होम /न्यूज /education /

Gemologist: रत्नों की है परख तो कमा सकते हैं अच्छा पैसा, जानें कोर्स और अवसर

Gemologist: रत्नों की है परख तो कमा सकते हैं अच्छा पैसा, जानें कोर्स और अवसर

Gemologist: रत्नों की है परख तो कमा सकते हैं अच्छा पैसा

Gemologist: रत्नों की है परख तो कमा सकते हैं अच्छा पैसा

Gemologist: रत्नों के जरिये ही ग्रहों और नक्षत्रों को बैलेंस करके जीवन में आने वाली मुश्किलों को दूर रखने का प्रयास करते हैं. इस पेशे में सैलरी की बढ़ोत्तरी अनुभव, जानकारी और संपर्क पर निर्भर करती है. एक मल्टीनेशनल कंपनी में सैलरी लाखों तक हो सकती है.

अधिक पढ़ें ...

    हाइलाइट्स

    असली रत्न कि पहचान करना, एक जेमोलॉजिस्ट का काम होता है.
    इन रत्नों के जरिये ही जीवन में चल रहे ग्रहों और नक्षत्रों की जानकारी मिलती है.
    कुछ सालों कि नौकरी के बाद अच्छी सैलरी मिलने लगती है.

    नई दिल्ली. Gemologist: रंग बिरंगे रत्नों की दुनिया और पेशा बहुत पुराना है. जेमोलॉजिस्ट का विज्ञान और प्रोफेशन बहुत ही अनोखा है. रत्नों से बहुत ज्यादा आकर्षित रहने वाले लोग जेमोलॉजी यानि रत्न शास्त्र में विशेषज्ञ बनकर खुद का एक शानदार करियर बना सकते हैं. असली रत्न की पहचान करना, उनकी जांच परख करना, ये सब एक जेमोलॉजिस्ट का काम है. कमाई की बात करें तो जानकारी और स्किल्स के आधार पर इस पेशे में कुछ सालों कि नौकरी के बाद 15 से 20 लाख तक वार्षिक सैलरी मिलने लगती हैं.

    रत्न के बारे में पढ़ाई करना ही जेमोलॉजी है. इसके अंतर्गत नेचुरल नग या स्टोन की जांच की जा जाती है और उनकी बारीकी से जानकारी दी जाती है. उन्हें रत्न में मौजूद खामियां और अच्छाई के बारे में आंकलन करना सिखाया जाता है. इसमें वैल्यूएशन, सॉर्टिंग, ग्रेडिंग, डिज़ाइन, लेटेस्ट ट्रेंड के बारे में विस्तृत पढ़ाई होती है.

    इन पोस्ट पर मिलता है काम
    डायमंड ग्रेडर-  यह करियर रत्नों के क्षेत्र में खूब मायने रखता है. यह रत्नों की विशेषता और उसकी गुणवत्ता की जांच परख करने में माहिर होते हैं. रत्न के रंग रूप के आधार पर उनके मूल्य निर्धारित करते हैं.

    ज्वेलरी डिज़ाइनर- किसी भी ज्वेलरी को आकर्षक रूप देने के लिए इन ज्वेलरी डिज़ाइनर की जरुरत होती है. रत्नों की डिज़ाइन आकार व रंगों के आधार पर पैटर्न तैयार करके उन्हें खूबसूरत बनाने का काम इनका ही होता है.

    स्टोन सेटर – किसी नग या रत्न की परख स्टोन सेटर ही करता है. किसी भी महंगे रत्न को प्लास्टिक या मैटल के आभूषण में सेट करने में यह लोग काफी पारखी होते हैं.

    जेम ऑक्शन एंड एक्सपोर्ट मैनजेर –रत्नों  को एक्सपोर्ट करने और उनकी नीलामी का काम जेम ऑक्शन मैनजेर के हाथों में होता है जिसके लिए इन्हें प्रशिक्षित किया जाता है.

    जरूरी योग्यता
    जेमोलॉजी में करियर बनाने के लिए बारहवीं पास होना जरुरी हैं. किसी भी स्ट्रीम के कैंडिडेट ये कोर्स कर सकते हैं .इसमें एडमिशन लेने के लिए कोई प्रवेश परीक्षा उपलब्ध नहीं है. इसमें डाइरेक्ट एडमिशन लिया जा सकता है .

    जेमोलॉजी के प्रमुख कोर्स कौन से हैं
    सर्टिफिकेट कोर्स इन इंटरनॅशनल सिस्टम ऑफ़ डायमंड ग्रूमिंग
    ग्रेडिंग, कटिंग, पॉलिशिंग एंड ब्रूडिंग सर्टिफिकेट कोर्स
    ज्वेलरी ट्रैड मैनजेमेंट डिप्लोमा
    जेमोलॉजी डिप्लोमा
    डायमंड प्रोसेसिंग डिप्लोमा
    बैचलर इन ज्वेलरी डिजाइनिंग एंड फाइन आर्ट
    पोस्ट ग्रेजुएट इन डायमंड टेक्नोलॉजी
    पोस्ट ग्रेजुएशन इन ज्वेलरी डिजाइनिंग एंड फाइन आर्ट्स

    कहां मिलेंगे अवसर
    एक समय पहले तक इसमें लोग सिर्फ खुद के बिजनेस का सेटलमेंट करते थे. समय बदला तो इसमें कमाने के तरीके भी बदले. अब बिजनेस के अलावा नौकरी के भी कई विकल्प मिल सकते हैं. जिसमें अच्छी जानकारी होने पर मनचाहा पैसा मिल सकता है. जिन जगहों पर जॉब मिलती हैं उसमें ज्वेलरी बिज़नेस मैनजेमेंट, जेम एक्सपोर्ट डिपार्टमेंट, जेम टेस्टिंग लैब, ज्वेलरी प्रोडक्ट डिपार्टमेंट ज्विलरी शोरूम, खनन इंडस्ट्री, ज्वेलरी क्रिएशन डिपार्टमेंट इन सब जगहों पर काम किया जा सकता है.

    ये भी पढ़ें-
    BSNL Sarkari Naukri 2022: BSNL में इन पदों पर बिना परीक्षा पा सकते हैं नौकरी, आवेदन शुरू, मिलेगी अच्छी सैलरी

    कितनी मिलती ही सैलरी
    अगर कैंडिडेट में रत्नों का विज्ञान समझने की कला मजबूत है तो एक जेमोलॉजिस्ट फ्रेशर के तौर पर 3 से 5 लाख रूपए वार्षिक कमाता है. कुछ साल के बाद अनुभव जानकारी और सम्पर्क के आधार सैलरी 8 से 10 लाख रूपए वार्षिक पहुंच सकती है. इसमें सैलरी में बढ़ोत्तरी काफी जल्दी होती है. मल्टीनेशनल कंपनी में नौकरी करने पर इस सालाना पैकेज में कुछ अंतर हो सकता है.

    Tags: Career, Job

    अगली ख़बर