होम /न्यूज /education /

NEP 2020 : शिक्षा मंत्रालय बना रहा 'नए भारत का नया कैरिकुलम'; लोगों से मांगा फीडबैक

NEP 2020 : शिक्षा मंत्रालय बना रहा 'नए भारत का नया कैरिकुलम'; लोगों से मांगा फीडबैक


NEP 2020 : नेशनल कैरिकुलम फ्रेमवर्क में बदलाव नई शिक्षा नीति के तहत किया जा रहा है.

NEP 2020 : नेशनल कैरिकुलम फ्रेमवर्क में बदलाव नई शिक्षा नीति के तहत किया जा रहा है.

NEP 2020 : केंद्रीय शिक्षा मंत्रालय ने नेशनल कैरिकुलम फ्रेमवर्क (NCF) पर लोगों से सुझाव मांगा है. यह सुझाव केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने ट्वीट करके मांगा है. शिक्षा मंत्री ने इसके लिए एक लिंक भी शेयर किया है. इस पर जाकर सुझाव दिया जा सकता है.

अधिक पढ़ें ...

    NEP 2020 : शिक्षा मंत्रालय नेशनल कैरिकुलम फ्रेमवर्क (NCF) डेवलप कर रहा है. यह राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 का एक हिस्सा है, जिसके तहत सरकार स्कूलों और कॉलेजों में पढ़ाए जाने वाले पाठ्यक्रम में बदलाव की योजना बना रही है. इसको लेकर मंत्रालयों और अन्य विशेषज्ञों के बीच चर्चा चल रही है. इसी बीच सरकार ने लोगों से भी फीडबैक मांगा है. सरकार ने पूछा है कि पाठ्यपुस्तकों में क्या शामिल किया जाना चाहिए.

    शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने ट्विटर पर कहा कि वैश्विक दृष्टिकोण के साथ सांस्कृतिक जड़ों को एकीकृत करने, औपनिवेशिक हैंगओवर से मुक्त होने और देश के प्रति गर्व की गहरी भावना पैदा करने के लिए एक जीवंत, गतिशील, समावेशी और भविष्योन्मुखी नेशनल कैरिकुलम फ्रेमवर्क की आवश्यकता है. उन्होंने कहा, सभी नागरिकों से अपील है कि #NayeBharatKaNayaCurriculum विकसित करने के लिए एनसीएफ के सर्वे में हिस्सा लें.

    new education policy 2020, Naye Bharat Ka Naya Curriculum, ncf, national curriculum framework, ministry of education, dharmendra pradhan, नई शिक्षा नीति 2020, नए भारत का नया कैरिकुलम, नेशनल कैरिकुलम फ्रेमवर्क, शिक्षा मंत्रालय, धर्मेंद्र प्रधान

    हाल ही में शिक्षा मंत्रालय ने एनसीईआरटी, भारत निर्वाचन आयोग, आईसीएआर और डीआरडीओ के वरिष्ठ अधिकारियों के साथ बैठक की थी. यह बैठक नए एनसीएफ के लिए हुई थी. इसमें तेजी से बदलती तकनीक, इनोवेशन की आवश्यकता, नए विचारों के सृजन, जलवायु परिवर्तन जैसे महत्वपूर्ण विषयों पर चर्चा की गई थी.

    इस लिंक पर जाकर दें सुझाव

    एनसीएफ पर आप भी यदि सुझाव देना चाहते हैं तो अपने सुझाव ऑनलाइन सबमिट कर सकते हैं. शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान ने इसके लिए एक लिंक- https://ncfsurvey.ncert.gov.in/#/ जारी किया है.

    700 से अधिक विशेज्ञों का समूह कर रहा एनसीएफ पर काम

    एनसीएफ का क्या हिस्सा हो सकता है और क्या नहीं, यह तय करने के लिए राज्यों और केंद्र शासित प्रदेशों में 700 से अधिक राज्य-स्तरीय विशेषज्ञ समूह और क्रास कटिंग थीम बनाए गए हैं. इसके अलावा, राष्ट्रीय स्तर के 25 विशेषज्ञों का एक समूह भी बनाया गया है, इसमें अंतरराष्ट्रीय विशेषज्ञ भी शामिल हैं. एकत्र किए जा रहे इनपुट का विश्लेषण किया जा रहा है.

    ये भी पढ़ें

    Career Tips: 12वीं के बाद करें विजुअल कम्युनिकेशन का कोर्स, जानें योग्यता और फीस

    Celeb Education: किंग खान ने की है दिल्ली यूनिवर्सिटी से पढ़ाई, देखिए डिग्री का स्टेटस

    Tags: Dharmendra Pradhan, Education Minister, New Education Policy 2020

    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर