Home /News /entertainment /

Afghanistan Crisis: कबीर खान ने जब तालिबान की धमकियों के बीच जान की बाजी लगाकर की थी शूटिंग

Afghanistan Crisis: कबीर खान ने जब तालिबान की धमकियों के बीच जान की बाजी लगाकर की थी शूटिंग

फिल्म 'काबुल एक्ट्रेस' 2006 में रिलीज हुई थी. (पोस्टर)

फिल्म 'काबुल एक्ट्रेस' 2006 में रिलीज हुई थी. (पोस्टर)

बॉलीवुड को फिल्म 'काबुल एक्प्रेस' (Kabul Express) के बहाने अफगानिस्तान की फिजा को करीब से महसूस करने का मौका मिला था. फिल्म के डायरेक्टर कबीर खान ने रोंगटे खड़े कर देने वाला अपना अनुभव बयां किया था.

    नई दिल्लीः कबीर खान (Kabir Khan) ने फिल्म ‘काबुल एक्ट्रेस’ (Kabul Express) से बतौर डायरेक्टर बॉलीवुड में कदम रखा था. कबीर खान ने अपनी पहली ही फिल्म में अफगानिस्तान जाकर बड़ा जोखिम उठाया था. तालिबान की मौजूदगी में किसी फिल्म की शूटिंग करना, जिंदगी और मौत के बीच झूलने जैसा था. फिल्म ने अपनी दिलचस्प कहानी से दर्शकों को प्रभावित किया था. लेकिन, इससे भी ज्यादा दिलचस्प है इसके बनने की कहानी. यह फिल्म 2006 में रिलीज हुई थी. आइये, जानते हैं इस फिल्म के बनने की रोमांचक दास्तां.

    फिल्म में पांच किरदारों को दिखाया गया है, जिनका बर्बाद हो चुके काबुल से सामना होता है. इनमें दो भारतीय, एक अमेरिकी, एक अफगानी और एक पाकिस्तानी है. उन्हें जगह-जगह टूटे टैंक, गोला-बारूद से बर्बाद हो चुका काबुल नजर आता है. यह फिल्म यश राज फिल्म्स के बैनर तले बनी है. आदित्य चोपड़ा के पास फिल्म की कहानी कबीर खान लेकर पहुंचे थे, जो उस समय एक जाने-माने डॉक्यूमेंट्री फिल्ममेकर थे. उन्होंने तालिबान के शासन में तबाह हो चुके अफगानिस्तान पर डॉक्यूमेंट्री बनाई थी. वे डॉक्यूमेंट्री शूट करने के लिए 10 बार अफगानिस्तान गए थे.

    फिल्म हकीकत के काफी करीब है. आजतक की रिपोर्ट के अनुसार, एक अफगानी का किरदार निभाने वाले एक्टर हनीफ को तो तालिबानियों ने एक्टिंग करियर चुनने की वजह से बेरहमी से पीटा था. वे छह महीने तक उनकी कैद में रहे थे. उन्हें खुद को छुड़ाने के लिए अपना घर तक बेचना पड़ा था और पुलिस को रिश्वत देनी पड़ी थी. एक इंटरव्यू में कबीर खान ने बताया था कि उनकी टीम को तालिबान ने जान से मारने की धमकी दी थी. हालांकि, वहां की सरकार ने उन्हें पूरी सुरक्षा देने का वादा किया था.

    मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार, कबीर शूट के दौरान हो रही एक्टिविटीज को अपनी डायरी में लिखते थे. उन्होंने अपनी डायरी में एक जगह लिखा था कि शूटिंग लोकेशन पर पहुंचने से 10 मिनट पहले ब्लास्ट हुआ था, जिसके बाद सिक्योरिटी ने रास्ता बदल लिया था. उन्होंने बताया था कि तालिबान उन पर नजर रखते थे.

    ये भी पढ़ें: Kareena Kapoor OTT Debut: करीना कपूर शर्तों पर करेंगी डिजिटल डेब्यू, मेकर्स से की ये डिमांड

    एक भारतीय इंजीनियर की सर कटी लाश मिलने के बाद, कबीर के साथ उनकी पूरी टीम की सुरक्षा बढ़ा दी गई थी. करीब 60 कमांडो शूटिंग के समय उनकी सुरक्षा के लिए तैनात रहते थे. फिल्म की शूटिंग का सबसे खतरनाक मंजर वह था जब कबीर शूटिंग शुरू करने के लिए आवाज लगा रहे थे. तब उनके पास से एक गोली सन्न करती हुई निकली थी. अरशद ने फिल्म के अनुभव को लेकर कहा था कि वहां मोबाइल से ज्यादा बंदूके हैं.

    Tags: Bollywood, Taliban afghanistan

    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर