मशहूर गीतकार अभिलाष का निधन, लिवर कैंसर के चलते दुनिया को कहा अलविदा

दिग्गज गीतकार अभिलाष का निधन. (photo credit: facebook/Hitesh Kumar)
दिग्गज गीतकार अभिलाष का निधन. (photo credit: facebook/Hitesh Kumar)

अभिलाष (Abhilash) बीते दिनों ही लिवर कैंसर से पीड़ित पाए गए थे. जिसके बाद उनके लिवर ट्रांसप्लांट की तैयारी की जा रही थी. लेकिन, हालत बिगड़ने के बाद मुंबई में उनका निधन हो गया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 28, 2020, 2:27 PM IST
  • Share this:
मुंबई. साल 1985 में आई फिल्म 'अंकुश' (Ankush) के लिए 'इतनी शक्ति हमें देना दाता, मन का विश्वास कमजोर हो ना' (Itni Shakti Hamein Dena Data) जैसे लोकप्रिय गाने को लिखने वाले गीतकार और लेखक अभिलाष (Abhilash) अब इस दुनिया में नहीं रहे. कैंसर के चलते उन्होंने आज सुबह 4:00 बजे इस दुनिया को अलविदा (Lyricist Abhilash Passes Away) कह दिया. अभिलाष बीते दिनों ही लिवर कैंसर से पीड़ित पाए गए थे. जिसके बाद उनके लिवर ट्रांसप्लांट की तैयारी की जा रही थी. लेकिन, हालत बिगड़ने के बाद मुंबई में उनका निधन हो गया.

अभिलाष ने ’लाल चूड़ा’ (1974) ‘सावन को आने दो’ (1979), ‘अंकुश’ (1986) जैसी फिल्मों के गाने लिखे हैं. दो दिन पहले गीतकार के लिवर कैंसर से पीड़ित होने की जानकारी सामने आई थी. इसी साल मार्च में अभिलाष की पेट की अंतड़ियों का भी ऑपरेशन हुआ था. जिसके बाद से उन्हें चलने फिरने में परेशानी आने लगी. अभिलाष ने मुंबई के गोरेगांव स्थित अपने घर में अंतिम सांस ली.

ये भी पढ़ेंः अंकिता लोखंडे ने बीमार पिता के लिए लिखी दिल छू लेने वाली पोस्ट, आप भी पढ़ें



पूर्व राष्ट्रपति ज्ञानी जैल सिंह द्वारा कलाश्री अवॉर्ड से सम्मानित अभिलाष का 'इतनी शक्ति हमें देना दाता' आज भी काफी मशहूर है. ये गाना आज देश की कई स्कूलों की प्रार्थना का हिस्सा है. उल्लेखनीय है कि गाने का दुनियाभर में 8 भाषाओं में अनुवाद हो चुका है. 'इतनी शक्ति हमें देना दाता' के अलावा अभिलाष के 'तुम्हारी याद के सागर में', 'संसार है इक नदिया' और 'सांझ भई घर आ जा' जैसे गाने भी काफी लोकप्रिय हुए थे.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज