Home /News /education /

Exam Mistakes: परीक्षा में वर्ड लिमिट का रखें ध्यान, अच्छे मार्क्स के लिए फॉलो करें ये टिप्स

Exam Mistakes: परीक्षा में वर्ड लिमिट का रखें ध्यान, अच्छे मार्क्स के लिए फॉलो करें ये टिप्स

कॉमन एग्जाम मिस्टेक्स

कॉमन एग्जाम मिस्टेक्स

CBSE, BSEB, Exam Mistakes: देशभर में परीक्षाओं का दौर चल रहा है. बोर्ड परीक्षाओं (Board Exams 2022) के साथ ही अन्य कक्षाओं की परीक्षाएं भी शुरू हो चुकी हैं या जनवरी-फरवरी में होने वाली हैं. ऐसे में छात्रों में परीक्षाओं को लेकर तनाव होना सामान्य बात है (Exam Stress). परीक्षाओं में मार्क्स कम होने का एक बड़ा कारण छात्रों की नर्वसनेस होती है. दरअसल, कई बार एग्जाम स्ट्रेस का असर आंसर शीट पर भी नजर आने लग जाता है. जानिए कुछ कॉमन एग्जाम मिस्टेक्स, जो छात्र जाने-अनजाने में कर बैठते हैं. इन्हें सुधारने से आपका रिजल्ट बेहतर होगा.

अधिक पढ़ें ...

    नई दिल्ली (Exam Mistakes, CBSE). कई छात्र अपनी तरफ से परीक्षाओं की तैयारी तो परफेक्ट तरीके से करते हैं लेकिन उनका रिजल्ट उनके मन मुताबिक नहीं आता है (Exam Preparation Tips). दरअसल, परीक्षा लिखते समय अपने माइंड को कूल रखना बहुत जरूरी होता है. इस दौरान परीक्षा की तैयारी में कोई कमी नहीं होती है लेकिन परीक्षा केंद्र पर जवाब लिखते समय स्ट्रेस (Exam Stress) हो जाने की वजह से छात्रों से कुछ गलतियां हो जाती हैं (Exam Mistakes).

    इन दिनों ज्यादातर स्कूलों में परीक्षाएं चल रही हैं. कहीं पर बोर्ड परीक्षा (Board Exams 2022) आयोजित की जा रही हैं तो कहीं पर नॉर्मल कक्षाओं की. वहीं, कुछ राज्यों की परीक्षाएं जनवरी-फरवरी के बीच आयोजित होंगी (BSEB, Bihar Board 10th Exam 2022). अगर आप भी इस साल किसी परीक्षा में शामिल होने वाले हैं तो जानिए परीक्षा के दौरान होने वाली कुछ आम गलतियां, जिनकी वजह से छात्रों का रिजल्ट बिगड़ जाता है (Exam Mistakes).

    प्रश्नों की शब्द सीमा पर ध्यान न देना
    हर परीक्षा में छात्रों को उनके जवाब लिखने के लिए एक तय शब्द सीमा दी जाती है (Word Limit). लेकिन कई बार छात्र आंसर शीट पर सवाल अटेंप्ट करते वक्त तय शब्द सीमा भूल जाते हैं और उससे कम या ज्यादा शब्दों में जवाब लिख देते हैं. लेकिन यह बहुत गलत आदत है. परीक्षा कोई भी हो, वर्ड लिमिट का हमेशा ध्यान रखें.

    दो सवालों का एक जवाब
    कुछ छात्र ओवर स्मार्ट बनने के चक्कर में दो सवालों का एक ही जवाब लिख देते हैं. उन्हें लगता है कि उनका जवाब सही है तो शायद एग्जामिनर बिना पढ़े ही दोनों सवालों में लिखे गए उनके उत्तर के लिए उन्हें मार्क्स दे देगा. लेकिन यह छात्रों की गलतफहमी के सिवाय और कुछ नहीं है.

    ये भी पढ़ें:
    Career Tips: हिंदी के जानकार हैं तो इन क्षेत्रों में बनाएं करियर, मिलेंगे बेशुमार मौके
    NEET Counselling 2021: इन 5 बड़े बदलाव के साथ होगी नीट की काउंसलिंग, पढ़ें पूरी डिटेल

    लिखावट पर ध्यान न देना
    परीक्षा के दौरान कई छात्र उत्तर लिखने में इतने व्यस्त हो जाते हैं कि अपनी लिखावट पर फोकस नहीं कर पाते हैं. 15 मिनट के रीडिंग टाइम में सवालों को अच्छी तरह से पढ़ लें और दिमाग में उनके जवाब भी तैयार कर लें. फिर परीक्षा का राइटिंग टाइम शुरू होते ही आराम से अच्छी लिखावट में जवाब लिखें.

    Tags: Bseb, Cbse

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर