UP Board SC Students Scholarship: उत्तर प्रदेश में एससी स्टूडेंट्स को दो किस्तों में मिलेगी छात्रवृत्ति, पढ़ें पूरी खबर

छात्रवृत्ति के लिए कुल 9 लाख 82 हजार 56 छात्र-छात्राओं ने आवेदन किया है.

छात्रवृत्ति के लिए कुल 9 लाख 82 हजार 56 छात्र-छात्राओं ने आवेदन किया है.

अनुसूचित जाति के स्टूडेंट्स की छात्रवृत्ति और फीस भरपाई वितरण पर आने वाले कुल राशि का 40% प्रदेश सरकार देगी और बाकी बचा 60% केन्द्र सरकार तरफ से दिया जाएगा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: February 27, 2021, 10:26 AM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. UP Board SC Students Scholarship: प्रदेश में कक्षा दस से ऊपर की कक्षाओं और अन्य व्यासायिक पाठ्यक्रमों में पढ़ने वाले अनुसूचित जाति के छात्र-छात्राओं को छात्रवृत्ति और फीस भरपाई की राशि दो किस्तों में मिलेगी.

समाज कल्याण विभाग के सहायक निदेशक सिद्धार्थ मिश्र ने मीडिया को जानकारी देते हुए बताया कि इस नई छात्रवृत्ति योजना के तहत राज्य सरकार और केंद्र सरकार अलग-अलग हिस्सों में स्टूडेंट्स को राशि प्रदान करेगी. अनुसूचित जाति के स्टूडेंट्स की छात्रवृत्ति और फीस भरपाई वितरण पर आने वाले कुल राशि का 40% प्रदेश सरकार देगी और बाकी बचा 60% केन्द्र सरकार तरफ से दिया जाएगा.

इन विद्यार्थियों को मिलेगी छात्रवृत्ति

सिद्धार्थ मिश्र के अनुसार- यह योजना अनुसूचित जाति के कक्षा दस से ऊपर की कक्षाओं और एमबीए, इंजीनियरिंग, नर्सिंग, मेडिकल आदि व्यावसायिक पाठ्यक्रमों में पढ़ रहे स्टूडेंट्स के लिए है जो स्टूडेंट्स आर्थिक रूप से कमजोर और जरुरतमंद है और अपनी फीस जमा करने में असमर्थ हैं मगर दसवीं के आगे पढ़ना चाहते हैं.
चालू शैक्षणिक सत्र में छात्रवृत्ति के लिए ऐसे कुल 9 लाख 82 हजार 56 छात्र-छात्राओं ने आवेदन किया है. अभी तक जिला कमेटी कुल 3.5 लाख स्टूडेंट्स के ब्यौरे का सत्यापन कर चुकी है.

ये भी पढ़ें-

SSC Sub Inspector Result 2020: सीएपीएफ, दिल्ली पुलिस एसआई परीक्षा का रिजल्ट जारी, करें चेक



UPPRPB Recruitment: UP में सब इंस्पेक्टर की 9534 वैकेंसी, सैलरी 80 हजार से ज्यादा

ऐसे किया जाएगा छात्रवृत्ति का भुगतान

जिन स्टूडेंट्स ने छात्रवृत्ति और फीस भरपाई के लिए आवेदन किया है, सबसे पहले जिला स्तरीय कमेटी उनके आवेदन के सभी ब्यौरे का सत्यापन के करेगी. सब कुछ सही पाए जाने पर छात्रवृत्ति और फीस भरपाई की जो कुल राशि होगी उसका 40% हिस्सा प्रदेश के समाज कल्याण विभाग की ओर से उन स्टूडेंट्स के बैंक खातों में भेज दिया जाएगा.

इसके बाद इस पूरे ब्योरे को केन्द्र सरकार को एनआईसी एवं एपीआई के जरिए ऑनलाइन माध्यम से भेज दिया जाएगा. जिसके बाद केंद्र सरकार 60% छात्रवृत्ति भेजेगी. अगले साल से केन्द्र सरकार द्वारा 60% छात्रवृत्ति राशि अपने आप स्टूडेंट्स के बैंक खातों में भेज दी जाएगी.

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज