'कोविड के दौरान पोषण एवं खान-पान कैसा हो' विषय पर वेबिनार

मानव शरीर के लिए प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, वसा, विटामिन्स की आवश्यकता होती है

मानव शरीर के लिए प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, वसा, विटामिन्स की आवश्यकता होती है

विस्तार से चर्चा करते हुए बताया कि हमें अपने भोजन में कौन - कौन से पदार्थ को कितना मात्रा में लेना है और किस चीज को नहीं लेना है.

  • Share this:

राँची. राष्ट्रीय सेवा योजना, झारखण्ड एवं यूनीसेफ, झारखण्ड के संयुक्त तत्वावधान में " कोविड - 19 महामारी के दौरान पोषण एवं खान - पान कैसा हो " विषय पर 18 मई 2021 को जूम लिंक के माध्यम से वेबिनार आयोजित की गई जिसमें पूरे झारखंड के सभी विश्वविद्यालयों के एन एस एस के 300 कार्यक्रम समन्वयक, कार्यक्रम पदाधिकारी एवं स्वयंसेवक उपस्थित रहें.

दिनचर्या में हमारा खान-पान एवं आहार के संबंध में जानकारी 

वेबिनार की मुख्य अतिथि राँची विश्वविद्यालय की कुलपति डॉ कामिनी कुमार ने अपने संबोधन में कहा कि कोविड के इस महामारी के दौरान हमें अपना प्रतिरोधक क्षमता बढ़ाने की बिल्कुल आवश्यकता है जिसके लिए हमारे दिनचर्या में हमारा खान - पान एवं आहार के संबंध में जानकारी अतिआवश्यक है.उन्होंने कहा कि पौष्टिक भोजन लेने से मन को थकने नहीं देगा और जोश को खत्म नहीं होने देगा.

हमेशा सकारात्मक सोच के साथ
उन्होंने पोषण की पौष्टिकता पर विस्तार से चर्चा करते हुए कहा कि मानव शरीर के लिए प्रोटीन, कार्बोहाइड्रेट, वसा, विटामिन्स की आवश्यकता होती है इसके लिए आवश्यक है कि हमें किन पौष्टिक पदार्थों का सेवन करना है .उन्होंने इस महामारी में कोरोना वायरस को हराने के लिए हमेशा सकारात्मक सोच के साथ अपनी जीवन शैली में संतुलित आहार अपनाने का आह्वान किया.

पौष्टिक पदार्थो के सेवन की जानकारी

वेबिनार के विशिष्ट अतिथि झारखण्ड सरकार के पूर्व खेल निदेशक श्री अनिल कुमार सिंह (आई ए एस) ने अपने संबोधन में कहा कि इस महामारी में अपने भोजन में हरी सब्जियां, मौसमी फलों, दूध, पनीर एवं अन्य पौष्टिकता से युक्त सामग्रियों को शामिल करने से हम कोरोना वायरस को हर हालत में रोक सकते हैं. उन्होंने कहा कि प्रत्येक एन एस एस स्वयंसेवक आज के वेबिनार से पौष्टिक पदार्थो के सेवन की जानकारी मिल रही है उसे स्वयं पालन करें और अपने मित्रों एवं परिजनों को भी जागरूक करें.



कौन से पदार्थ को कितना मात्रा में लेना है

आज के वेबिनार की की नोट स्पीकर यूनीसेफ की पोषण विशेषज्ञ प्रीतू मिश्रा ने अपने संबोधन में पौष्टिक पदार्थो एवं उनसे होने वाले लाभ की विस्तार से चर्चा करते हुए बताया कि हमें अपने भोजन में कौन - कौन से पदार्थ को कितना मात्रा में लेना है और किस चीज को नहीं लेना है. उन्होंने कहा कि भारत के तिरंगे के तीनों रंगों की तरह हमें अपनी भोजन की थाली में खाद्य पदार्थ को शामिल करने पर जोर देते हुए कहा हरी सब्जियां, फलों, दाल, मिनरल्स, विटामिन युक्त पदार्थो जैसे बादाम, मूंग, चना, सलाद, निम्बू जैसे पदार्थों का नियमित सेवन करना होगा.उन्होंने पौष्टिक भोजन से संबंधित वीडियो एवं पावर पॉइंट के माध्यम से अपना प्रस्तुति दिया.

एन एस एस के युवा कार्यक्रम सलाहकार श्री कमल कुमार कर(नई दिल्ली) ने पूरे देश मे एन एस एस द्वारा इस महामारी में किये गए कार्यों की चर्चा करते हुए कहा कि 71000 स्वयंसेवक प्रशासन से सीधे जुड़कर अपना महत्वपूर्ण योगदान दे रहें हैं. आदरणीय प्रधानमंत्री जी, कई राज्यों के मुख्यमंत्री जी ने भी कोविड महामारी में एन एस एस के स्वयंसेवकों के कार्यों की सराहना की है जो हमें उत्साह देता है और हम और अधिक ऊर्जा के साथ कार्य करते हैं.

एन एस एस के क्षेत्रीय निदेशक श्री दीपक कुमार(गुवाहाटी) ने कहा कि पौष्टिक भोजन के साथ योग - व्यायाम भी अतिआवश्यक है एवं हमें इस अभियान में सोशल मीडिया के माध्यम से अच्छे - अच्छे संदेश देने वाले वीडियो एवं पोस्टर के माध्यम से अन्य लोगों को जागरूक करना होगा.

स्वागत भाषण यूनीसेफ की राज्य पदाधिकारी आस्था अलंग ने किया एवं संचालन राज्य एन एस एस पदाधिकारी डॉ ब्रजेश कुमार ने किया.

आज के वेबिनार में एन एस एस के क्षेत्रीय निदेशक (बिहार एवं झारखण्ड) पीयूष परांजपे (पटना), डॉ मेरी मार्गरेट टुडु( एस के एम यू,दुमका), डॉ दारा सिंह गुप्ता(कोल्हान विश्वविद्यालय, चाईबासा) डॉ जोनी रूफिना तिर्की(बी भी यू, हजारीबाग), डॉ मसूफ अहमद(बी बी एम के यू, धनबाद) , डॉ बी के झा (बी ए यू, कांके), डॉ सुभाष कुमार बैठा(सी यू जे, राँची) सहित कई विश्वविद्यालयों के कार्यक्रम समन्वयक, 24 जिलों के नोडल पदाधिकारी, एवं प्रत्येक विश्वविद्यालय से 10 -10 कार्यक्रम पदाधिकारी एवं 25 - 25 स्वयंसेवकों ने भाग लिया.

ये भी पढ़ें-

CBSE 10th Result 2021: 10वीं के रिजल्ट के लिए करना होगा इंतजार, CBSE ने जारी किया नया शेड्यूल

UP Board Exam 2021: हाईस्कूल की परीक्षा रद्द करने की तैयारी, मांगे गए छमाही और प्री बोर्ड के रिजल्ट

आज के वेबिनार को सफल बनाने में डॉ प्रियंका सिंह, विकास कुमार सिंह, फलक फातिमा, हेमंत कुमार, राहुल कुमार साहू, दिवाकर आनंद आदि का उल्लेखनीय योगदान रहा.

सभी राज्यों की बोर्ड परीक्षाओं/ प्रतियोगी परीक्षाओं, उनकी तैयारी और जॉब्स/करियर से जुड़े Job Alert, हर खबर के लिए फॉलो करें- https://hindi.news18.com/news/career/

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज