Home /News /education /

ReOpen: दिल्ली में कल से खुलेंगे स्कूल कॉलेज, चेक करें डिटेल

ReOpen: दिल्ली में कल से खुलेंगे स्कूल कॉलेज, चेक करें डिटेल

School Reopen: दिल्ली सरकार ने 13 नवंबर को सभी शिक्षण संस्थानों को बंद करने का फैसला लिया था.

School Reopen: दिल्ली सरकार ने 13 नवंबर को सभी शिक्षण संस्थानों को बंद करने का फैसला लिया था.

School colleges reopen: दिल्ली में शैक्षणिक संस्थानों को फिर से खोलने को लेकर बुधवार को सरकार की घोषण पर स्कूलों और अभिभावक निकायों की मिली-जुली प्रतिक्रिया आई. कुछ ने कहा कि पढ़ाई के नुकसान की भरपाई करना जरूरी है और अन्य ने इसे 'जल्दबाजी में लिया गया निर्णय' करार दिया है.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली. ReOpen: दिल्ली सरकार ने स्कूल, कॉलेज और अन्य शिक्षण संस्थानों में प्रत्यक्ष कक्षाएं तथा सरकारी दफ्तरों को 29 नवंबर से फिर शुरू करने का बुधवार को फैसला किया है. ये फैसला पिछले दिनों वायु गुणवत्ता में ‘‘सुधार’’ के मद्देनजर लिया गया. दिल्ली सरकार ने 13 नवंबर को सभी शिक्षण संस्थानों को बंद करने, निर्माण और तोड़-फोड़ की गतिविधियों पर प्रतिबंध लगाने का आदेश दिया था.

    दिल्ली में शैक्षणिक संस्थानों को फिर से खोलने को लेकर बुधवार को सरकार की घोषण पर स्कूलों और अभिभावक निकायों की मिली-जुली प्रतिक्रिया आई. कुछ ने कहा कि पढ़ाई के नुकसान की भरपाई करना जरूरी है और अन्य ने इसे ‘जल्दबाजी में लिया गया निर्णय’ करार दिया है.

    दिल्ली अभिभावक संघ ने कहा कि दिल्ली की वायु गुणवत्ता और कोविड-19 महामारी चिंता का कारण बनी हुई है और बच्चों के फेफड़ों को गंभीर रूप से प्रभावित कर सकती है. हालांकि, कुछ स्कूलों ने कहा कि उन्होंने बच्चों की सुरक्षा के लिए आवश्यक व्यवस्था की है और वे चीजों को सुचारू रूप से प्रबंधित करने में सक्षम होंगे क्योंकि एक समय में कक्षा में केवल 50 प्रतिशत छात्रों को ही प्रवेश की अनुमति दी जाएगी.

    इससे पहले दिन में, दिल्ली सरकार ने घोषणा की कि स्कूलों, कॉलेजों और अन्य शैक्षणिक संस्थानों में भौतिक रूप से उपस्थित होकर कक्षाएं फिर से शुरू होंगी और शहर में हवा की गुणवत्ता में ‘सुधार’ के मद्देनजर 29 नवंबर से सरकारी कार्यालय फिर से खुलेंगे.

    रोहिणी में एमआरजी स्कूल के प्रिंसिपल अंशु मित्तल ने कहा, ”हमें यह घोषणा सुनकर खुशी हुई कि दिल्ली सरकार अब स्कूलों को फिर से खोल देगी क्योंकि दूरस्थ शिक्षा को एक साल से अधिक समय हो गया है और जैसे-जैसे परीक्षा नजदीक आ रही है, छात्रों को शिक्षकों और सहपाठियों के साथ सामाजिक संपर्क की जरूरत पेश आ रही है.’

    अखिल भारतीय अभिभावक संघ (एआईपीए) के अध्यक्ष अशोक अग्रवाल ने कहा, ‘शुक्र है , अधिकारियों ने अंततः बच्चों के लिए स्कूल के महत्व को महसूस किया है.सभी स्कूलों को नर्सरी से कक्षा 12 तक सभी कक्षाएं चलाने की अनुमति दी जानी चाहिए और वह भी 100 फीसदी क्षमता के साथ.’

    दिल्ली अभिभावक संघ (डीपीए) ने हालांकि कहा कि सरकार ने अगले सप्ताह से भौतिक रूप से कक्षाएं फिर से शुरू करने का फैसला जल्दबाजी में लिया है.

    डीपीए अध्यक्ष अपराजिता गौतम ने दावा किया कि ज्यादातर माता-पिता सरकार के फैसले से सहमत नहीं हैं.

    उन्होंने कहा, ‘ एक बार फिर कोरोना वायरस के मामले बढ़ रहे हैं और दिल्ली खतरनाक वायु प्रदूषण से जूझ रही है. ये दोनों ही फेफड़ों को बुरी तरह प्रभावित करते हैं, इसलिए वे माता-पिता जिनके बच्चे संवेदनशील हैं या एलर्जी से पीड़ित हैं, वे स्कूल खुलने पर उनके बीमार होने को लेकर चिंतित हैं.’

    ये भी पढ़ें-
    CAT Exam 2021: पहले प्रयास में हो जाएंगे सफल, ऐसे करें कैट परीक्षा की तैयारी
    CAT Exam: देश के टॉप संस्थान से MBA करना है तो दें ये परीक्षा, जानिए जरूरी डिटेल्स

    Tags: Colleges, Delhi School

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर