क्या बीजेपी के लिए फायदेमंद साबित होंगे भोजपुरी स्टार निरहुआ और रवि किशन?

क्या बीजेपी के लिए फायदेमंद साबित होंगे भोजपुरी स्टार निरहुआ और रवि किशन?
दिनेश लाल यादव 'निरहुआ' और रवि किशन

इन दोनों अभिनेताओं का पूर्वांचल में खासा प्रभाव है, दोनों की फिल्‍मों का एक बड़ा दर्शक वर्ग इस क्षेत्र से आता है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 27, 2019, 7:41 PM IST
  • Share this:
लोक सभा इलेक्शन 2019 के चुनावी मैदान में दो भोजपुरी अभिनेताओं के सहारे इस बार बीजेपी पूर्वांचल में पैठ मजबूत करने में जुट गई है. पार्टी को उम्‍मीद है भोजपुरी स्टार दिनेश लाल यादव 'निरहुआ' और रवि किशन मिलकर मतदाताओं को रिझा कर उसके पक्ष में कर लेंगे. इस क्षेत्र में पार्टी के पास योगी आदित्‍यनाथ, कलराज मिश्र, केशव प्रसाद मौर्य, स्‍वामी प्रसाद मौर्य, रमापति राम त्रिपाठी और शिव प्रताप शुक्‍ल जैसे दिग्गज नेता मौजूद हैं. वहीं खुद प्रधानमंत्री भी पूर्वांचल के वाराणसी लोकसभा क्षेत्र से सांसद हैं.

गौरतलब है कि इन दोनों अभिनेताओं का पूर्वांचल में खासा प्रभाव है, दोनों की फिल्‍मों का एक बड़ा दर्शक वर्ग इस क्षेत्र से आता है. ऐसे में भले ही भोजपुरी स्टार्स के पास एक बड़ी फैन फॉलोइंग हो लेकिन चुनावी मैदान पर उन्हें मुश्किलों का सामना करना पड़ता है. वर्तमान में दिल्‍ली में बीजेपी के प्रदेश अध्‍यक्ष मनोज तिवारी, गोरखपुर में योगी आदित्‍यनाथ से चुनावी रण में हार का सामना कर चुके हैं. वह 2009 में सपा से गोरखपुर लोकसभा क्षेत्र के प्रत्‍याशी थे वहीं 2014 के चुनाव में रवि किशन, जौनपुर सीट से कांग्रेस के उम्‍मीदवार रह चुके हैं.

बता दें रवि किशन, 2014 के चुनाव परिणाम में बीजेपी प्रत्‍याशी के सामने तीसरे नंबर थे. पिछले आंकड़े बताते हैं कि पूर्वांचल के लोग इन्‍हें अभिनेता के तौर पर मानते हैं न कि नेता के तौर पर. ये भीड़ तो जुटा लेते हैं लेकिन उसे वोट में कन्‍वर्ट नहीं कर पाते. अब ऐसे में देखना होगा कि इस बार के चुनाव में इन भोजपुरी स्टार्स का स्टारडम बीजेपी के लिए कितना काम आता है. वहीं सवाल ये भी है कि क्या ये दोनों स्टार्स इस बार के चुनाव में अपनी पॉपुलैरिटी भुना सकेंगे?



एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज