Home /News /education /

New Year 2022: नए साल में यहां भी लागू हो सकती है नई शिक्षा नीति, पढ़िए गुड न्यूज

New Year 2022: नए साल में यहां भी लागू हो सकती है नई शिक्षा नीति, पढ़िए गुड न्यूज

कॉलेजों में बदलेगा पढ़ाई का स्तर

कॉलेजों में बदलेगा पढ़ाई का स्तर

New Year 2022, New Education Policy: साल 2021 में कई स्कूलों में नई शिक्षा नीति लागू की गई. इसे साल 2020 में शिक्षा के स्तर को सुधारने के लिए तैयार किया गया था (New Education Policy 2020). अभी भी कई राज्यों को अपने यहां नई शिक्षा नीति को लागू करना है. साल 2022 की बात करें तो कई यूनिवर्सिटी में भी नई शिक्षा नीति के अनुसार छात्रों को पढ़ाया जाएगा (University In India). इससे उन्हें कई मायनों में फायदा मिलेगा. नई शिक्षा नीति से न सिर्फ सिलेबस और बैग का वजन कम होगा, बल्कि परीक्षाओं के दौरान भी बहुत मदद मिलेगी (Education In 2022).

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली (New Year 2022, New Education Policy). साल 2022 की शुरुआत हो चुकी है. आज 1 जनवरी 2022 यानी नए साल के पहले दिन से ही सभी नए संकल्प लेंगे (New Year 2022). साल के शुरुआती महीनों में कई परीक्षाएं भी होनी हैं (Exams In 2022). फिलहाल कयास लगाए जा रहे हैं कि नए साल यानी 2022 में कई भारतीय यूनिवर्सिटी में भी नई शिक्षा नीति (New Education Policy) लागू कर दी जाएगी (Education In 2022).

    साल 2021 में कई राज्यों ने अपने यहां के स्कूलों में नई शिक्षा नीति (New Education Policy) का पालन करना शुरू कर दिया था. वहीं, कुछ में नए साल और नए सेशन से शुरू किया जाएगा. इसी बीच, मीडिया रिपोर्ट की मानें तो कुछ भारतीय यूनिवर्सिटी (University In India) में भी साल 2022 से नई शिक्षा नीति को लागू कर दिया जाएगा. अगर ऐसा होता है तो उच्च शिक्षा हासिल करने वाले छात्रों को काफी फायदा मिल जाएगा (Higher Education In India).

    इन संस्थानों में दिखेगा भारी बदलाव
    जेएनयू (JNU) और आईआईटी दिल्ली (IIT Delhi) को देश के प्रमुख संस्थानों में गिना जाता है. जेएनयू के कुलपति और आईआईटी दिल्ली (IIT Delhi) के निदेशक का कार्यकाल समाप्त हो चुका है. इसलिए नए वर्ष में दोनों जगहों पर नए कुलपति और नए निदेशक के आने की संभावना है. इसके साथ ही जेएनयू (JNU) में पहले पोस्टपोन किए गए नए कोर्स व आईआईटी दिल्ली (IIT Delhi) में भी नए सेंटर खोलने की योजना बन रही है.

    ये भी पढ़ें:
    Exam Tips: अच्छे स्टडी प्लान के साथ इन बातों का भी रखें ध्यान, चुटकियों में हो जाएंगे पास
    Study Tips: क्या आपको रात में पढ़ाई करने की आदत है? जानिए फायदे और नुकसान

    रैंक सुधारने का रहेगा लक्ष्य
    नेशनल इंस्टीट्यूशनल रैंकिंग फ्रेमवर्क (National Institute Ranking Framework) हो या क्यूएस वर्ल्ड रैंकिंग (QS World Ranking), हर शिक्षण संस्थान इनमें अपनी रैंकिंग सुधारने के लिए प्रयासरत है. आईआईटी दिल्ली (IIT Delhi) ने पहले ही अपनी रैंकिंग में सुधार के लिए जरूरी कदम उठाने शुरू कर दिए हैं.

    Tags: College education, Education system, IIT, Jnu, New Education Policy

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर