का पक्ष रखते हुए वकील वरुणजीकर ने कहा कि प्रत्येक बोर्ड द्वारा मूल्यांकन का अलग-अलग फॉर्मूला तय करने की वजह से छात्रों को 11वीं में एडमिशन ने में दिक्कत आएगी. उन्होंने कहा कि इस मामले पर केंद्र सरकार द्वारा हस्तक्षेप करके पूरे देश के लिए एक मूल्यांकन नीति बनानी चाहिए. इस पर केंद्र सरकार की ओर से वकील संदेश पाटिल ने बताया कि सीबीएसई पर कुछ सरकार का नियंत्रण है लेकिन आईसीएसई और एसएससी स्वायत्तशासी हैं. इस प्रकार से केंद्र सरकार कुछ नहीं कर सकती.

केंद्र सरकार ने जारी की है गाइडलाइन 

पाटिल ने अदालत को बताया कि केंद्र सरकार ने एक गाइडलाइन जारी की है. जिसमें बताया गया है कि किस तरह मूल्यांकन किया जाए. इसे सीआईएससीई भी अपना सकता है. जबकि महाराष्ट्र एसएससी बोर्ड की ओर से वकील किरन गांधी ने कार्ट से कहा कि यह याचिका अपरिपक्वता पूर्वक फाइल की गई है. बोर्ड ने अभी मूल्यांकन का कोई फॉर्मूला तय नहीं किया है. बोर्ड की परीक्षा समिति इसे तय करेगी और सरकार के पास स्वीकृति के लिए भेजेगी. कोर्ट ने मामले की अगली सुनवाई 19 मई 2021 को तय की है.
ये भी पढ़ें- 

Delhi University : डीयू में कोरोना से 36 शिक्षकों की मौत, डूटा ने मांगी पीड़ित परिवारों के एक सदस्य के लिए नौकरी

NIOS Results 2021: आशा सर्टिफिकेट प्रोग्राम के लिए रिजल्ट voc.nios.ac.in पर जारी

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज