• Home
  • »
  • News
  • »
  • education
  • »
  • UP B.Ed Counselling 2021 : पहले दिन 13225 अभ्यर्थियों ने लॉक की च्वाइस

UP B.Ed Counselling 2021 : पहले दिन 13225 अभ्यर्थियों ने लॉक की च्वाइस

UP B.Ed Counselling 2021 : काउंसलिंग का दूसरा चरण 25 सितंबर से शुरू होगा.

UP B.Ed Counselling 2021 : काउंसलिंग का दूसरा चरण 25 सितंबर से शुरू होगा.

UP B.Ed Counselling 2021 : यूपी बीएड काउंसलिंग 2021 की प्रक्रिया में मंगलवार से काउंसलिंग के लिए रजिस्ट्रेशन के साथ कॉलेजों की च्वाइस लॉक करने की प्रक्रिया भी शुरू हो गई. पहले दिन 13000 से अधिक अभ्यर्थियों ने च्वाइस लॉक किए.

  • News18Hindi
  • Last Updated :
  • Share this:

    नई दिल्ली. UP B.Ed Counselling 2021 : उत्तर प्रदेश में संयुक्त बीएड प्रवेश परीक्षा 2021 की ऑनलाइन काउंसलिंग जारी है. पहले चरण की काउंसलिंग के लिए अभी तक 31800 अभ्यर्थी रजिस्ट्रेशन करा चुके हैं. काउंसलिंग के लिए रजिस्ट्रेशन प्रक्रिया 17 सितंबर से शुरू है. जबकि मंगलवार 21 सितंबर से रजिस्ट्रेशन के साथ च्वाइस फिलिंग की प्रक्रिया भी शुरू हो गई है. च्वाइस फिलिंग 24 सितंबर तक होगी. इसके बाद 25 सितंबर को अलॉटमेंट होगा. इसी के साथ दूसरे चरण की काउंसलिंग के लिए रजिस्ट्रेशन भी शुरू होगा.

    बीएड प्रवेश परीक्षा समन्वयक प्रोफेसर अमिता बाजपेई के अनुसार, पहले दिन 13225 अभ्यर्थियों ने ऑनलाइन च्वाइस लॉक किया. रजिस्ट्रेशन और च्वाइस भरने की, दोनो प्रक्रिया 23 सितंबर तक जारी रहेगी. इसके बाद 25 सितंबर को कॉलेज अलॉटमेंट किया जाएगा.

    26 से मिलेगा आवंटन पत्र 

    समन्वयक ने बताया कि 26 से 29 सितंबर के बीच अभ्यर्थी शेष शुल्क ऑनलाइन जमा करके अपनी सीट के आवंटन का पत्र प्राप्त कर सकते हैं. उन्होंने बताया कि काउंसलिंग के अगले चरण में 75,001 से 2,00,000 तक की रैंक वाले अभ्यर्थियों का रजिस्ट्रेशन होगा.
    दो लाख से अधिक सीटों पर होगे एडमिशन

    काउंसलिंग के लिए शिक्षण संस्थानों के विवरण और प्रवेश प्रक्रिया की पूरी जानकारी के लिए लखनऊ विश्वविद्यालय की वेबसाइट www.lkouniv.ac.in पर विजिट कर सकते हैं. यूपी बीएड की प्रवेश प्रक्रिया में 16 राज्य विश्वविद्यालयों के अंतर्गत आने वाले ले 2479 राजकीय, सहायता प्राप्त महाविद्यालय, स्ववित्तपोषित महाविद्यालय शामिल हैं. बीएड की कुल 2,35,310 सीटें हैं. इसमें से 7830 सीटें विश्वविद्यालयों और राजकीय या सहायता प्राप्त महाविद्यालयों में हैं. जबकि 2,27,480 सीटें स्ववित्त पोषित महाविद्यालयों में हैं. इसके अलावा प्रत्येक महाविद्यालय में 10 प्रतशित अतिरिक्त सीटें आर्थिक रूप से कमजोर वर्ग के छात्रों के लिए होंगी. हालांकि, इडब्लूएस के लिए अतिरिक्त सीटें अल्पसंख्यक संस्थानों में नहीं होंगी.

    ये भी पढ़ें

    RPSC RAS-RTS Exam : अब एक ही दिन होगी RAS की प्रारंभिक परीक्षा, आयोग ने बदला कार्यक्रम

    Sarkari Naukri 2021: छत्तीसगढ़ में डिप्लोमा पास के लिए निकली है नौकरियां, जानें डिटे

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

    हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज