बिहार DGP बोले- सुशांत के अकाउंट से निकले 50 करोड़ रुपये, इस एंगल से जांच क्यों नहीं करती मुंबई पुलिस

बिहार DGP बोले- सुशांत के अकाउंट से निकले 50 करोड़ रुपये, इस एंगल से जांच क्यों नहीं करती मुंबई पुलिस
सुशांत सिंह राजपूत और गुप्तेश्वर पांडेय.

बिहार के डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय (Gupteshwar Pandey) ने मुंबई पुलिस (Mumbai Police) से पूछा है कि सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) के अकाउंट से निकाले गए 50 करोड़ ₹ वाले एंगल पर जांच क्यों नहीं की गई.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 4, 2020, 11:25 AM IST
  • Share this:
पटना. एक्टर सुशांत सिंह राजपूत सुसाइड केस (Sushant Singh Rajput Suicide Case) की जांच के बारे में मुंबई पुलिस (Mumbai Police) और बिहार पुलिस (Bihar Police) के बीच जुबानी जंग और बुरे स्तर पर पहुंच गई. क्योंकि बिहार के पुलिस महानिदेशक (DGP) गुप्तेश्वर पांडेय (Gupteshwar Pandey) ने मुंबई पुलिस से ऐसा सवाल पूछ लिया है, जिसका जवाब फिलहाल मुंबई पुलिस के पास नहीं है. उन्होंने सोमवार को मुंबई पुलिस से पूछा कि सुशांत के बैंक अकाउंट से निकाले गए पैसों के एंगल पर अभी तक जांच क्यों नहीं की गई?

डीजीपी ने बताया, ‘पिछले 4 वर्षों में सुशांत सिंह राजपूत के बैंक खाते में लगभग 50 करोड़ रुपये जमा किए गए, लेकिन आश्चर्यजनक रूप से सारे पैसे निकाल लिए गए. एक साल में उनके खाते में 17 करोड़ रुपये जमा किए गए, जिसमें से 15 करोड़ रुपये निकाल लिए गए.'

सुरागों को क्यों दबा रही है मुंबई पुलिस
हैरान हो रहे डीजीपी ने मीडिया को बताया, ‘क्या यह एक अहम एंगल नहीं है जिसकी जांच की जानी चाहिए. हम शांति से बैठने नहीं जा रहे हैं.’ दुखी लग रहे डीजीपी ने यह भी पूछा कि, मुंबई पुलिस इस तरह के सुरागों को क्यों दबा रही है? बिहार पुलिस की जांच टीम का नेतृत्व करने के लिए पटना सिटी एसपी विनय तिवारी बीते रविवार (2 जुलाई) शाम को मुंबई पहुंचे. बीएमसी ने उन्हें रात 11 बजे हाथ पर स्टैंप लगाकर क्वारंटीन कर दिया, इसको लेकर भी उन्होंने सवाल किए.
सबूत और जांच रिपोर्ट देने की जगह हमारे IPS अफसर को अरेस्ट कर लिया


डीजीपी गुप्तेश्वर पांडेय ने पूछा, 'इस केस से जुड़े सबूत या पोस्टमॉर्टम और फॉरेंसिक रिपोर्ट्स जैसी चीजें हमें देने की जगह मुंबई पुलिस ने हमारे IPS अधिकारी को लगभग हाउस अरेस्ट कर लिया. मैंने किसी और राज्य की पुलिस द्वारा ऐसा असहयोग करते हुए नहीं देखा है. यदि मुंबई पुलिस केस की जांच करने में ईमानदार होती तो वे जांच के सारे डिटेल्स हमसे शेयर करती.' गुप्तेश्वर पांडेय के सवालों के बाद मुंबई पुलिस कमिश्नर परमबीर सिंह ने मीडिया से बातचीत की और अपनी टीम की जांच को सही और प्रोफेशनल बताया.

बिहार पुलिस की 4 सदस्यीय टीम सुशांत केस में जांच करने बुधवार को मुंबई पहुंची. इस टीम का नेतृत्व करने पटना के सिटी एसपी विनय तिवारी भी रविवार शाम मुंबई पहुंचे थे. बिहार पुलिस का आरोप है कि विनय तिवारी को जबरन क्वारंटीन किया गया है.

इन धाराओं में रिया चक्रवर्ती समेत 6 अन्य लोगों पर दर्ज है केस
राजपूत के पिता के.के. सिंह (74) ने 28 जुलाई को पटना में रिया चक्रवर्ती, उनके परिवार के सदस्यों सहित छह अन्य लोगों के खिलाफ उनके बेटे को कथित रूप से आत्महत्या के लिए उकसाने का मामला दर्ज कराया. इन सभी के खिलाफ पटना में पुलिस ने भादंसं की धाराओं 341, 342 (आपराधिक तरीके से बंधक बनाना), 380 (जिस घर में रहें, वहां चोरी करना), 406 (आपराधिक विश्वासघात), 420 (धोखाधड़ी) और 306 (आत्महत्या के लिए उकसाना) में मामला दर्ज किया है. सिंह ने टीवी एवं फिल्म अभिनेत्री चक्रवर्ती पर आरोप लगाया कि उसने अपना करियर संवारने के लिए मई 2019 में सुशांत से दोस्ती की थी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज