Home /News /education /

online training of higher education department started from today for e content

E-Content के लिए उच्च शिक्षा विभाग का प्रशिक्षण शुरू,1300 से ज्यादा प्राध्यापकों को दिया जा रहा ऑनलाइन प्रशिक्षण 

E-Content के लिए उच्च शिक्षा विभाग का प्रशिक्षण शुरू

E-Content के लिए उच्च शिक्षा विभाग का प्रशिक्षण शुरू

नए शैक्षणिक सत्र से छात्र छात्राओं को ई-कंटेंट के तहत शैक्षणिक सामग्री उपलब्ध कराई जाएगी. छात्र-छात्राओं की डाउट का समाधान भी ई-कंटेंट से किया जाएगा. राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत 40 विषयों में ई-कंटेंट निर्माण के लिए 3 चरणों में प्रशिक्षण दिया जाएगा. आज से 11 जून तक पहले दूसरे व तीसरे चरण के तहत 1300 से ज्यादा प्राध्यापकों को e-content की बारे में प्रशिक्षण दिया जाएगा.

अधिक पढ़ें ...

भोपाल. मध्यप्रदेश में विश्वविद्यालयों और महाविद्यालयों में ई-कंटेंट के प्राध्यापकों को आज से ऑनलाइन प्रशिक्षण दिया जा रहा है. राष्ट्रीय शिक्षा नीति के तहत 40 विषयों में ई-कंटेंट निर्माण के लिए 3 चरणों में प्रशिक्षण दिया जाएगा. आज से 11 जून तक पहले दूसरे व तीसरे चरण के तहत 1300 से ज्यादा प्राध्यापकों को e-content की बारे में प्रशिक्षण दिया जाएगा. प्रशिक्षण के बाद नए शैक्षणिक सत्र से स्टूडेंट्स को अध्ययन सामग्री उपलब्ध कराई जाएगी.

400 विषय विशेषज्ञों को दिया जा रहा प्रशिक्षण
प्रथम चरण में 23 से 28 मई तक ऑनलाइन प्रशिक्षण दिया जा रहा है. इस संकाय संवर्धन कार्यक्रम के प्रथम चरण में प्राचीन भारतीय इतिहास, पर्यावरण विज्ञान, वेद, संस्कृत, कम्प्यूटर विज्ञान, दर्शनशास्त्र, लेखांकन, योग- ध्यान, हिन्दी, अंग्रेजी, मनोविज्ञान, शारीरिक शिक्षा तथा राष्ट्रीय सेवा योजना सहित 22 विषयों में ई-कंटेंट को लेकर ट्रेनिंग दी जा रही है. 10 संभागों के नोडल अधिकारियों के माध्यम से चयनित 400 विषय विशेषज्ञों प्राध्यापकों को प्रशिक्षण दिया जाएगा. इसमें ई- कंटेंट निर्माण से सम्बंधित ई-टेक्ट लेखन, रोचक पीपीटी निर्माण, मूल्यांकन की क्विज, विडियो रिकॉर्डिंग व्याख्यान होंगे. इन विषयों पर विभिन्न सत्रों में प्रदेश और देश के ख्यातनाम विद्वानों के व्याख्यान होंगे. इस प्रशिक्षण में तकनीकी सत्रों का भी आयोजन होगा.

30 मई से 6 जून तक भी होगा प्राध्यापकों का प्रशिक्षण
E-content के लिए तीन चरणों में प्रशिक्षण दिया जाना है. दूसरे चरण में 30 मई से 06 जून 2022 तक प्रशिक्षण किया जाएगा. जिसमें समाजशास्त्र, राजनीति शास्त्र, गणित, भौतिक शास्त्र आदि विषयों में ई-कंटेंट निर्माण का प्रशिक्षण दिया जाएगा. इसी प्रकार अन्य विषयों के लिए 6 जून से 11 जून 2022 तक प्रशिक्षण दिया जाएगा. उम्मीद है कि प्रशिक्षण कार्यक्रम के माध्यम से स्नातक द्वितीय वर्ष के विद्यार्थियों के लिए समय सीमा में e-content तैयार करने का काम पूरा हो जाएगा. जिससे नए शैक्षणिक सत्र के शुरू होते ही स्टूडेंट्स को अध्ययन सामग्री मिल सकेगी.

ये भी पढ़ें-
RPSC Recruitment 2022 : राजस्थान में वरिष्ठ अध्यापकों की 417 वैकेंसी, आज से करें आवेदन, जानें योग्यता
Police Bharti 2022 : इस राज्य की रिजर्व पुलिस फोर्स में कांस्टेबल की निकली है भर्ती, 12वीं पास करें आवेदन

E-content के जरिए उच्च शिक्षा विभाग कर रहा नवाचार 
मध्यप्रदेश में पहली बार कॉलेजों के छात्र-छात्राओं को e-content दिया जाएगा. नए शैक्षणिक सत्र से कॉलेजों के छात्र छात्राएं ई-कंटेंट के माध्यम से पढ़ाई कर सकेंगे. प्रदेश में पहला मौका है,जब प्रोफेशनल तरीके से छात्रों को पढ़ाई के लिए वीडियो तैयार कराए जाएंगे. शिक्षा विभाग ई-कंटेंट के माध्यम से नवाचार करने जा रहा है. चिन्हित विषयों के लेक्चरर उच्च शिक्षा विभाग की वेबसाइट पर अपलोड किए जाएंगे. चिन्हित विषयों में से प्रत्येक प्रश्न पत्र की हर इकाई को मुख्य रूप से छह भागों में बांटा जाएगा. प्रत्येक भाग में 30 से 40 मिनट का व्याख्यान होगा. प्रत्येक लेक्चर में पावर पॉइंट प्रेजेंटेशन, एनिमेशन, फोटो इन सभी का इस्तेमाल किया जाएगा. छात्रों को अपने विषय में किसी भी तरह का डाउट है, तो उसी कंटेंट से ही दूर किया जाएगा.

Tags: College education, Education news, Mp news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर