• Home
  • »
  • News
  • »
  • education
  • »
  • UP BOARD RESULT 2021 BOARD INVITE SUGGSTIONS FOR 10TH AND 12TH MARKING POLICY AND OBJECTIVE CRITERIA

UP Board Result : कैसे बने 10वीं और 12वीं का रिजल्ट, बोर्ड के इस ईमेल आईडी पर भेजें अपने सुझाव

10वीं और 12वीं के लिये इवैल्‍यूएशन क्राइटेरिया पर छात्र भी अपनी राय देंगे.

UP Board Result : यूपी बोर्ड ने 10वीं और 12वीं का रिजल्ट तैयार करने को लेकर अधिकारियों से लेकर शिक्षाविदों और आम आदमी तक से सुझाव मांग रहा है. बोर्ड ने इसके लिए बकायदा एक ईमेल आईडी जारी की है. इस पर कोई भी अपने सुझाव भेज सकता है.

  • Share this:
    नई दिल्ली. यूपी बोर्ड 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं रद्द किए जाने के बाद रिजल्ट की तैयारी में जुटा है. इसी क्रम में जिला स्तर के अधिकारियों से लेकर स्कूलों के प्रिंसिपल, शिक्षकों, शिक्षाविदों और आम आदमी तक से सुझाव मांगे जा रहे हैं. मीडिया रिपोर्ट के अनुसार सोमवार को जिला स्तर के अधिकारियों के साथ बैठक में अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला ने सुझाव भेजने के लिए एक ईमेल एड्रेस upboardexamniation2021@gmail.com जारी किया है. इस ईमेल एड्रेस पर कोई भी रिजल्ट तैयार करने के बारे में अपने सुझाव भेज सकता है.

    दरअसल, अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला की अध्यक्षता में एक कमेटी का गठन किया गया है. यह कमेटी छात्रों को अंक देने का फॉर्मूला तैयार करेगी. यूपी बोर्ड रिजल्ट 2021 के मूल्यांकन मानदंड पर अंतिम फैसला, पैनल की सिफारिशों के आधार पर लिया जाएगा. कुछ प्रतिनिधियों का कहना है कि प्री-बोर्ड एग्‍जाम को ज्‍यादा वेटेज देना चाह‍िये. जो छात्र, किसी वजह से परीक्षा में शामिल नहीं हो सके हैं, उनको न्‍यूनतम अंक देकर पास कर देना चाह‍िये. वहीं दूसरे स्‍टेकहोल्‍डर्स का कहना है कि प्री-बोर्ड परीक्षा के परिणाम को प्रमुखता नहीं देनी चाहिए. सुझाव यह भी आ रहे हैं कि स्‍थ‍िति सामान्‍य होने के बाद छात्रों को परीक्षा का मौका देना चाहिए.

    बैठक में आए थे ये सुझाव 

    सोमवार को जिला स्तर के अधिकारियों के साथ बैठक में अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला, विशेष सचिव उदय मल्ल, विशेष सचिव विजय शंकर दुबे, शिक्षा निदेशक विनय शंकर पांडेय और अन्य अधिकारी शामिल हुए थे. इस दौरान सुझाव आए कि हाई स्कूल में प्री बोर्ड, अर्धवार्षिक और कक्षा नौ के अंकों को आधार मानकर रिजल्ट तैयार किए जाएं. जबकि 12वीं के लिए सुझाव आए कि 11वीं और अर्धवार्षिक परीक्षा में किए गए परफॉर्मेंस के अधार पर रिजल्ट तैयार किए जाएं. हालांकि कई लोगों के इससे अलग भी सुझाव रहे. कुछ लोगों ने 12वीं के रिजल्ट के लिए 10वीं के अंकों को आधार न माना जाए. मान भी रहे हैं तो इसका कम प्रतिशत रखें. इस दौरान जेल में बंद परीक्षार्थियों के लिए भी सुझाव आए.

    ये भी पढ़्रें-

    Maharashtra CET Exam 2021 : कब होगा महाराष्ट्र कॉमन एंट्रेंस टेस्ट 2021, जानें डिटेल

    28 जून तक 12वीं बोर्ड के प्रैक्‍ट‍िकल के मार्क्‍स दें स्‍कूल: सीबीएसई