भोजपुरी विशेष: जब धोनी ललकरले, हम कवनो के माही-वाही नाहीं, हमका चांही बदला ...

भोजपुरी विशेष: जब धोनी ललकरले, हम कवनो के माही-वाही नाहीं, हमका चांही बदला ...
धोनी के एगो बिडियो भाइरल भइल रहे जवना में उनकर लइकी भोजपुरी में पूछs तारी, ऐ महेनदर सिंह धोनी, कइसन बा ?

आईपीएल आवे वाला बा. क्रिकेट से सन्यास महेनदर सिंह धोनी के खेल देखे के सबका इंतजार बा. सब इहे चाहता कि धोनी फेर से धुन देस. यही मौका पर लेखक धोनी के खेल अउरी उनका स्टाइल के याद करत बाने.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 8, 2020, 1:33 PM IST
  • Share this:
कोरोना के कबs मऊतs आई, पाता ना. एकरा चलते किरकेटो के माजा किरकिरा हो गइल. पांच महीना से छाक्का-चौउका देखलs मोहाल रहे. लेकिन अब आइपीएल होखे के खबर से मिजाज हरियर बा. अब फेन कपार पs किरकेट के बोखार चढ़ी. मन बेचैन बा कि कब 19 सितम्बर आवे कि महेनदर सिंह धोनी के खेलs देखीं. धोनी जइसन खेलाड़ी बिरले पैदा होखे ले. जेतना बड़s खेलाड़ी ओतने बड़s इंसान. मन में बबंडर उठलs बा कि ऊ सनयास लेला के बाद कइसन खेलीहें. हमार तs साध बा कि धोनी धुआंधार खेलs देखावस जवना से कि बिरोधी लोगन के जबाब मिल जाए.

एक साल से बेसी हो गइल उनका के मैदान पs देखला. एह बात में कवनो शक नइखे कि हम धोनी के पक्का सपोटर हईं. उनका खिलाफ एक्को लफज मंजूर नइखे. काल्हे बड़का चा के लइका बंटिया से धोनी खातिर बतकूच्चन हो गइल. बंटिया कहे लागलs कि अब धोनी-तोनी गइले हावा खाये, खेला देखे के बा तs रोहित सरमा के देखs. हम कहनी, देखs बंटी तूं रोहित के भजन गावs, ओहसे हमरा कोवनो दिकत नइखे, लेकिन इ बतावs कि रोहित, धोनी जइसन भोजपुरी कबो बोल सके ले का ? धोनी बिहारी होके दू-दू गो बल्ड कप जितवले, का रोहित कबो अइसन कर सकिहें ? बंटिया आंख तरेर के कहलस, ई धोनी कब से भोजपुरी बोले लगले? हम तs टीभी पs उनका के धुराझार अंगरेजी बोलत देखले बानी. आ ई बतावs कि धोनी कब से बिहारी हो गइले ? ऊ तs रांची रहेले.

भोजपुरी स्पेशल- गायक बन गइले नायक, भोजपुरी सिनेमा अपना समाजे से कटि गइल



धोनी कहले, हमरा बदला चाहीं
बंटिया के बात पs खीस बर गइल. कहनी, देख तोरा ना बुझाए तs मुंह न लड़वनी. महेनदर सिंह धोनी अपना जिनगी के शुरुआती 23 रनजी मैच बिहारे से खेलल रहन. उनकर किरकेट बिहार से शुरू भइल तs ऊ बिहारी कहइंये कि ना ? उनकर बाबू जी नौकरी करे अत्तराखंड से रांची आइल रहन. रांची में धोनी के संघतिया भोजपुरी बोले वाला रहनs. एहसे उहो भोजपुरी बोले के जान गइले. धोनी पर बनल सिनेमा ना देखले रहस का ? धोनी जब पंजाब वला मैच के हाल सुनावतs बाड़े तs उनककर डाइलौक रहे, “पूरे डे थ्री में उनका एक्के बिकेट गिरता है.” इ फिलिम में धोनी के हिन्दी पs भोजपुरी के ठप्पा लागल रहे.

ऊ भले टीभी पs अंगरेजी में बतियावले लेकिन अपना संगी साथी में भोजपुरिये टोन में हिंदी बोलेले. दू साल पहिले आइल अस्नीकर चकलेट वाला प्रचारो में धोनी भोजपुरी में डाइलौक बोलले रहन. धोनी बैट के तलवार बना के कहतs बाड़े- हमका चांही बदला, हम कवनो के माही-वाही नाहीं.... धोनी तs धोनी उनकर नन्हबुटनी लइइकियो भोजपुरी बोलेले. धोनी के एगो बिडियो भाइरल भइल रहे जवना में उनकर लइकी भोजपुरी में पूछs तारी, ऐ महेनदर सिंह धोनी, कइसन बा ? तs ऊ जबाब में कहत बाड़े- ठीके बा. बंटिया हमार बात सुन के सकपका गइल लेकिन ढीठ अइसन कहलसs – देखs ए सन्नी भईया, तूं कतनो काथा कहानी कहs लेकिन रोहित के आंगा सभे फेल बा.

भोजपुरी विशेष - लालूजी लचार काहे भइले,कइसे मिली राजद के गद्दी? 

धोनी अउर सांसद मनोज तिवारी
जब कतनो समझवला पs बंटिया ना मानलs तs कहनी, देखs 19 सितम्बर के पहिले मैच में पाता चल जाई कि सेर के बा आउर सवासेर के बा. धोनी अउर रोहित के टीम में जब भिड़ंत होई तs पानी के थाह लागs जाई. रोहितो बड़s खेलाड़ी हवें लेकिन धोनी के बराबरी मोसकिल बा. धोनी जइसन किरकेटिया दिमाग दुनिया में खोजलो ना मिली. उनकर रेफरल अउर असटम्पिंग के कवनो जोड़ा बा ? खेलाड़ी के बातs छोड़s, धोनी दिल के राज हवन. एह साल 15 अगस्त के जब धोनी सनयास लेले रहनs तs ओह घरी बारह साल पुरान एगो बिडियो भाइरल भइल रहे. ई बिडियो में भोजपुरी सिनेमा के हीरो मनोज तिवारी के मेहरारू रानी पांडे डांस करत बाड़ी अउर धोनी टेबुल पs बईठ के गीत गवनई के आनंद उठा रहल बाड़े. बंटिया पूछलस, भला धोनी मनोज तिवारी के कइसे जानतs रहन ? हम कहनी, धोनी के बिजनेस पाटनर अरुण पांड हउवन. मनोज तिवारी के मेहरारू रानी पांडे उनकर बहिन हई. मनोज तिवारी 2008 में भोजपुरी सिनेमा के बड़का हीरे बन गइल रहन. उनकर मेहरारू रानी पांडे भी गायिका रही अउर परदा पर आवल चाहतs रही. तब मनोज तिवारी एगो एलबम बनावे के सोचले. जब बिडियो के शूटिंग के तइयारी होखे लागल तs रानी पांडे के भाई अरुण पांडे आपन दोस्त धोनी से एकरा में काम करे के कहले. धोनी रानी के बहिन जइसन मानतs रहन.

ऊ एह बिडियो में काम करे के खातिर तैयार हो गइले. तब ले धोनी भारत के कपतान बन गइल रहन. ओह घरी उनका परचार खातिर करोड़ो रोपेया मिलतs रहे. लेकिन ऊ अपना दोस्त के बहिन खातिर एह बिडियो में बिना पइसा के काम कइले. अइसन दिलदार हवें महेनदर सिंह धोनी. एतना बात सुन के बंटिया के काठ मार देलस. ऊ टुकुर-टुकुर हमरा देने देखे लागलs. फेन कहलस, का सन्नी भइया तूं हमार दिमागे फेर दिहलs.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज