कभी थे कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया के सदस्य, दिलचस्प है मिथुन चक्रवर्ती का राजनीतिक सफर

अभिनेता बनने से पहले मिथुन चक्रवर्ती एक नक्सली नेता थे. (News18)

अभिनेता बनने से पहले मिथुन चक्रवर्ती एक नक्सली नेता थे. (News18)

70 वर्षीय मिथुन चक्रवर्ती (Mithun Chakraborty) ने भारतीय जनता पार्टी (BJP) का दामन थाम लिया. यह पहला मौका नहीं है जब मिथुन दा ने किसी राजनीतिक पार्टी का दामन थामा है. अपने छात्र जीवन में वो कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया के सदस्य रहे थे.

  • News18Hindi
  • Last Updated: March 10, 2021, 6:11 PM IST
  • Share this:
नई दिल्ली. बॉलीवुड में डिस्को डांसर के नाम से मशहूर मिथुन चक्रवर्ती (Mithun Chakraborty) का फिल्मों का सफर काफी सुहाना रहा है. वहीं अगर बात करें उनके राजनैतिक सफर की तो इस राह पर भी मिथुन दा ने काफी दिलचस्प मोड़ देखे हैं. हाल ही में मिथुन चक्रवर्ती ने भारतीय जनता पार्टी (Bhartiya Janta Party) का दामन थाम लिया. बहुत कम लोग जानते हैं कि मिथुन चक्रवर्ती अपने छात्र जीवन में कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (मार्क्सिस्ट-लेनिस्ट) के सदस्य रहे हैं.

एक्टर मिथुन चक्रवर्ती बॉलीवुड के उन मशहूर एक्टर्स में से एक हैं जिन्होंने बिना किसी फिल्मी बैकग्राउंड के इंडस्ट्री में अपनी पहचान बनाई. पुणे के फिल्म इंस्टीट्यूट FTII में दाखिला लेने से पहले मिथुन कम्युनिस्ट पार्टी ऑफ इंडिया (मार्क्सिस्ट) के सदस्य थे. वे 60 के दशक में स्थापित हुए नक्सली आंदोलन में सक्रिय थे. उनको अर्बन नक्सल कहा जाता था. 70 वर्षीय मिथुन चक्रवर्ती का जन्म 16 जून, 1950 को कोलकाता में हुआ था. उनका असली नाम गौरांग चक्रवर्ती है. उन्होंने यह नाम कभी फिल्मों में इस्तेमाल नहीं किया है.

फिल्मों की ओर रुख करने से पहले मिथुन चक्रवर्ती नक्सली नेता थे. उनके एकलौते भाई की करंट लगने की वजह से मौत हो गई थी. इस दुखद घटना की वजह से उन्हें वो रास्ता छोड़कर परिवार के पास वापस लौटना पड़ा. जब मिथुन दा नक्सलियों के साथ थे तब वो उस दौर के लोकप्रिय नक्सल नेता रवि राजन के दोस्त बन गए थे जिन्हें उनके दोस्त 'भा' कहकर पुकारते थे जिसका मतलब सबसे बड़ा रक्षक होता है.



मिथुन चक्रवर्ती, Mithun Chakraborty, BJP, TMC, Bollywood Actor, communist party of india
मिथुन चक्रवर्ती (YouTube Grab)



1976 में मिथुन दा ने बॉलीवुड में डेब्यू निर्देशक मृणाल सेन की फिल्म 'मृगया' से किया. इस फिल्म में मिथुन दा के काम की बहुत तारीफ हुई और उन्हें इसके लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता के राष्ट्रीय फिल्म पुरस्कार से नवाजा गया. बतौर लीड एक्टर उनकी पहली बॉलीवुड फिल्म 'मुक्ति' थी. इसके बाद उन्होंने कई फिल्में की और जल्दी ही हिन्दी फिल्म जगत में अच्छा मुकाम हासिल कर लिया. साल 1982 में आई फिल्म 'डिस्को डांसर' ने उन्हें देश के एक-एक घर तक पहुंचा दिया.

वामदल के प्रति मिथुन का झुकाव सर्वविदित है. साल 2014 में उन्होंने वर्तमान में राज्य की सत्ता पर काबिज ममता बनर्जी की टीएमसी के सदस्य बने थे. टीएमसी ने उन्हें राज्यसभा सदस्य के रूप में संसद में भेजा था जहां वो अप्रैल 2014 से दिसंबर 2016 तक रहे. लेकिन इसके बाद उन्होंने पार्टी और राज्यसभा सांसद के पद से इस्तीफा दे दिया.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज