होम /न्यूज /education /School Education: बच्चों को प्ले स्कूल भेजने के हैं कई फायदे, जानिए यहां

School Education: बच्चों को प्ले स्कूल भेजने के हैं कई फायदे, जानिए यहां

School Education: बच्चों को प्ले स्कूल भेजने के हैं कई फायदे

School Education: बच्चों को प्ले स्कूल भेजने के हैं कई फायदे

School Education: छोटे बच्चे बहुत मासूम होते हैं वे जो देखते हैं और सुनते हैं वही सीखते हैं, ऐसे यह हमारी जिम्मेदारी बन ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

इसके अलावा दूसरे बच्चों के साथ सामंजस्य और शेयरिंग की आदत को भी सीखते हैं.
यहां बच्चे धीरे-धीरे खुद को एक्सप्रेस करना सीखते हैं.
बच्चे बेहद भोले और मासूम होते हैं एकदम कच्ची मिट्ठी की तरह उन्हें जैसे ढाला जायेगा वे वैसे ही बनेंगे.

नई दिल्ली. School Education: पहले का जमाना कुछ और था जब बड़े परिवारों में बच्चे जल्दी ही पूरी तरह समझदार हो जाते थे. तब बच्चे सीधे स्कूल में पढ़ने के लिए जाते थे लेकिन आजकल जैसे-जैसे बच्चे बड़े हो रहे हैं पेरेंट्स उन्हें प्ले स्कूल या प्री-स्कूल भेजने के बारे में सोचते है. वह बच्चों के बेहतर भविष्य के लिए हर जरूरी निर्णय को लेकर काफी सजग रहते हैं ताकि उनके बच्चे का फ्यूचर अच्छा बन सकें और उन्हें स्कूल जाते वक्त कोई परेशानी न हो. आइए जानते हैं प्री स्कूल भेजने के फायदे.

लर्निंग स्किल डेवलपमेंट
बच्चे बेहद भोले और मासूम होते हैं एकदम कच्ची मिट्ठी की तरह उन्हें जैसे ढाला जायेगा वे वैसे ही बनेंगे. छोटे बच्चों में नई चीज सीखने और उसके बारे में जानने की जिज्ञासा बहुत होती है. प्ले स्कूल में उन्हें तरह-तरह के खेल और एक्टिविटी को करने और चीजों से खेलने का मौका मिलता है, इससे बच्चे की सीखने की क्षमता विकसित होती है.

स्वतंत्र रहना सीखें
घर पर बच्चों को हम कई बार रोकते टोकते हैं किसी भी चीज को हाथ नहीं लगाने देते और समय की कमी के कारण उन्हें कई तरह की एक्टिविटीज करने से भी रोकते हैं लेकिन प्ले स्कूल में वह अपने पसंद का खेल खेलने के लिए स्वतंत्र रहते हैं. यहां पर बच्चे खुद से खाना, हाथ साफ करना, अपने सामान को जगह पर रखने की आदत सीखते हैं.

ये भी पढ़ें: 
CLAT 2023 Admit Card: क्लैट परीक्षा देने जा रहे हैं, तो नोट कर लें एडमिट कार्ड से लेकर रिजल्ट तक का शेड्यूल
SBI PO Admit Card 2022: एसबीआई पीओ का एडमिट कार्ड कब होगा जारी? यहां देखें लेटेस्ट अपडेट

भाषा और शब्दाबली में सुधार
कई बार बच्चे ज्यादा प्यार और दुलार के चक्कर में बिगड़ जाते हैं और वे गलत जवाब भी देने लगते हैं ऐसे में प्ले स्कूल जाने से बच्चों की भाषा और शब्दाबली में सुधार आता है. बच्चे घर पर जितना सीख पाते हैं, उससे कहीं अधिक प्ले स्कूल में बोलना और शब्दों को पहचानना सीखते हैं. इसके अलावा दूसरे बच्चों के साथ सामंजस्य और शेयरिंग की आदत को भी सीखते हैं. यहां बच्चे धीरे-धीरे खुद को एक्सप्रेस करना सीखते हैं.

Tags: Education, Education news, Kids

टॉप स्टोरीज
अधिक पढ़ें