अक्षय कुमार की फिल्म 'लक्ष्मी बॉम्ब' पर धर्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप, रिलीज पर रोक लगाने की उठी मांग

लक्ष्मी बॉम्ब का पोस्टर
लक्ष्मी बॉम्ब का पोस्टर

अक्षय कुमार (Akshay Kumar) की फिल्म 'लक्ष्मी बॉम्ब' (Laxmmi Bomb) को लेकर पिछले काफी दिनों से विवाद चल रहा है. पहले लव जिहाद तो वहीं अब इस फिल्म पर हिंदु जनजागृती समिती (Hindu Janajagruti Samiti) ने धर्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप लगाया है.

  • News18Hindi
  • Last Updated: October 16, 2020, 11:09 PM IST
  • Share this:
मुंबई. इन दिनों बॉलीवुड (Bollywood) की कई बड़ी फिल्मों को लेकर जबरदस्त चर्चाएं हैं. वहीं इस बीच बॉलीवुड के खिलाड़ी यानी एक्टर अक्षय कुमार (Akshay Kumar) ने भी अपनी आने वाली फिल्म 'लक्ष्मी बॉम्ब' (Laxmmi Bomb) का ऐलान कर दिया है. इस फिल्म का ट्रेलर रिलीज हो चुका है, जिसे सोशल मीडिया पर काफी पसंद भी किया जा रहा है. इसके साथ ही इस फिल्म पर तरह-तरह के सवाल भी उठ रहे हैं. सिर्फ यही नहीं इन सवालों के कारण फिल्म की रिलीज पर रोक लगाने की मांग भी की जा रही है. फिल्म पर लव जिहाद को लेकर आरोप पहले ही लग रहे थे, वहीं अब इस पर धर्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाने का आरोप भी लगाया जा रहा है. जिसके कारण हिंदु जनजागृती समिती ने फिल्म का विरोध शुरू कर दिया है.

हिंदु जनजागृती समिती के राष्ट्रीय प्रवक्ता रमेश शिंदे का कहना है कि- 'अक्षय कुमार की फिल्म लक्ष्मी बॉम्ब दीवाली के मौके पर रिलीज हो रही है, जिसके कारण जानबूझ कर इस फिल्म को 'लक्ष्मी बॉम्ब' नाम दिया गया है. जो श्री लक्ष्मी देवी का अपमान है, जिन्हें करोड़ों हिंदू पूजते हैं. जहां एक तरफ हम लोगों को प्रेरित कर रहे हैं कि वो 'लक्ष्मी पटाखे' ना छुडाएं, वहीं दूसरी तरफ ये फिल्म ऐसे लोगों को और भी बढ़ावा देगी'.





उन्होंने कहा- 'इसके अलावा इस फिल्म में हीरो का नाम आसिफ है और हीरोइन का नाम प्रिया यादव है. इसके जरिए लव जिहाद को बढ़ावा दिया जा रहा है. इसलिए फिल्म 'लक्ष्मी बॉम्ब' की स्क्रीनिंग पर फौरन रोक लगाई जानी चाहिए'. वहीं रमेश शिंदे ने ये भी कहा है कि 'फिल्म मोहम्मद: द मैसेंजर ऑफ गॉड' ने मुस्लिमों की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुंचाई थी और महाराष्ट्र से होम मिनिस्टर ने खुद इस फिल्म पर बैन लगवाया था. इसी तरह 'लक्ष्मी बॉम्ब' पर बैन लगाया जाना चाहिए'.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज