University Exam : यूपी के राज्य विश्वविद्यालयों में फाइनल ईयर की परीक्षाएं इस तारीख तक करा लेने का प्रस्ताव

एक विषय के सभी प्रश्न पत्रों को मिलाकर एक प्रश्न पत्र बनाया जाएगा.

एक विषय के सभी प्रश्न पत्रों को मिलाकर एक प्रश्न पत्र बनाया जाएगा.

University Exam : उत्तर प्रदेश के राज्य विश्वविद्यालों में यूजी व पीजी की फाइनल ईयर और सेमेस्टर की परीक्षाओं की डेट जल्द ही घोषित हो सकती है. कुलपतियों की तीन सदस्यीय समिति ने 13 अगस्त तक परीक्षाएं संपन्न करा लेने की सिफारिश की है.

  • Share this:

नई दिल्ली. उत्तर प्रदेश के राज्य विश्वविद्यालयों में फाइनल ईयर और सेमेस्टर परीक्षाएं 13 अगस्त तक करा लेने की योजना बनी है. साथ ही परीक्षा का सरलीकरण कुछ इस तरह किया जाएगा कि एक विषय के सभी प्रश्नपत्रों को शामिल करते हुए एक ही प्रश्न पत्र तैयार किया जाएगा. यह प्रश्नपत्र बहु विकल्पीय होगा. सवालों के जवाब ओएमआर शीट पर देने होंगे. मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, यह प्रस्ताव कुलपतियों की तीन सदस्यीय समिति की सिफारिशों के आधार पर तैयार किया गया है. इस संबंध में जल्द ही शासनादेश जारी किए जाएंगे.

इस प्रस्ताव में प्रैक्टिकल परीक्षाओं में अलग व्यवस्था बनाई गई है. प्रैक्टिकल परीक्षाओं में अंकों का निर्धारण लिखित परीक्षा के आधार पर किया जाएगा. साथ ही मौखिक परीक्षा आवश्यकता अनुसार ऑनलाइन आयोजित की जाएगी. इसके अलावा वार्षिक परीक्षा पद्धति और सेमेस्टर एग्जाम में छात्रों को प्रमोट करने के नियम भी तय कर दिए गए हैं. दोनों के लिए अलग-अलग निर्देश जारी किए जाएंगे.

वार्षिक परीक्षा प्रणाली में होगी यह व्यवस्था

प्रस्ताव में कहा गया है कि जिन विश्वविद्यालयों में यूजी और पीजी फर्स्ट ईयर की परीक्षाएं अभी तक नहीं हुई हैं, वहां इन छात्रों को सेकेंड ईयर में बिना परीक्षा के ही प्रमोट कर दिया जाएगा. इनकी आगामी द्वितीय वर्ष की परीक्षा के अंकों के आधार पर प्रथम वर्ष का परिणाम एवं अंक निर्धारित होंगे. ऐसे विश्वविद्यालय जहां वर्ष 2020 में प्रथम वर्ष की परीक्षाएं हुई थीं, वहां प्रथम वर्ष के अंकों के आधार पर द्वितीय वर्ष के परिणाम एवं अंक निर्धारित होंगे और तृतीय वर्ष में प्रोन्नत किया जाएगा.
इसी तरह ऐसे विश्वविद्यालय जहां 2020 में प्रथम वर्ष की परीक्षाएं नहीं हुई थीं, उनके लिए द्वितीय वर्ष की परीक्षाएं कराई जाएंगी और परीक्षा परिणाम के आधार पर तृतीय वर्ष में प्रवेश दिया जाएगा. स्नातकोत्तर प्रथम वर्ष के छात्रों को भी द्वितीय वर्ष में प्रोन्नत किया जाएगा. जब वर्ष 2022 में द्वितीय वर्ष की परीक्षाएं होंगी तो द्वितीय वर्ष के अंकों के आधार पर उन्हें प्रथम वर्ष में अंक प्रदान किए जाएंगे.

ये भी पढ़ें- 

SBI Exam Postpone : कोरोना के कारण जूनियर एसोसिएट भर्ती प्रारंभिक परीक्षा टली



केरल की छात्रा को इस उपलब्धि के लिए मिला UAE का गोल्डन वीजा, देखें डिटेल

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज