अक्षय कुमार ने बप्पा मोरया से की प्रार्थना- विघ्नहर्ता मुश्किल समय से बाहर निकलने में मदद करें

अक्षय कुमार ने बप्पा मोरया से की प्रार्थना- विघ्नहर्ता मुश्किल समय से बाहर निकलने में मदद करें
अक्षय कुमार.

अक्षय कुमार (Akshay Kumar) ने ट्विटर पर तस्वीरों के साथ लिखा, ‘गणपति बप्पा मोरया.’ अपनी आगामी फिल्म ‘बेल बॉटम (Bell Bottom)’ की शूटिंग के सिलसिले में फिलहाल ब्रिटेन में मौजूद अक्षय ने हर किसी से सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करने को कहा.

  • News18Hindi
  • Last Updated: August 22, 2020, 8:37 PM IST
  • Share this:
मुंबई. देशभर में शनिवार को 10 दिवसीय गणेश चतु​र्थी उत्सव (Ganesh Chaturthi) की शुरुआत हो गई. इस बार का त्योहार कोरोना वायरस महामारी के साए में मनाया जा रहा है. इसी कारण से इस साल त्योहार में हर साल की तरह धूमधाम का अभाव है. बॉलीवुड एक्टर अक्षय कुमार (Akshay Kumar) ने भी गणेश चतुर्थी की शुभकामनाएं दी हैं.

उन्होंने तस्वीरों के साथ लिखा, ‘गणपति बप्पा मोरया.’ अपनी आगामी फिल्म ‘बेल बॉटम (Bell Bottom)’ की शूटिंग के सिलसिले में फिलहाल ब्रिटेन में मौजूद अक्षय ने हर किसी से सामाजिक दूरी के नियमों का पालन करने को कहा.

उन्होंने आधिकारिक ट्विटर अकाउंटर पर लिखा है, ‘आपको और आपके परिवार को गणेश चतुर्थी की शुभकामनाएं. कृपया सामाजिक दूरी के नियमों का पालन जारी रखें, लोगों को घर पर बुलाने और लागों के घर जाने से बचें. हमारे विघ्नहर्ता इस मुश्किल समय से बाहर निकलने में मदद करें. गणपति बप्पा मोरया!’





इस अवसर पर अनिल कपूर, अनुपम खेर, अल्लू अर्जुन, शिल्पा शेट्टी कुंद्रा, सोनू सूद, नील नितिन मुकेश आदि बॉलीवुड के कलाकारों ने भी शुभकामनाएं दीं. विनायक चतुर्थी के नाम से भी यह त्योहार मनाया जाता है. यह भाद्रपद मास के चौथे दिन (चतुर्थी) से शुरू होता है. यह 10 वें दिन अनंत चतुदर्शी को गणपति प्रतिमाओं के विसर्जन के साथ संपन्न होता है.

महाराष्ट्र सरकार ने गणेश उत्सव के संबंध में दिशा-निर्देश जारी किया है और कहा है कि भगवान गणेश की प्रतिमा की प्राण प्रतिष्ठा और इसके विसर्जन से पहले किसी प्रकार का जुलूस नहीं निकाला जाना चाहिए. दिशा-निर्देश में कहा गया है कि इस साल सार्वजनिक पंडालों में और घरों में आयोजित होने वाली इस पूजा में भगवान गणेश की प्रतिमा की उंचाई को सीमित कर दिया गया है.

प्रतिमा की ऊंचाई अधिकतम चार फुट
पंडालों के लिए प्रतिमा की ऊंचाई अधिकतम 4 फुट और घरों पर स्थापना के लिए अधिकतम दो फुट होनी चाहिए. इसके कारण घरों में हाउसिंग सोसाइटियों में और सार्वजनिक पंडालों में गणपति की प्राण प्रतिष्ठा के लिए प्रतिमा खरीदने वाले लोगों की संख्या सीमित रही. महामारी के कारण इस साल इस उत्सव को लेकर उत्साह अपेक्षाकृत कम है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज