43 Years of Trishul: जब पूनम ढिल्लो को बिना बताए शशि कपूर ने जड़ दिया था तमाचा, मांगनी पड़ी थी माफी

फिल्म 'त्रिशूल' रिलीज के बाद 50 हफ्तों तक सिनेमाघरों में चली थी (फोटो साभारः Twitter@BombayBasanti)

फिल्म 'त्रिशूल' रिलीज के बाद 50 हफ्तों तक सिनेमाघरों में चली थी (फोटो साभारः Twitter@BombayBasanti)

बॉलीवुड की ब्लॉकबस्टर फिल्म 'त्रिशूल' (Trishul) को रिलीज हुए 43 साल (43 Years of Trishul) हो गए हैं. इस मल्टिस्टारर फिल्म ने कई एक्टर्स के करियर को आगे बढ़ाया. आइये, इस मौके पर इस फिल्म से जुड़े कुछ मशहूर किस्सों के बारे में जानते हैं.

  • Share this:
नई दिल्लीः यश चोपड़ा (Yash Chopra) की फिल्म 'त्रिशूल' (Trishul) एक ब्लॉकबस्टर फिल्म थी, जो 43 साल पहले 5 मई 1978 को सिनेमाघरों में रिलीज हुई थी. इस फिल्म में अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan), शशि कपूर (Shashi Kapoor) और संजीव कुमार (Sanjeev Kumar), हेमा मालिनी (Hema Malini), वहीदा रहमान (Waheeda Rehman), राखी, सचिन, प्रेम चोपड़ा जैसे कई बड़े स्टार थे. इतनी शानदार स्टार कास्ट और यश चोपड़ा के सधे हुए निर्देशन ने फिल्म को ब्लॉकबस्टर फिल्म बना दिया था. तब इन बड़े सितारों के बीच, एक्ट्रेस पूनम ढिल्लो (Poonam Dhillon) को फिल्मों में पहली बार काम का मौका मिला था. आइये, इस मौके पर फिल्म से जुड़े कुछ मशहूर किस्सों के बारे में जानते हैं.

इस फिल्म से बॉलीवुड की ग्लैमरस एक्ट्रेस पूनम ढिल्लो ने बॉलीवुड डेब्यू किया था. एक्ट्रेस मिस इंडिया का खिताब जीतने के बाद निर्देशक यश चोपड़ा की नजरों में आ गई थीं. यश ने उन्हें फिल्मों का ऑफर दिया, लेकिन एक्ट्रेस ने काफी मुश्किल से हामी भरी थी. दरअसल, वे नहीं चाहती थीं कि किसी भी वजह से उनकी पढ़ाई डिस्टर्ब हो.

(फोटो साभारः Twitter@BombayBasanti)


यश चोपड़ा अपनी फिल्मों के सीन को रिएलिस्टिक दिखाने के लिए कई प्रयोग किया करते थे. ऐसा ही एक प्रयोग, उन्होंने अपनी इस फिल्म में भी किया था. दरअसल, त्रिशूल के एक सीन में शशि कपूर को पूनम को थप्पड़ मारना था. सीन रियल लगे, इसके लिए यश चोपड़ा के एक्शन बोलते ही शशि ने पूनम को बिना बताए जोरदार तमाचा जड़ दिया. हालांकि, बाद में शशि ने पूनम से माफी मांग ली थी.
(फोटो साभारः Twitter@BombayBasanti)


फिल्म 'त्रिशूल' बॉलीवुड की चुनिंदा फिल्मों में से एक है, जो रिलीज के बाद 50 हफ्तों तक सिनेमाघरों में चली थी. तब इस फिल्म के डायलॉग लोगों की जुबान पर चढ़ गए थे. जैसे अमिताभ बच्चन का बोला यह डॉयलोग तब काफी मशहूर हुआ था- सही बात को सही वक्त पे कहा जाए तो उसका मजा ही कुछ और है, और मैं सही वक्त का इंतजार करता हूं. इस फिल्म को सलीम-जावेद की जोड़ी का साथ मिला था, तो फिल्म के डायलॉग भी जानदार होने ही थे.

(फोटो साभारः Twitter@BasitSubhani)




अमिताभ बच्चन और यश चोपड़ा बहुत अच्छे दोस्त भी थे. अमिताभ के करियर में यश चोपड़ा का बहुत बड़ा हाथ रहा है. यश चोपड़ा के साथ बिग बी ने 'दीवार', 'सिलसिला', 'कभी-कभी', 'त्रिशूल', 'बंटी और बबली', 'काला पत्थर' जैसी फिल्मों में काम किया था. जब अमिताभ को यश चोपड़ा की तबियत खराब होने की खबर मिली, तो अमिताभ ने फोन करके उनका हाल-चाल पूछा और उनसे मिलने का वादा किया. यश चोपड़ा ने भी कहा, 'ठीक है उस दिन कोई और काम नहीं करेंगे, सिर्फ बातें करेंगे.'

अमिताभ बच्चन मिलने का वादा करके अपने कामों में बिजी हो गए. फिर एक दिन उन्हें खबर मिली कि यश चोपड़ा नहीं रहे. बिग बी को उनसे न मिल पाने का आज भी मलाल है. अमिताभ बच्चन ने एक इंटरव्यू में कहा था, 'यश जी को खोकर ऐसा लगता है कि जैसे मेरे दिल का एक हिस्सा टूट गया है'.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज