Lagaan को लेकर आदित्य चोपड़ा-करण जौहर ने दी थी आमिर खान को चेतावनी, कहा था-'बड़ा रिस्क ले रहे हो'

आमिर ने रिस्क लिया और हिट हो गया 'लगान'. (फोटो साभार: पोस्टर)

आमिर खान (Aamir Khan) की फिल्म ‘लगान’ (Lagaan) के 20 साल पूरे हो गए हैं. इस फिल्म से ही आमिर ने प्रोड्यूसर बनने का फैसला किया, इस फिल्म से कई एक्सपेरिमेंट भी किए जो कामयाब रहे.

  • Share this:
    मुंबई : बॉलीवुड के मिस्टर परफेक्शनिस्ट आमिर खान (Aamir Khan) ने बतौर निर्माता पहली बार फिल्म ‘लगान’ (Lagaan) बनाई.  अपने हर काम को बेहद बारीकी से करने के लिए फेमस आमिर ने किसी तरह का समझौता फिल्म निर्माण में नहीं किया. ‘लगान’ के 20 साल पूरे होने पर एक्टर-फिल्ममेकर ने कई दिलचस्प घटनाओं और मजेदार यादों को एक वर्चुअल इन्टरैक्शन के दौरान साझा किया. इसी दौरान बताया कि करण जौहर और आदित्य चोपड़ा फिल्म के रिस्क को लेकर कितने चिंतित थे.

    आमिर खान ने बताया कि ‘जब मैंने ‘लगान’ बनाने का फैसला किया, मैं जानता था कि मैं बहुत बड़ी चुनौती ले रहा हूं क्योंकि यह लीक से हटकर फिल्म थी. शूटिंग के लिए निकलने से कुछ हफ्ते पहले मेरी मुलाकात आदित्य चोपड़ा और करण जौहर से हुई. दोनों मेरे बहुत अच्छे दोस्त हैं और वे वास्तव में चिंतित थे. उन्होंने कहा कि ‘आप अपने प्रोडक्शन में पहली बार एक बड़ी फिल्म बना रहे हो, सिंगल शेड्यूल में शूटिंग कर रहे और सिंक साउंड का इस्तेमाल भी. 30 दिन शूट करिए और देखें कि यह कैसा होता है. सिंगल शेड्यूल न करें, आपके पास अपनी गलतियों को ठीक करने का मौका नहीं होगा. सिंक साउंड का इस्तेमाल भी न करें, इससे आपकी शूटिंग में देरी होगी. डायलॉग्स को बाद में डब कर लीजिएगा,यही समझदारी होगी’.

    lagaan poster,aamir khan
    (फोटो साभार: फिल्म पोस्टर)


    लेकिन आमिर ने उनकी सलाह नहीं मानी. आमिर ने बताया कि ‘मैं पांच साल पहले ही सिंगल शेड्यूल शूटिंग और सिंक साउंड का इस्तेमाल करना चाहता था. मैं 1995 से ही डायरेक्टर से सिंक साउंड के लिए कहता था क्योंकि शूटिंग के समय जो इमोशन मैं क्रिएट कर रहा होता हूं वह बर्बाद हो जाता है,फिर डबिंग के समय वही इमोशन फिर लाना पड़ता. ये ऐसी चीजें थी जिसे एक एक्टर के तौर पर मैं करना चाहता था लेकिन मेरे प्रोड्यूसर मेरी बात नहीं मानते थे. उन्हें ऐसा करने का भरोसा ही नहीं था. लेकिन जब मैं प्रोड्यूसर बना तो कहा ‘मैं तो करूंगा’. मैंने  सिंगल शेड्यूल शूट, सिंक साउंड और पहली बार एडी सिस्टम ले आया’.

    आमिर खान ने बताया कि  ‘अपूर्व लाखिया ‘लगान’ के असिस्टेंट डायरेक्टर थे. उन्हें लेने की एक वजह थी कि वे गुजराती थे. हमे कोई ऐसा चाहिए था जो कच्छ में शूटिंग के दौरान लोगों से उनकी ही भाषा में बात कर सके. एक एडी के तौर पर यह बहुत बड़ी फिल्म थी, लेकिन अपूर्व ने बहुत अच्छा काम किया. अब वह एक डायरेक्टर बन गए हैं.’

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.