• Home
  • »
  • News
  • »
  • education
  • »
  • MP Board Marking Scheme: एमपी में इस स्कीम से मिलेंगे 9वीं से 12वीं तक के स्टूडेंट्स को नंबर, जानें डिटेल

MP Board Marking Scheme: एमपी में इस स्कीम से मिलेंगे 9वीं से 12वीं तक के स्टूडेंट्स को नंबर, जानें डिटेल

MP Board Marking Scheme: MP बोर्ड ने शैक्षणिक वर्ष 2021-2022 के लिए मार्किंग स्कीम जारी कर दी है.

MP Board Marking Scheme: MP बोर्ड ने शैक्षणिक वर्ष 2021-2022 के लिए मार्किंग स्कीम जारी कर दी है.

MP Board Marking Scheme: एमपी बोर्ड की मार्किंग स्कीम के मुताबिक 10वीं और 12वीं बोर्ड के रेगुलर एवं प्राइवेट स्टूडेंट्स के लिए प्रायोगिक विषयों को छोड़कर समस्त विषयों के प्रश्न-पत्र 80 अंक के बनाये जाएंगे और रेगुलर छात्रों के लिए 20 अंक आंतरिक मूल्यांकन के लिए निर्धारित किये गये हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. MP Board Marking Scheme: मध्य प्रदेश, माध्यमिक शिक्षा बोर्ड ने शैक्षणिक वर्ष 2021-2022 के लिए मार्किंग स्कीम जारी कर दी है. इस स्कीम के अंतर्गत एमपी बोर्ड के कक्षा 9वीं से 12वीं तक के स्टूडेंट्स आएंगे. मार्किंग स्कीम में बताया गया है कि किस विषय के किस चैप्टर से कितने नंबरों के प्रश्न आएंगे. परीक्षा अवधि व प्रश्न पत्र का फॉर्मेट क्या रहेगा. इसके अलावा 10वीं और 12वीं की बोर्ड परीक्षा में प्रैक्टिकल व थ्योरी के कितने-कितने नंबर होंगे, यह भी बताया गया है. मार्किंग स्कीम की विस्तृत जानकारी के लिए ऑफिशियल वेबसाइट mpbse.nic.in पर विजिट कर सकते हैं.

    बता दें कि एमपी बोर्ड की मार्किंग स्कीम के मुताबिक 10वीं और 12वीं बोर्ड के रेगुलर एवं प्राइवेट स्टूडेंट्स के लिए प्रायोगिक विषयों को छोड़कर समस्त विषयों के प्रश्न-पत्र 80 अंक के बनाये जाएंगे और रेगुलर छात्रों के लिए 20 अंक आंतरिक मूल्यांकन के लिए निर्धारित किये गये हैं. जबकि प्राइवेट स्टूडेंट्स के लिए 80 अंकों का प्रश्न-पत्र बनाया जाएगा जबकि इसका मूल्यांकन 100 नंबरों का होगा. खास बात यह है कि प्राइवेट स्टूडेंट्स के लिए किसी तरह के आंतरिक मूल्यांकन का प्रावधान नहीं किया जा गया है.

    यह भी पढ़ें –
    Postponed BPSC CDPO Exam 2021: बीपीएससी सीडीपीओ प्रारंभिक परीक्षा स्थगित, जानें नई तिथि का ऐलान कब
    JPSC: झारखंड लोक सेवा आयोग ने जारी किया कंबाइंड इंजीनियर मेन एग्जाम शेड्यूल

    मार्किंग स्कीम की दो मुख्य बातें

    • एमपी बोर्ड 10वीं और 12वीं में 20 अंक प्रायोगिक/प्रोजेक्ट के और 80 अंक सैद्धांतिक के लिए मिलेंगे.
    • 10वीं और 12वीं की के प्रश्न पत्र में 40 फीसदी वस्तुनिष्ठ प्रश्न (ऑब्जेक्टिव टाइप), 40 फीसदी विषय आधारित प्रश्न और 20 फीसदी विश्लेषणात्मक प्रश्न शामिल किए जाएंगे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज