फ्लॉप फिल्मों के बाद मोहनीश बहल ने सोचा करियर खत्म हो गया, वे पायलट बनना चाहते थे

एक्टर मोहनीश बहल.

एक्टर मोहनीश बहल.

मोहनीश बहल (Mohnish Behl) ने बताया कि उन्होंने ‘मैंने प्यार किया (Maine Pyar Kiya)’ से पहले फ्लॉप फिल्मों की झड़ी लगा दी थी और सोचा था कि उनका करियर खत्म हो गया है. वे पायलट बनने की योजना बना रहे थे. उसी दौरान सलमान खान ने विलेन के रोल के लिए उनका नाम सुझा दिया.

  • News18Hindi
  • Last Updated: January 2, 2021, 4:31 PM IST
  • Share this:

मुंबई. मोहनीश बहल (Mohnish Behl) ने 1983 में फिल्म ‘बेकरार’ में सपोर्टिंग रोल करके बॉलीवुड में अपने करियर का आगाज किया, लेकिन फिल्म व्यावसायिक रूप से विफल हो गई. उन्होंने उसके बाद फ्लॉप फिल्मों की झड़ी लगा दी और सोचा कि बॉलीवुड में उनका करियर खत्म हो गया है, जब तक ‘मैंने प्यार किया (Maine Pyar Kiya)’ की सफलता के बाद उनके लिए चीजें नहीं बदली थीं.

बॉलीवुड में विफलताओं से निराश, मोहनीश पायलट बनने की योजना बना रहे थे और कॉमर्शियल फ्लाइंग लाइसेंस पाने के लिए काम कर रहे थे. हालांकि, ये सारीं चीजें तब बदल गई, जब सलमान खान ने ‘मैंने प्यार किया’ में विलेन का रोल करने के लिए मोहनीश के नाम की सिफारिश कर दी.

उन्होंने कहा, 'मैंने प्यार किया’ फिल्म से न केवल मैंने अपने करियर की शुरुआत की थी बल्कि इसे खत्म भी किया. मुझे लगा कि मैं कुछ फ्लॉप फिल्मों के बाद समाप्त हो गया हूं और पायलट बनने की योजना बनाने लगा. मैं कॉमर्शियल फ्लाइंग लाइसेंस पाने पर काम करने लगा क्योंकि मैं एविशन सेक्टर में कुछ ऐसा करना चाहता था, जो मुझे पसंद है.

टाइम्स ऑफ इंडिया को दिए एक इंटरव्यू में मोहनीश ने कहा, ‘एक दिन सलमान खान और मैं एक दूसरे से टकरा गए और हम दोस्त बन गए. वे फिल्म निर्माण के व्यवसाय में भी उतरने की कोशिश कर रहे थे, इसलिए जब उन्हें एमपीके में ब्रेक मिला, तो उन्होंने विलेन के रोल के लिए मेरे नाम की सिफारिश कर दी. मेरे लिए उन दिनों खलनायक की भूमिका करना काफी मुश्किल था, क्योंकि मैं एक फ्लॉप हीरो था. इस परिस्थिति में मैंने खलनायक की भूमिका निभाई, लेकिन कभी यह उम्मीद नहीं की कि यह मेरे लिए एक वास्तविक करियर की शुरुआत होगी, जो मुझे 30 साल बाद भी व्यवहार्य बनाता है.
सूरज बड़जात्या द्वारा निर्देशित, ‘मैंने प्यार किया’ में सलमान और भाग्यश्री ने मुख्य भूमिकाओं में काम किया था, जिसमें मोहनीश विलेन की भूमिका में थे. फिल्म 1989 की सबसे ज्यादा कमाई करने वाली फिल्म थी और इसे आज भी क्लासिक माना जाता है. ‘मैंने प्यार किया’ की सफलता के साथ मोहनीश ने अपने करियर को फिर से बनाया और कई सफल फिल्मों में अभिनय किया, जिनमें ‘हम आपके हैं कौन’, राजा हिंदुस्तानी, हम साथ साथ हैं और कहो ... प्यार है. उन्हें आखिरी बार हिस्टोरिकल बैकग्राउंड पर बनी फिल्म ‘पानीपत’ में बड़े पर्दे पर देखा गया था.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज