Home /News /education /

Online Training: 50 हजार टीचर्स के लिए 'School Innovation Ambassador Training Program' शुरू, पढ़ें डिटेल

Online Training: 50 हजार टीचर्स के लिए 'School Innovation Ambassador Training Program' शुरू, पढ़ें डिटेल

प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्देश्य 50,000 स्कूल शिक्षकों को नवाचार, उद्यमिता, आईपीआर, डिजाइन विचार, उत्पाद विकास, विचार निर्माण आदि में प्रशिक्षण देना है. (सांकेतिक तस्वीर)

प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्देश्य 50,000 स्कूल शिक्षकों को नवाचार, उद्यमिता, आईपीआर, डिजाइन विचार, उत्पाद विकास, विचार निर्माण आदि में प्रशिक्षण देना है. (सांकेतिक तस्वीर)

“यह पहल देशभर में आदिवासी बच्चों की रचनात्मकता को पंख देकर उनके लिए बने कई स्कूलों को लाभ पहुंचाएगी और एक मंच उपलब्ध कराएगी जिससे कि वे अपने विचारों से दुनिया को कुछ नया दे सकें.’’

    नई दिल्ली. School Innovation Ambassador Training Program Launched for 50,000 Teachers: केंद्रीय शिक्षा मंत्री धर्मेंद्र प्रधान और जनजातीय कार्य मंत्री अर्जुन मुंडा ने 50 हजार स्कूल शिक्षकों के लिए “स्कूल नवाचार दूत प्रशिक्षण कार्यक्रम” (School Innovation Ambassador Training Program) की शुक्रवार को शुरुआत की. स्कूली शिक्षकों के लिए नये एवं अपनी तरह के अनूठे प्रशिक्षण कार्यक्रम का उद्देश्य 50,000 स्कूल शिक्षकों को नवाचार, उद्यमिता, आईपीआर, डिजाइन विचार, उत्पाद विकास, विचार निर्माण आदि में प्रशिक्षण देना है.

    प्रधान ने कार्यक्रम का उद्घाटन करते हुए कहा, “शिक्षकों का हमारे जीवन में सबसे अधिक प्रभाव होता है. हमारा लक्ष्य अपने शिक्षकों को बदलाव का एजेंट तथा नवोन्मेष का दूत बनाना चाहते हैं ताकि हमारे विद्यार्थी भविष्य के लिए तैयार हों.”

    शिक्षा मंत्री ने जोर दिया कि प्रौद्योगिकी दुनिया को नये रूप में ढाल रही है और विद्यार्थियों के पास सामर्थ्य होता है कि वह न सिर्फ घरेलु बल्कि वैश्विक चुनौतियों से भी निपट सकें.

    उन्होंने बताया कि यह कार्यक्रम शिक्षा मंत्रालय के नवोन्मेष प्रकोष्ठ, जनजातीय कार्य मंत्रालय, केंद्रीय माध्यमिक शिक्षा बोर्ड (सीबीएसई) और अखिल भारतीय तकनीकी शिक्षा परिषद (एआईसीटीई) का संयुक्त प्रायस है जो लाखों विद्यार्थियों में नवाचार की क्षमताएं बढ़ाएगा, नवोन्मेष की संस्कृति को विकसित करेगा और नये एवं जीवंत भारत की नींव रखेगा.

    मुंडा ने कहा, “यह पहल देशभर में आदिवासी बच्चों की रचनात्मकता को पंख देकर उनके लिए बने कई स्कूलों को लाभ पहुंचाएगी और एक मंच उपलब्ध कराएगी जिससे कि वे अपने विचारों से दुनिया को कुछ नया दे सकें.’’

    उन्होंने कहा, “ आदिवासी बच्चों के लिए एकलव्य मॉडल आवासीय विद्यालय (ईएमआरएस) एक और महत्त्वकांक्षी कार्यक्रम है जिसके तहत अगले तीन वर्षों में आदिवासी बहुल इलाकों में 740 ईएमआरएस स्थापित किए जाएंगे.”

    ये भी पढ़ें-
    Sarkari Naukri: भारतीय सेना में नौकरी का अवसर, 28 अगस्त तक करें रजिस्ट्रेशन
    Staff Nurse Jobs : स्टाफ नर्स की 500 वैकेंसी, ब्रिटेन में नौकरी का मौका

    Tags: Education news

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर