• Home
  • »
  • News
  • »
  • education
  • »
  • उत्तराखंड में आज से खुले 9वीं से लेकर 12वीं तक के क्‍लास, कोविड की चुनौती बरकरार

उत्तराखंड में आज से खुले 9वीं से लेकर 12वीं तक के क्‍लास, कोविड की चुनौती बरकरार

9वीं से 12वीं तक की कक्षाएं आज से शुरू हो गई हैं. इन कक्षाओं के छात्र स्‍कूल जाकर क्‍लास अटेंड कर सकते हैं.

9वीं से 12वीं तक की कक्षाएं आज से शुरू हो गई हैं. इन कक्षाओं के छात्र स्‍कूल जाकर क्‍लास अटेंड कर सकते हैं.

उत्तराखंड में नवीं से 12वीं तक के करीब चार हजार स्कूल हैं, जिनमें 3 लाख स्टूडेंट्स हैं.

  • Share this:

देहरादून. कोविड संक्रमण के खतरे के बीच उत्तराखंड में तीन महीने बाद एक बार फिर से क्लास 9 से 12वीं तक के स्टूडेंट्स के लिए स्कूल खोल दिए गए. जबकि, 6वीं से लेकर आठवीं क्लास तक के बच्चों के लिए 16 अगस्त से स्कूल खोलने की बात कही गई है. हालांकि, कई प्राइवेट स्कूलों ने आज भी स्कूल नहीं खोले. बच्चों को स्कूल आने के लिए फोर्स नहीं किया जाएगा. अभिभावकों की सहमति पर ही बच्चे स्कूल आ पाएंगे. इस बीच सभी प्राइवेट और निजी स्कूलों में ऑनलाइन क्लासेज भी जारी रहेगी. पहले दिन कम संख्या में स्टूडेंट स्कूल पहुंचे.

उत्तराखंड में नवीं से 12वीं तक के करीब चार हजार स्कूल हैं, जिनमें 3 लाख स्टूडेंट्स हैं. राजकीय बालिका इंटर कॉलेज देहरादून की प्रिंसिपल प्रेमलता बौड़ाई का कहना है कि उन्होंने कोविड प्रोटोकॉल के हिसाब से सभी तैयारियां पूरी कर ली हैं. स्कूल में प्रवेश से पहले बच्चों की थर्मल स्‍कैनिंग की जाएगी. इस स्कूल में 9वीं से 12 वीं तक कि क्लास में 400 स्टूडेंट्स हैं.

उत्तराखंड में पिछले साल मार्च में कोविड संक्रमण शुरू होने के बाद सभी स्कूल कॉलेज बंद कर दिए गए थे. दो नवम्बर 2020 को पहले दसवीं और बारहवीं क्लास के बच्चों के लिए स्कूल खोले गए और फिर इस साल दो फरवरी से छटवीं कक्षा से ऊपर के स्टूडेंट्स के लिए भी स्कूल खोल दिए गए थे. इस बीच अप्रैल में कोविड कई दूसरी लहर का प्रकोप बड़ा तो एक बार फिर 22 अप्रैल से स्कूल , कॉलेज बंद कर दिए गए थे. हालांकि, कॉलेज अभी भी बंद हैं. हायर एजुकेशन डिपार्टमेंट का कहना है कि वो यूजीसी की गाइड लाइन के अनुसार कॉलेज खोलेंगे.

चुनौतीपूर्ण फैसला: 

दूसरी ओर स्कूल खोलने का ये फैसला बेहद चुनौतिपूर्ण भी हो सकता है. कोरोना का खतरा अभी टला नहीं है. देश के 10 राज्यों केरल, महाराष्ट्र, कर्नाटक, तमिलनाडु, ओडिशा, असम, मिजोरम, मेघालय, आंध्र प्रदेश और मणिपुर में कोविड मामलों की संख्या बढ़ रही है. केन्द्र सरकार ने इन राज्यों को जरूरी सावधानियां बरतने के लिए भी कहा है. इसके अलावा देश के 46 जिलों में इन दिनों संक्रमण दर 10 प्रतिशत से ज्यादा और 53 जिलों में 5 से 10 प्रतिशत के बीच है.

उत्तराखंड में कोविड संक्रमण के आंकड़ों पर बेहद बारीकी से नजर रखने वाले सोशल डेवलेपमेंट फाॅर कम्युनिटी (एसडीसी) फाउंडेशन के संस्थापक अनूप नौटियाल का कहना है कि बेशक फिलहाल स्थिति ऐसी नहीं है, लेकिन हमारे लिए भी यह चिन्ता की बात है और यह संकेत है कि हमें अभी और जरूरी कदम उठाने चाहिए.

उत्तराखंड में हाल के दिनों में आये पाॅजिटिव केसेज के आंकड़ों को विश्लेषण करके उन्होंने कहा कि राज्य में कोविड संक्रमण के 72 हफ्ते 31 जुलाई को पूरे हो चुके हैं.  70 वें हफ्ते में राज्य में 296 नये कोविड केस आये थे. 71 वें हफ्ते में यह संख्या 240 थी, जबकि 72 वें हफ्ते में संख्या बढ़कर 466 हो गई.  यानी कि 71वें हफ्ते की तुलना में 72वें हफ्ते में 94 प्रतिशत केस बढ़ गये. अनूप नौटियाल का कहना है  कि संख्या की दृष्टि से ये आंकड़े बेशक बहुत छोटे हैं, लेकिन यह एक तरह से खतरे की घंटी है और इसे देखते हुए हमें संभलने की जरूरत है.

ये भी पढ़ें-
Sarkari Naukri : पंजाब में 6000 से अधिक शिक्षकों की नौकरी, इस तारीख से शुरू होगा आवेदन
Sarkari Naukri : क्या यूपी लेखपाल भर्ती में लागू होगी नॉर्मलाइजेशन प्रक्रिया, पढ़ें डिटेल

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज