होम /न्यूज /education /School Closed: क्या 9वीं से 12वीं तक के स्कूल में ऑनलाइन होगी पढ़ाई, जानिए क्या है नया आदेश

School Closed: क्या 9वीं से 12वीं तक के स्कूल में ऑनलाइन होगी पढ़ाई, जानिए क्या है नया आदेश

School Closed: स्कूलों में 4 नवंबर से 8 नवंबर तक स्कूलों से बच्चों की ऑनलाइन कक्षाएं संचालित करने के निर्देश दिए गए हैं.

School Closed: स्कूलों में 4 नवंबर से 8 नवंबर तक स्कूलों से बच्चों की ऑनलाइन कक्षाएं संचालित करने के निर्देश दिए गए हैं.

School Closed: स्कूलों में 4 नवंबर से 8 नवंबर तक स्कूलों से बच्चों की ऑनलाइन कक्षाएं संचालित करने के निर्देश दिए गए हैं ...अधिक पढ़ें

नोएडा. School Closed: दिल्ली-एनसीआर में लगातार बढ़ रहे प्रदूषण (air pollution) के चलते 4 नवंबर से लेकर 8 नवंबर तक जिले के कक्षा एक से लेकर कक्षा 8 तक के सभी स्कूलों में बच्चों को घर से ही ऑनलाइन पढ़ाई का निर्देश दिया गया है. ग्रेडेड रिस्पांस एक्शन प्लॉन (ग्रेप) के आदेशों के अंतर्गत प्रदूषण की सीमा खतरे के निशान के ऊपर होने पर कक्षा आठ तक के बच्चों के स्कूल जाने पर रोक लगा दी गई है। वहीं, कक्षा नौ से 12वीं और स्नातक स्तर तक संस्थानों को एडाइजरी दी गई है कि वह चाहें तो ऑनलाइन कक्षाओं में विद्यार्थियों को पढ़ा सकते हैं.

जिले में प्रदूषण का स्तर गंभीर स्थिति में चला गया है. किसानों के लगातार पराली जलाने और ‌‌दिल्ली-एनसीआर में वाहनों द्वारा छोड़े गए धुएं से प्रदूषण का स्तर गंभीर स्थिति में चला गया है. ऐसे में ग्रेप के नियमों और सुझावों के मुताबिक गंभीर स्थिति में जरूरी हो तो ही बाहर निकलें. ग्रेप के नियमों के अनुसार जिलाधिकारी प्रभारी ने कक्षा 1 से लेकर कक्षा 8 तक के सभी विद्यार्थियों को स्कूल आने से रोक दिया ‌है. इन बच्चों की कक्षाएं ऑनलाइन होंगी. इनमें परिषदीय विद्यालय, सरकारी जूनियर हाईस्कूल, सीबीएसई और सीआईसीएसई स्कूलों में कक्षा 8 तक के विद्यालयों में बच्चों के आने पर रोक लगाई गई है.

आपके शहर से (नोएडा)

नोएडा
नोएडा

इन स्कूलों में 4 नवंबर से 8 नवंबर तक स्कूलों से बच्चों की ऑनलाइन कक्षाएं संचालित करने के निर्देश दिए गए हैं. अब बच्चे घर पर ही ऑनलाइन क्लॉसेस लेंगे. हालांकि निजी विद्यालयों में तो ऑनलाइन कक्षाओं की स्थिति बेहतर हैं, लेकिन राजकीय विद्यालयों में ऑनलाइन कक्षाओं की स्थिति किसी से छिपी नहीं है. वहीं कक्षा नौ से 12वीं तक के सभी स्कूलों और स्नातक तक के संस्थानों को भी सलाह दी गई है कि ऐसे में हो सके तो ऑनलाइन कक्षाएं आयोजित करें, जिससे विद्यार्थियों को प्रदूषण से नुकसान कम हो.

आदेश का है इंतजार
गाजियाबाद के बीएससी राजेश श्रीवास्तव के अनुसार अभी जिले में ऑनलाइन क्लासेस को लेकर कोई आदेश नहीं आए हैं. डीएम गाजियाबाद से संपर्क अभी नहीं हो पा रहा है. संपर्क होने पर स्थिति स्पष्ट हो सकेगी.

Tags: Education news, Online class, School education

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें