नेपोटिज्म पर बोलीं बीजेपी सांसद रूपा गांगुली, 'नहीं देखूंगी ऐसे एक्टर्स की फिल्में'

रूपा गांगुली.
रूपा गांगुली.

बीजेपी सांसद रूपा गांगुली (Roopa Ganguly) ने कहा, ‘अब मैं ऐसे कलाकारों की फिल्में नहीं देखूंगी, जिन्होंने देश को संदेश दिया है कि छोटे शहरों के लड़कों और लड़कियों को फिल्म इंडस्ट्री में नहीं आना चाहिए.

  • Share this:
सुशांत सिंह राजपूत (Sushant Singh Rajput) की आत्महत्या के बाद से फिल्म इंडस्ट्री के अंदर से भेदभाव से लेकर भाई-भतीजावाद (Nepotism), बाहरी और फिल्म इंडस्ट्री का, फिल्म इंडस्ट्री के बड़े परिवार या किसी गॉडफादर से जुड़ा होने और बिना गॉडफादर के संघर्ष करने वाले जैसे सवाल उठाए जा रहे हैं. 14 जून को सुशांत अपने बांद्रा स्थित अपार्टमेंट में मृत पाए गए थे.

ऐसे सवाल अभिनव सिंह कश्यप, कंगना रनौत, कोएना मित्रा, अनुभव सिन्हा, निर्माता निखिल दिवेदी के साथ हेयर स्टाइलिस्ट सपना मोती भवनानी और खेल जगत की बबीता फोगाट जैसे तमाम लोगों ने उठाए हैं. अभिनव के अलावा शेखर कपूर जैसे फिल्म डायरेक्टर और कई राजनेताओं ने भी सुशांत सिंह राजपूत को प्रोफेशनल तौर पर परेशान किए जाने के आरोप लगाए हैं. इनमें अब एक और नाम जुड़ गया है, वह है बीजेपी सांसद और एक्ट्रेस रूपा गांगुली का. उन्होंने कहा है कि वे कुछ बॉलीवुड एक्टर्स की फिल्मों का बहिष्कार करेंगी, जो खुलकर फिल्म इंडस्ट्री में नेपोटिज्म फैला रहे हैं.

गांगुली ने कहा कि,  ‘अब मैं ऐसे कलाकारों की फिल्में नहीं देखूंगी, जिन्होंने देश को संदेश दिया है कि छोटे शहरों के लड़कों और लड़कियों को फिल्म इंडस्ट्री में नहीं आना चाहिए. नेपोटिज्म हर जगह हो, पैरेंट्स अपने बच्चों की मदद करें लेकिन इतना भी नेपोटिज्म नहीं होना चाहिए कि इसके कारण कुछ लोगों को अपनी जान से हाथ धोना पड़े.’ गांगुली लगातार सुशांत के निधन की जांच सीबीआई से कराने की मांग कर रही हैं. #cbiforsushant से उनकी ट्विटर टाइमलाइन में कई ट्वीट्स हैं.





रूपा ने उठाए ये सवाल
उन्होंने सवाल किया कि, ‘सुशांत की मौत के तुंरत बाद कहा गया कि वे अवसाद में थे इसीलिए उन्होंने आत्महत्या की है. सुसाइड नोट के बिना पुलिस ने पोस्टमॉर्टम से पहले इसे आत्महत्या कैसे कहा? अब भी कई सवाल हैं. उसके शरीर पर इतने सारे निशान क्यों थे? पुलिस ने अभी तक उसके घर को सील क्यों नहीं किया? सुशांत का कुत्ता कहां है?’

उन्होंने सवाल उठाते हुए यह भी कहा है कि, क्या यह संभव नहीं है कि किसी ने उसकी हत्या करके उसके शरीर को बेडरूम में बंद कर दिया हो और कहा कि चाबी खो गई थी? अभी तक किसी को गिरफ्तार क्यों नहीं किया गया? पुलिस यह साबित नहीं कर सकी है कि यह आत्महत्या है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज