UP Board 10th Exam 2021: 10वीं के स्टूडेंट्स को लेकर क्या है बोर्ड का पूरा प्लान, जानिए यहां

UP Borad 10th Exam 2021:यूपी बोर्ड 10वीं के छात्रों को 11वीं में प्रमोट करने की हो रही तैयारी..

UP Board 10th Exam 2021: यूपी बोर्ड 10वीं के छात्रों को बिना परीक्षा अगली कक्षा में प्रमोट करने की तैयारी कर रहा है. बता दे कि पहले पंचायत चुनाव और फिर कोरोना के कारण बोर्ड परीक्षा को स्थगित किया गया है. 10वीं की परीक्षा रद्द करने और छात्रों को प्रमोट करने की अभी कोई अधिकारिक घोषणा नहीं की गई है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. कोरोना के कारण यूपी बोर्ड 10वीं की परीक्षा को स्थगित कर दिया गया है. अब 10वीं कक्षा के सभी छात्रों को 11वीं में प्रमोट करने की तैयारी यूपी बोर्ड की ओर से की जा रही है. बिना परीक्षा के इस बार 10वीं का बोर्ड रिजल्ट 100 फीसदी पास प्रतिशत के साथ घोषित किया जा सकता है. मतलब 10वीं में किसी भी छात्र को इस बार फेल नहीं किया जाएगा. हालांकि अभी तक प्रदेश सरकार और यूपी बोर्ड की ओर से 10वीं की परीक्षा रद्द करने के संबंध में कोई एलान नहीं किया गया है.

    इस आधार पर प्रमोट करने की हो रही तैयारी
    कोरोना के कारण स्थगित की गई यूपी बोर्ड 10वीं की परीक्षा को रद्द करने और 10वीं के विद्यार्थियों को अगली कक्षा में प्रमोट किए जाने की तैयारी की जा रही है. 10वीं के विद्यार्थियों का कक्षा 9वीं की वार्षिक परीक्षा और प्रोजेक्ट वर्क के परिणाम जिला विद्यालय निरीक्षकों की ओर से बोर्ड की वेबसाइट पर अपलोड कराए जा रहे हैं.

    बता दें कि कक्षा 9 वीं की वार्षिक परीक्षा के परिणाम बोर्ड को नहीं भेजे जाते हैं.ऐसे में बोर्ड की ओर से कक्षा 10वीं के विद्यार्थियों का 9वीं की लिखित परीक्षा के परिणाम वेबसाइट पर अपलोड करने के निर्देश जारी किए गए हैं. अपलोड करने की अंतिम तारीख 24 मई है. संभावना जताई जा रही है कि 24 मई के बाद 10वीं बोर्ड परीक्षा के संबंध में अधिकारिक घोषणा हो सकती है.

    यह भी पढ़ें -
    SSA Teacher Recruitment 2021: सर्व शिक्षा अभियान ने निकाली हैं शिक्षकों की भर्तियां, जानें डिटेल
    यूपी कॉलेज परीक्षा 2021: उत्तर प्रदेश में 30 लाख यूजी-पीजी छात्र होंगे प्रमोट

    10वीं में इस बार 29 लाख से अधिक रजिस्ट्रेशन
    इस साल 10वीं की बोर्ड परीक्षा के लिए 29.94 लाख विद्यार्थियों ने पंजीकरण कराया है. इस साल 10वीं की बोर्ड परीक्षा दो बार स्थगित की जा चुकी है. पहले पंचायत चुनाव और फिर कोरोना के कारण बोर्ड परीक्षा को स्थगित किया गया. अब 10वीं के विद्यार्थियों को प्रमोट करने की तैयारी यूपी बोर्ड की ओर से की जा रही है. विभिन्न मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार अभी तक 10वीं का अधिकतम पास प्रतिशत अधिकतम 87.66 फीसद तक रहा है. इस बार सभी विद्यार्थियों को पास कर अलगी कक्षा में प्रमोट करने की तैयारी की जा रही है.