• Home
  • »
  • News
  • »
  • education
  • »
  • Rail Kaushal Vikas Yojana: रेल कौशल विकास योजना के लिए 10वीं पास करें आवेदन

Rail Kaushal Vikas Yojana: रेल कौशल विकास योजना के लिए 10वीं पास करें आवेदन

Rail Kaushal Vikas Yojana: 10वीं पास युवा रेल कौशल विकास योजना के लिए आवेदन करें.

Rail Kaushal Vikas Yojana: 10वीं पास युवा रेल कौशल विकास योजना के लिए आवेदन करें.

Rail Kaushal Vikas Yojana: इस योजना के माध्यम से 3 साल की अवधि में करीब 50000 युवाओं को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य रखा गया है. हालांकि रेल कौशल विकास योजना की शुरूआत एक हजार युवाओं को प्रशिक्षण देकर की जाएगी.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. Rail Kaushal Vikas Yojana: भारतीय रेलवे ने 10वीं पास युवाओं के लिए रेल कौशल विकास योजना की शुरूआत की है. इस योजना के अंतर्गत युवाओं को इंडस्ट्री डेवलपमेंट से संबंधित स्किल्स को बेहतर बनाने का प्रशिक्षण दिया जाएगा. बता दें कि इस योजना का शुभारंभ रेल मंत्री अश्विनी वैष्णव ने किया है. इस योजना के माध्यम से 3 साल की अवधि में करीब 50000 युवाओं को प्रशिक्षित करने का लक्ष्य रखा गया है. हालांकि रेल कौशल विकास योजना की शुरूआत एक हजार युवाओं को प्रशिक्षण देकर की जाएगी.

    बता दें कि और प्रतिभागियों का चयन मैट्रिक में अंकों के आधार पर एक पारदर्शी तंत्र का पालन करते हुए ऑनलाइन प्राप्त आवेदनों के आधार पर होगा. चयनित अभ्यर्थियों को इलेक्ट्रीशियन, मशीनिस्ट, वेल्डर और फिटर ट्रेडों में प्रशिक्षण दिया जाएगा. सभी चयनित अभ्यर्थियों को प्रशिक्षण फ्री में दिया जाएगा. खास बात यह है कि बाद में क्षेत्रीय मांगों और जरूरतों के आंकलन के आधार पर जोनल रेलवे और उत्पादन इकाइयों द्वारा अन्य ट्रेडों में प्रशिक्षण कार्यक्रम भी जोड़े जाएंगे.

    ये भी पढ़ें-
    UP Lekhpal Recruitment 2021: जानिए कब से शुरू होगी यूपी लेखपाल भर्ती की आवेदन प्रक्रिया, देखें लेटेस्ट अपडेट
    UP Lekhpal Recruitment 2021: लेखपाल बनने के लिए UPSSSC PET में कितना स्कोर लाना होगा, जानें

    प्रमाणपत्र और टूलकिट दी जाएगी
    रेल कौशल विकास योजना आत्मनिर्भर भारत अभियान का एक हिस्सा है. इसके लिए आवेदन करने के लिए अभ्यर्थी को 10वीं पास होना चाहिए. इसके साथ ही आवेदक की उम्र 18 से 35 वर्ष के बीच होनी चाहिए. रेल कौशल विकास योजना के अंतर्गत प्रशिक्षण प्रदान करने के लिए इंडियन रेलवे के 17 जोन और 7 प्रोडक्शन यूनिट में 75 ट्रेनिंग सेंटर को शॉर्टलिस्ट किया गया है. प्रशिक्षण कार्यक्रम पूरा होने पर अभ्यर्थियों स्व-रोजगार के क्षेत्र में आगे बढ़ने के उद्देश्य से संबंधित ट्रेड में प्रमाणपत्र और टूलकिट दी जाएगी. हालांकि इस प्रशिक्षण के आधार पर अभ्यर्थी रेलवे में रोजगार पाने का कोई दावा नहीं कर सकेंगे.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज