'तांडव' के बाद अब 'मिर्जापुर' के निर्माताओं की बढ़ी मुश्किलें, सुप्रीम कोर्ट ने जारी किया नोटिस

शिकायत में कहा गया है कि इस वेब सीरीज का मिर्जापुर पर खराब असर पड़ा है.

गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट ने 'मिर्जापुर (Mirzapur)' और अमेजन प्राइम वीडियो के मेकर्स और प्रोड्यूसर्स को एक नोटिस जारी किया गया.

  • Share this:
    नई दिल्ली. वेब सीरीज 'तांडव (Tandav)' के बाद अमेजन प्राइम वीडियो (Amazon Prime Video) को अपनी एक और वेब सरीजी 'मिर्जापुर (Mirzapur)' की वजह से मुश्किलों का सामना करना पड़ रहा है. गुरुवार को सुप्रीम कोर्ट ने 'मिर्जापुर' और अमेजन प्राइम वीडियो के मेकर्स और प्रोड्यूसर्स को एक नोटिस जारी किया गया, जिसमें यूपी के मिर्जापुर जिले को गलत तरीके से प्रजेंट किए जाने की शिकायत की गई है. शिकायत में कहा गया है कि इस वेब सीरीज का मिर्जापुर पर खराब असर पड़ा है और इसकी छवि को खराब किया गया है.

    सुप्रीम कोर्ट ने ओटीटी प्लेटफॉर्म और सीरीज निर्माताओं से प्रतिक्रिया मांगी हैं. 'मिर्जापुर' सीरीज मुसीबतों के लिए नई नहीं है, यह पिछले साल रिलीज होने के बाद से विवादों में घिरी हुई है. मिर्जापुर के सांसद और अपना दल के राष्ट्रीय अध्यक्ष अनुप्रिया पटेल ने भी इसके खिलाफ जांच की मांग की थी. पटेल ने यह कहते हुए वेब सीरीज पर प्रतिबंध लगाने की मांग की थी कि यह जातीय भेदभाव फैला रहा है.



    सांसद ने यह भी आरोप लगाया था कि हाल ही में अमेजन प्राइम पर जारी की गई सीरीज, मिर्जापुर की छवि को 'हिंसक' क्षेत्र के रूप में चित्रित कर रही थी. उन्होंने तब पत्रकारों से कहा था कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के नेतृत्व में, मिर्जापुर 'सौहार्द का केंद्र' है और इस मामले की जांच होनी चाहिए और उनकी छवि को खराब करने के लिए जिम्मेदार लोगों के खिलाफ सख्त कार्रवाई होनी चाहिए. बता दें, 'मिर्जापुर' परिवारों, राजनीति और चुनावों में संघर्ष की एक हिंसक कहानी है. इसमें श्वेता त्रिपाठी शर्मा, पंकज त्रिपाठी अली फजल और दिव्येंदु शर्मा मुख्य भूमिकाओं में हैं.

    पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.